राजा भईया व प्रमोद तिवारी का हरि कनेक्शन

विधानसभा चुनाव-2017स्थान के पी कालेज के बगल मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जनसभा के लिए मुन्ना यादव के लिए आए थे तो सपा और कांग्रेस का गठबंधन होने की वजह से राजा भईया और प्रमोद तिवारी एक मंच पर आए और जनसभा के समाप्त होने के उपरांत राजा भईया स्वयं गाड़ी चलाते हुए अपनी बगल प्रमोद तिवारी को बैठाकर कम्पनी बाग अपनी कोठी प्रताप सदन तक गए और वहां चाय पीकर एक दूसरे से हालचाल जाना। उस वक्त दोनों पक्ष के कार्यकर्ता आपस में बहुत ही असहज थे। कार्यकर्ताओं का चेहरा देखता ही बन रहा था तो उसी में एक कार्यकर्ता बोल पड़ा कि नेता चुनाव जीतकर ऊपर एक हो जाते हैं। मरते तो नीचे स्तर पर कार्यकर्ता हैं वर्तमान में निकाय चुनाव-2017 का प्रचार-प्रसार चरम पर है तो आम जनता को एक बार ये जान लेना आवश्यक है कि कौन किससे जुड़ा है...???
दो दिग्गज प्रमोद तिवारी व राजा भईया साथ-साथ...
ऐसा नहीं हैं कि नगर में जब निकाय चुनाव हो तो सपा उम्मीदवार राजा भईया का आदमी है। सच बात तो ये है कि राजा भईया और प्रमोद तिवारी का शहर में कोई खास व्यक्ति है तो वो हरि प्रताप सिंह हैं। 10 माह पहले प्रमोद तिवारी की सहमति पर राजकुमारी रत्ना सिंह के निर्देशन में विधानसभा का जब भाजपा ने हरि प्रताप का टिकट काट दिया तो हरि प्रताप सिंह प्रमोद के सहयोग से ही भाजपा से कांग्रेस में इंट्री किये थे। वर्ष-2006 में भाजपा में रहते हरि प्रताप सिंह निकाय चुनाव के परिणाम के दिन मतगणना के वक्त उनकी मदद ली थी। कई वर्षो से हरि प्रताप सिंह सरकारी अनाज की परिवहन ढुलाई और हैंडलिंग का ठेकेदारी करते आए हैं। मंत्री, राजा और ठेकेदार, हरी। मतलब साफ है कि दोनों के बीच कितना अच्छा सम्बन्ध रहा होगा...??? ये बताने की जरूरत नहीं। बिना विभाग को लिये दिये ठेका करना सम्भव नहीं। वैसे भी बेईमानी का सारा कार्य बड़ी ईमानदारी से किया जाता है। अभी इस सम्बन्ध में एक खुलासा और करना है। समाजवादी पार्टी से एम एल सी रहे यशवंत सिंह हरी और राजा के बीच सेतु का काम करते रहे हैं...!!!
हरि तेरे कितने रूप...???
राजा भईया के कहने पर ही  यशवंत सिंह को सपा सुप्रीमों ने MLC बनाया था और राजा के एक इशारे पर यशवंत सिंह अपने पद से त्यागपत्र दे दिया। त्यागपत्र भाजपा के उन मंत्रियों के लिये दिया गया, जिन्हें छ: माह के भीतर सदन की सदस्यता लेनी थी। अब राजा भईया का #BJP कनेक्शन और हरि प्रताप सिंह का सम्बन्ध के डिटेल बताने की जरूरत नहीं। राजा भईया प्रतापगढ़ के कम्पनी बाग में हरि प्रताप के लड़के और लड़की की शादी और प्रीति भोज में भी आए थे। जनता को सिर्फ याद दिलाना है, उसे सबकुछ याद आ जायेगा। इसलिये सपा का उम्मीदवार राजा का आदमी है, इस दुष्प्रचार से नगरपालिका के चुनाव में कुछ नहीं होने वाला। इससे पहले ऐसे ही दुष्प्रचार से भाजपा के हरि उसका लाभ दो बार ले चुके हैं। नगर क्षेत्र में असल एजेंट तो राजा भईया और प्रमोद तिवारी का हरि प्रताप ही हैं...!!!

rameshrajdar

एक खोजी पत्रकार की सत्य खबरें जिन्हे पूरा पढ़े बिना आप रह ही नहीं सकते हैं ,इस खबर को पढ़ने के लिए............| Google || Facebook

0 टिप्पणियाँ: