टैक्स चोरी के महारथी हैं,पूर्व नपाध्यक्ष हरि प्रताप

12:33:00 pm 0 Comments Views

पूर्व नपाध्यक्ष हरि प्रताप का चाल,चेहरा और चरित्र...!!!
चेयरमैन को होना चाहिए नगर की जनता के लिए रोल मॉडल...!!!
वर्ष-2002 में भारत पेट्रोलियम कम्पनी से सई नदी के उत्तर इलाहाबाद-फैजाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर चिलबिला रंजीतपुर ग्राम सभा की गाटा संख्या-2257 मि.में महज 6 विस्वा जमीन खरीद कर कानून की धज्जियाँ उड़ाकर विना NH की NOC प्राप्त किये एक कंज्यूमर पम्प को रिटेल आउटलेट पम्प में बदलवाते हुए राष्ट्रीय राजमार्ग की जमीन पर कब्ज़ा कर जगदीश ऑटो सेल्स को खोल कर उसका संचालन शुरू किया...!!!

 ट्रैक्टर एजेंसी और पेट्रोल पम्प वाले प्रकरण में नगरपालिका को लगाया लाखो रूपए का चूना...!!! 
चूँकि सई नदी पर पुराना पुल क्षतिग्रस्त हो जाने से नया पुल बना और वो पुल पश्चिम दिशा में बना,जिससे पूरब दिशा की सड़क खसककर पश्चिम दिशा में बढ़ गई और इसी का फायदा लेते हुए 6 विस्वा की जमीन जो मौके पर 15 विस्वा कब्जाकर उत्तर तरफ पेट्रोल पम्प तो दक्षिण तरफ ट्रैक्टर/बाइक एजेंसी का शोरूम खोल दिया l बात इतने से ही समाप्त नहीं हुई l सबसे प्रमुख प्रकरण है नगरपालिका में गृहकर और जलकर की चोरी का l वर्ष-2002 से वर्ष-2008 तक टैक्स की चोरी किये और जब शिकायत हुई तो प्रकरण में जांच के दौरान नपाध्यक्ष पद से बर्खास्त होना पड़ा था l जब न्यायालय की कृपा से बहाल हुए तो बैकडेट में पेट्रोल पम्प और ट्रैक्टर एजेंसी की इंट्री कराई और अपने बनाए हुए उपविधि को ताख पर रखकर टैक्स की जबरदस्त चोरी की l यही इनका चरित्र है...!!!

rameshrajdar

एक खोजी पत्रकार की सत्य खबरें जिन्हे पूरा पढ़े बिना आप रह ही नहीं सकते हैं ,इस खबर को पढ़ने के लिए............| Google || Facebook

0 टिप्पणियाँ: