Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

गुरुवार, 2 जुलाई 2020

स्कूल खुलने के पहले ही दिन बीएसए के निरीक्षण में मिली खामियां, दो बन्द स्कूलों के शिक्षकों पर गिरी गाज, सभी के वेतन आहरण पर अग्रिम आदेशो तक लगी रोक, मांगा स्पष्टीकरण

बीएसए के निरीक्षण से शिक्षको में मचा रहा हड़कम्प, बीएसए निरीक्षण अभियान जारी रहने का दिलाया भरोसा...

 प्रतापगढ़ बीएसए अशोक कुमार सिंह...
प्रतापगढ़। कोरोना महामारी के चलते तेरह मार्च से बन्द चल रहे विद्यालयों में पठन पाठन पूरी तरह से ठप है। विद्यालयों के बंद होने से विभागीय सूचनाये न मिलने के चलते बुधवार 1 जुलाई से स्कूलों  को खोल दिया गया है और शिक्षकों की उपस्थित नियमित कर दी गयी है। विद्यालयों में शिक्षको की उपस्थिति की हकीकत जानने के लिए बीएसए अशोक कुमार सिंह के बुद्धवार को जिले कई विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया।

बीएसए करीब 11.30 बजे लक्ष्मणपुर के पूरनपुर खजूर पहुंचे जहाँ शिक्षामित्र तारा देवी अनुपस्थित मिली। बीएसए ने एक दिन के मानदेय भुगतान पर रोक लगाते हुए स्पष्टीकरण तलब किया है। प्राथमिक विद्यालय जमालपुर में भी शिक्षामित्र प्रभा त्रिपाठी भी अनुपस्थित मिली जिनका भी एक दिन का मानदेय भुगतान पर रोक लगाते हुए स्पष्टीकरण मांगा गया। विकास खण्ड के ही प्राथमिक विद्यालय चमरुपुर का बीएसए ने 12.30 बजे निरीक्षण किया जहाँ विद्यालय बन्द मिला। विद्यालय के प्रधानाध्यापक विजय भारती, सहायक अध्यापक खुर्शीद आलम,रोहित कुमार, सहायक अध्यापिका श्रीमती मंजू देवी,श्रीमती सपना द्विवेदी,श्रीमती शिवा शुक्ला के वेतन आहरण पर अग्रिम आदेशों तक रोक लगाते हुए स्पष्टीकरण मांगा गया है। 

यही हाल प्राथमिक विद्यालय शमशेरगंज का भी रहा। विद्यालय में 12.40 बजे ताला लटकता मिला। विद्यालय के सहायक अध्यापक विनोद कुमार, अरुण कुमार, शिक्षा मित्र विमलेश कुमार व मीना जायसवाल के वेतन/मानदेय के आहरण पर अग्रिम आदेशो तक रोक लगाते हुए स्पष्टीकरण तलब किया है। बीएसए के ताबड़तोड़ चेकिंग के चलते समूचे जनपद के शिक्षको में हड़कम्प देखा गया। बीएसए अशोक कुमार सिंह ने कहा है कि चेकिंग अभियान जारी रहेगा लापरवाह किस्म के शिक्षको की जांच कर उनपर कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें