Breaking News

Post Top Ad

Your Ad Spot

गुरुवार, 10 मार्च 2022

इंतजार की घड़ियां हुई खत्म, पोस्टल बैलट के मतदान की मतगणना हुई प्रारम्भ, 403 सीटों पर कुल 4442 प्रत्याशियों के भाग्य का होगा फैसला

मतगणना स्थल पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव-2022की सभी 403विधानसभाओं की मतगणना हुई शुरू....

पोस्टल बैलट के मतदान की मतगणना हुई प्रारम्भ...

लखनऊ। यूपी विधानसभा चुनाव-2022 के कुल 403 विधानसभा सीटों पर हुए मतदान में 4442 प्रत्याशी चुनावी मैदान में उतरे हुए है। इनमें 560 महिलाओं का नाम शामिल है। इन सभी के भाग्य पर हुए मतदान की मतगणना होगी। सूबे के 75 जिलों के कुल 403 सीटों पर होने वाली मतगणना के लिए 84 केंद्र बनाए गए है। चुनाव आयोग के मुताबिक सबसे पहले पोस्टल बैलेट व सर्विस वोट गिने जाएंगे। इसके आधे घंटे ही ईवीएम के वोटों की गणना शुरू होगी। चुनाव ड्यूटी में लगे कार्मिकों को पोस्टल बैलेट से मतदान करने की सुविधा दी गई है, इसलिए पोस्टल बैलट 3.75 लाख से अधिक पड़े हैं। प्रत्येक विधान सभा की गिनती के लिए 14 टेबल लगती हैं  और एक टेबल आर ओ टेबल की होती है, जहाँ से सभी 14 टेबलों से प्राप्त मतदान के परिणाम को जोड़ने के बाद दूसरे राउंड की मतगणना शुरू की जाती है अपवाद स्वरूप कुछ विधान सभा सीटों पर जहां पोलिंग बूथ की संख्या अधिक होती है, वहां रिटर्निंग अफसर चुनाव आयोग से अनुमति लेकर टेबल बढ़ा लेते हैं। यानी प्रत्येक चरण में 14 ईवीएम की गिनती एक साथ होगी।


विधानसभा चुनाव की लगभग दो महीने लंबी चली कवायद के बाद अब सारी निगाहें चुनाव नतीजों पर टिक गई हैं। राज्य की सभी 403 सीटों के लिए सात चरणों में हुए चुनाव के परिणाम आज को घोषित किए जाएंगे। आज के नतीजों के बाद यह साफ हो जाएगा कि प्रदेश में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) लगातार दूसरी बार अपनी सरकार बनाकर कीर्तिमान रचती है या समाजवादी पार्टी (SP) पांच साल बाद फिर सत्ता में लौटती है। फिर बहुजन समाज पार्टी (BSP) अथवा अन्य कोई दल या गठबंधन सभी को चौंकाते हुए सत्ता शीर्ष पर पहुंचता है। ये कुछ घंटों की काउंटिंग में साफ हो जाएगा। सुबह 8 बजे से वोटों की गिनती शुरू हो चुकी है। सभी 75 जनपदों के जिला निर्वाचन अधिकारियों द्वारा मतगणना के बाद विजयी घोषित हुए प्रत्याशी द्वारा किसी प्रकार का जुलूस और आतिशबाजी न करने की हिदायत दी गई है यदि किसी प्रत्याशी या उसके समर्थकों द्वारा ऐसा किया जाता है तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी। मतगणना के दौरान मतगणना कैंपस और उसके आसपास किसी भी प्रकार की शांति भंग करने वाले व्यक्तियों को बिना देर किये जेल भेज दिया जाएगा

  

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें