बहुत कठोर कानून है इस जनअदालत का इसमें फैसला भी तुरन्त होता और इसकी सबसे बड़ी ताक़त यह है कि इसके फैसले को अनदेखा नहीं किया जा सकता।

1:49:00 pm 0 Comments Views

जो मन में आएं वो लिख डालों और भड़ैंती की लिस्ट में शामिल हो लों...!!! 
मामला दो दिन पहले का है। #वंदे_भारत ट्रेन का उदघाटन प्रधानमंत्री ने किया था। वाराणसी से वापसी में किसी जानवर के फंस जाने से ट्रेन में हल्की तकनीकी खराबी आ गयी। यह खबर मिलते ही पुलवामा हमले के बाद से सन्नाटे में सत्तारी बैठा राहुल गांधी एकदम से बहका और ट्विटर में प्रधानमंत्री मोदी तथा रेलमंत्री पीयूष गोयल पर बुरी तरह टूट पड़ा। उसकी चमचागिरी में एक बहुत बड़ी बंगलौरी सेलिब्रिटी उद्योगपति किरण मजूमदार शॉ भी #_वंदे_भारत ट्रेन के खिलाफ ट्विटर पर मुजरा करने लगीं।
खुद को न्यूट्रल/सेक्युलर/लिबरल/नॉन पॉलिटिकल तमगों से सजाए रहनेवाली इन सेलिब्रेटाइन बहनजी की बॉयोकॉन नाम की दवा कम्पनी है। इनकी कांग्रेस परस्ती भी कोई रहस्य नहीं है। खुद को नॉन पॉलिटिकल भी कहती हैं। लेकिन ट्विटर पर हर उस विषय पर ज्ञान जरूर बांटती हैं जिसमें मोदी सरकार की निंदा-बदी की चटनी शामिल हों। पर इनपर कोई ध्यान नहीं देता था। रईसों की महफिलों में चमकने दमकने वाली इस रईस लेकिन बूढ़ी तितली के अंग्रेज़ी में किये गए ट्वीट्स का सामान्य आम आदमी से कोई लेनादेना नहीं रहता। इसलिए कोई ध्यान नहीं देता था। लेकिन देश के मूड से हज़ारों कोस दूर, फाइव स्टार जीवन शैली में रहने वाली इन सेलिब्रेटाइन बहनजी ने राहुल गांधी की चमचागिरी में #वंदे_भारत_ ट्रेन पर भी छींटाकशी कर दी। राहुल गांधी तो सोशलमीडिया में गाली खाने का लगभग अटूट वर्ल्ड रिकॉर्ड बना ही चुका है। इसलिए उसे तो अब कोई फर्क पड़ता नहीं लेकिन उसके चक्कर में सेलिब्रेटाइन बहनजी बहुत बुरी तरह फंस गईं क्योंकि इस ट्रेन की हर खबर पर सोशलमीडिया की बहुत पैनी नज़र थी। इसीलिए भारत की पहली विश्वस्तरीय ट्रेन #_वंदे_भारत_ की खिल्ली उड़ाने वाला ट्वीट करते ही सेलिब्रेटाइन बहनजी का मुकदमा सोशलमीडिया की अदालत में पहुंच गया। और दसों दिशाओं में इनके पुरखे तारे जाने लगे। सेलिब्रेटाइन बहनजी को कुछ ही घण्टों में समझ में आ गया कि उन्होंने बहुत गलत बयाना ले लिया है। परिणाम स्वरूप उन्होंने लगातार 2 ट्वीट कर के गलती सुधारी, अपनी करतूत के लिए माफी मांगी और #वंदेभारत ट्रेन की मुक्त कंठ से प्रशंसा की। यह कमाल सोशलमीडिया अदालत का ही था। अगर यह अदालत ना होती तो मीडिया में बहुत बड़ी खबर यही छपती/दिखती की सेलिब्रेटाइन बहनजी ने भी #वंदेभारत ट्रेन की आलोचना की। सेलिब्रेटाइन बहनजी के माफ़ीनामे वाले दोनों ट्वीट्स के स्क्रीन शॉट पोस्ट के साथ दे रहा हूं ताकि आपको यह अनुमान लग जाए कि सोशल मीडिया की जनअदालत में कितनी कठोर  कार्रवाई से बेचारी सेलिब्रेटाइन बहनजी को गुजरना पड़ा।

rameshrajdar

एक खोजी पत्रकार की सत्य खबरें जिन्हे पूरा पढ़े बिना आप रह ही नहीं सकते हैं ,इस खबर को पढ़ने के लिए............| Google || Facebook

0 टिप्पणियाँ: