Breaking News

Post Top Ad

Your Ad Spot

गुरुवार, 11 अगस्त 2022

सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश के रूप में उदय उमेश ललित को भारत का 49 वां प्रधान न्यायाधीश किया गया नियुक्त

भारत के संविधान के अनुच्छेद- 124 के खंड (2) द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए राष्ट्रपति ने सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस उदय उमेश ललित को भारत का मुख्य न्यायाधीश किया है, नियुक्त...

27 अगस्त को सीजेआई यू यू ललित पदभार ग्रहण करेंगे...

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने मुख्य न्यायाधीश यूयू ललित के नियुक्ति वारंट पर किए हस्ताक्षर। 27 अगस्त को सीजेआई यूयू ललित पदभार ग्रहण करेंगे। जस्टिस यू यू ललित का भारत की न्यायपालिका के प्रमुख के रूप में संक्षिप्त कार्यकाल होगा। लगभग तीन महीने तक वह सीजेआई के रूप में  करेंगे काम और 8 नवंबर, 2022 को होंगे सेवानिवृत्त। गौरतलब है की सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस जहां 65 साल की उम्र में सेवानिवृत्त होते हैं, वहीं हाईकोर्ट के जस्टिस की रिटायरमेंट 62 साल होने की उम्र है। जस्टिस यू यू ललित दूसरे सीजे आई होंगे, जिन्हें बार से सीधे प्रोन्नत करके सुप्रीम कोर्ट बेंच में  किया गया था। जस्टिस एस एम सीकरी मार्च, 1964 में सीधे सुप्रीम कोर्ट की बेंच में पदोन्नत होने वाले पहले वकील थे। जस्टिस सीकरी जनवरी, 1971 में भारत के 13वें सीजेआई बने थे। कानून मंत्रालय की एक अधिसूचना में कहा गया है कि भारत के संविधान के अनुच्छेद- 124 के खंड (2) द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए राष्ट्रपति ने सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस उदय उमेश ललित को भारत का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया है। उनकी नियुक्ति 27 अगस्त, 2022 से प्रभावी होगी।  

प्रस्तुति- प्रतिभा तिवारी 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें