Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

सोमवार, 27 जुलाई 2020

राजस्थान में जारी है,सियासी संग्राम, भाजपा और कांग्रेस के इस संग्राम में बसपा भी कूद पड़ी है

राजस्थान सरकार बचाने और गिराने में खुलेआम हो रही है,विधायकों की खरीद फरोख्त...
विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र वाले देश भारत में मजाक बनकर रह गया,कथित लोकतंत्र...
 संकट के दौर में हैं राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत...
राजस्थान के सियासी संग्राम में सोमवार सुबह बड़ा बदलाव हुआ राजस्थान विधानसभा के स्पीकर सीपी जोशी ने हाईकोर्ट के जिस फैसले के खिलाफ याचिका दायर की थी, उसे वापस ले लिया है सुप्रीम कोर्ट ने याचिका वापस लेने की अपील स्वीकार कर ली है कांग्रेस की ओर से लड़ाई को अब अदालत की बजाय राजनीतिक रूप से लड़ने पर विचार किया जा रहा है हालांकि, कांग्रेस शुक्रवार को आए हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती दे सकती है
03.30PM: राजस्थान में राजभवन की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि राज्यपाल सत्र बुलाने पर सहमत हैं। मगर संवैधानिक तौर तरीकों के अनुसार सत्र बुलाया जाना चाहिए राज्यपाल ने सत्र बुलाने के लिए तीन शर्तें रखी हैं
03.25 PM: राजस्थान हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है, जिसमें राज्यपाल कलराज मिश्र को हटाने की मांग की गई है वकील शांतनु पारेख के द्वारा दाखिल याचिका में केंद्र सरकार को पार्टी बनाया गया है
02.30 PM: राजस्थान कांग्रेस की ओर से राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को एक ज्ञापन भेजा गया है जिसमें राज्य में जारी राजनीतिक संकट को लेकर अवगत कराया गया है
02.12 PM: राजस्थान हाईकोर्ट ने बहुजन समाज पार्टी के विलय पर भाजपा विधायक मदन दिलावर की याचिका खारिज कर दी है बहुजन समाज पार्टी के विधायकों ने कांग्रेस में विलय किया था, जिसपर बवाल हुआ था
01.26 PM: राजस्थान हाईकोर्ट ने राज्य के महाधिवक्ता से कहा है कि बसपा विधायकों को लेकर विधानसभा स्पीकर का क्या फैसला है ? इसके बारे में दो बजे तक सूचना दें, फिर आगे की सुनवाई होगी
 01.10 PM: राजस्थान हाईकोर्ट में बहुजन समाज पार्टी की याचिका पर सुनवाई शुरू हो गई है। जस्टिस महेंद्र गोयल इस मामले को सुन रहे हैं BSP ने अपने उन विधायकों को लेकर याचिका लगाई है, जिन्होंने कांग्रेस का दामन थाम लिया था
01.01 PM: विधायकों को संबोधित करते हुए अशोक गहलोत ने कहा कि सरकार को सत्र बुलाने का अधिकार है इसी के साथ उन्होंने राहुल गांधी, सोनिया गांधी का शुक्रिया किया, क्योंकि अब राजस्थान की लड़ाई राष्ट्रव्यापी हो गई है सरकार के प्रस्ताव को राज्यपाल को मंजूरी देनी होगी
11.36 AM: स्पीकर सीपी जोशी की ओर से सुप्रीम कोर्ट में एक नई याचिका दायर की जाएगी जो कि शुक्रवार को आए हाईकोर्ट के फैसले को लेकर होगी
11.30 AM: राजस्थान में बसपा की ओर से हाईकोर्ट में पूरे मामले का पक्षकार होने की अर्जी दाखिल की गई है
हाईकोर्ट में आज ही इस मामले की सुनवाई होनी है
11.06 AM: राजस्थान विधानसभा के स्पीकर सीपी जोशी ने अपनी याचिका सुप्रीम कोर्ट से वापस ले ली हैकपिल सिब्बल ने अदालत को ये जानकारी दी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका वापस लेने की बात को स्वीकार कर लिया है। हालांकि, सुप्रीम कोर्ट में कपिल सिब्बल ने कहा कि वो शुक्रवार को आए हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती दे सकते हैं
10.57 AM: दिल्ली में कांग्रेस पार्टी राजस्थान के मसले पर विरोध प्रदर्शन कर रही है यहां दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अनिल चौधरी को हिरासत में ले लिया गया है
10.50 AM: सुप्रीम कोर्ट में होने वाली सुनवाई के दौरान स्पीकर की ओर से वकील कपिल सिब्बल हाईकोर्ट के फैसले की जानकारी देंगे दूसरी पक्ष से हरीश साल्वे अपना पक्ष रखेंगे
10.38 AM: राजस्थान के मामले में बड़ा ट्विस्ट सामने आ रहा है विधानसभा स्पीकर सीपी जोशी सुप्रीम कोर्ट में डाली अपनी याचिका वापस ले सकते हैं आज ही सुबह 11 बजे इस याचिका पर सुनवाई होनी थी. कांग्रेस की कोशिश अब अदालती नहीं बल्कि राजनीतिक लड़ाई लड़ने की है
10.26 AM: अब से कुछ देर में राजस्थान स्पीकर की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू होगी पिछली सुनवाई में अदालत ने HC के फैसले का इंतजार करने को कहा था
09.50 AM: राजस्थान के राजभवन ने एक बार फिर विधानसभा सत्र बुलाने की अपील को ठुकरा दिया हैराजभवन की ओर से फाइल को संसदीय कार्य विभाग को वापस दिया गया और कुछ सवाल पूछे गए
07.50 AM: राजस्थान में अब कांग्रेस की ओर से राजभवन का घेराव नहीं किया जाएगा. पार्टी को डर है कि अगर ऐसा हुआ तो राजस्थान में राष्ट्रपति शासन लग सकता है। यही कारण है कि इस फैसले को अभी रोक दिया गया है

सुप्रीम कोर्ट में किस मामले की सुनवाई होगी...?
सचिन पायलट गुट की याचिका पर राजस्थान हाईकोर्ट ने बीते हफ्ते फैसला सुनाया था जिसमें स्पीकर द्वारा दिए गए नोटिस पर स्टे लगा दिया गया, जिससे पायलट गुट को अयोग्य करार दिए जाने से राहत मिल गईइसी मामले पर स्पीकर ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था, जिसपर अब सुनवाई होगी सर्वोच्च अदालत में स्पीकर और कोर्ट के अधिकार पर मंथन हो सकता है

जंग में बसपा की एंट्री, हाईकोर्ट तक गुहार...
राजस्थान की इस सियासी जंग में बहुजन समाज पार्टी की धमाकेदार एंट्री हुई है बसपा ने अपने उन 6 विधायकों के नाम व्हिप जारी किया है, जो कांग्रेस का दामन थाम चुके हैं दावा किया है कि वोटिंग में कांग्रेस के खिलाफ वोट करें, अन्यथा उन्हें अयोग्य साबित किया जा सकता है व्हिप से इतर हाईकोर्ट में याचिका डालकर 10th शेड्यूल के मसले को उठाया गया है, जिसपर सोमवार को ही सुनवाई होनी है

अब राजनीतिक लड़ाई लड़ेगी कांग्रेस...
राजस्थान का पूरा मामला अब कानूनी हो चला है, लेकिन कांग्रेस की ओर से इस लड़ाई को राजनीतिक बनाने की भी कोशिश है राज्यपाल के द्वारा अभी विधानसभा का सत्र बुलाने से इनकार किया गया है इसके अलावा देश के अलग-अलग राजभवन, जिला मुख्यालय के घेराव की बात कही गई है आपको बता दें कि अशोक गहलोत की ओर से कई बार अपील की गई है कि विधानसभा का सत्र बुलाया जाए, ताकि सरकार बहुमत साबित कर सके हालांकि, राज्यपाल ने अभी कोरोना वायरस का हवाला दिया है इसको लेकर कांग्रेस विधायक राजभवन में धरने पर भी बैठे थे साथ ही अशोक गहलोत से लेकर राहुल गांधी, प्रियंका गांधी ने भी भाजपा पर निशाना साधा था

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें