Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

बुधवार, 5 जनवरी 2022

यूपी के बाहुबली और पच्चीस हजार का इनामिया भगोड़ा घोषित जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह का वीडियो सोशल मीडिया पर हुआ वायरल, सपा ने योगी सरकार पर कसे तंज

इनामिया और भगोड़े पूर्व सांसद धनंजय सिंह की पत्नी हैं,जिला पंचायत जौनपुर की अध्यक्ष...
इनामिया व भगोड़ा पूर्व सांसद धनंजय सिंह का वायरल हुआ वीडियो...

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार माफियाओं पर जहाँ शिकंजा कसने का दावा करती है, वहीं पूर्वांचल के जौनपुर का बाहुबली नेता और सांसद रहे धनंजय सिंह पर योगी सरकार कोई कार्रवाई नहीं कर रही है योगी की पुलिस सिर्फ कागज पर उसे भगोड़ा घोषित कर मौज करने के लिए छोड़ रखा है, जबकि उत्तर प्रदेश की काबिल पुलिस बाहुबली नेता धनंजय सिंह पर 25 हजार रूपये का इनाम भी रखा गया है हालांकि, हाल ही में उनका एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वह खुलेआम लोगों के साथ क्रिकेट खेलते और मौज उड़ाते नजर आ रहा हैं।वायरल वीडियो यूपी के ही जौनपुर का बताया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक, भगोड़ा पूर्व सांसद धनंजय सिंह क्रिकेट मैच करियांव प्रीमियर लीग मारगंज के उद्घाटन समारोह में शिरकत करने पहुंचे थे 


इनामिया व भगोड़ा पूर्व सांसद धनंजय सिंह के वायरल वीडियो पर DGP मुकुल गोयल ने दिया बयान...

DGP मुकुल गोयल...

बता दें, इस वीडियो के वायरल होने के बाद यूपी डीजीपी मुकुल गोयल ने कहा है कि अब इसकी जांच की जाएगी और नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी 

योगी सरकार पर सपा ने साधा निशाना...


वहीं, समाजवादी पार्टी ने इस वीडियो को ट्वीट कर सरकार पर तंज भी कसा है सपा का कहना है कि 25 हजार रूपये का इनामी माफिया धनंजय सिंह सत्ता के संरक्षण का मजा ले रहा है और डबल इंजन की सरकार के बुलडोजर को इनका पता नहीं मिल पा रहा है सपा के प्रवक्ता जितेंद्र वर्मा जीतू ने ट्वीट किया, 'ये ब्राम्हण होता तो गाड़ी पलट जाती ये, मुस्लिम होता तो घर गिरा दिया जाता, ये पिछड़ी व दलित जाति से होता तो फर्जी इनकाउंटर होता ये यादव होता तो कोतवाली में हत्या हो जाती ये मुख्यमंत्री जी की जाति का ठाकुर है इसलिए बचा है।

समाजवादी पार्टी ने किया ट्वीट...


माफियाओं के साथ योगी सरकार के भेदभावपूर्ण रवैये पर सपा के आधिकारिक अकाउंट से ट्वीट कर लिखा गया है, "फर्क साफ है ! मुख्यमंत्री से जुड़े माफिया ‘खेल’ रहे क्रिकेट, 25000 (पच्चीस हजार रूपये) के इनामी माफिया धनंजय सिंह सत्ता के संरक्षण में पुलिस की नाक के नीचे ले रहे खुले आसमान के नीचे खेल का मजा "डबल इंजन" सरकार के बुलडोजर को नहीं मालूम इनका पता ! जनता सब देख रही, बाईस में भाजपा साफ"


अखिलेश यादव ने किया ट्वीट...


पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी सरकार पर निशाना साधते हुए ट्वीट कर लिखा है, "भाजपा का काम ~ अपराधी सरेआम" ! सूबे की कमान संभालने वाले बाबाजी अपने करीबी नालबद्ध माफियाओं के टॉपटेन की सूची बनाकर एक टीम बना लें और आईपीएल की तरह एक ‘एमबीएल’ मतलब ‘माफिया भाजपा लीग’ शुरू कर दें। शहर के पुलिस कप्तान तो उनके लिए पिच बिछाए बैठे ही हैं और टीम कप्तान वो खुद हैं ही… हो गए पूरे ग्यारह"


आईये जाने कौन है,धनंजय सिंह...??? 


दरअसल, धनंजय सिंह पूर्वांचल के बड़े माफिया की सूची में शामिल है डॉन और पूर्व विधायक के साथ वह पूर्व सांसद भी है। धनंजय की पत्नी श्रीकला रेड्डी जिला पंचायत अध्यक्ष हैं। जानकारी के मुताबिक, पूर्व सांसद धनंजय सिंह पर हत्या तक के भी मुकदमे दर्ज हैं, जिसकी वजह से राजधानी लखनऊ पुलिस उनकी तलाश कर रही है। इतना ही नहीं, लखनऊ पुलिस ने उनके ऊपर 25 हजार रूपये का इनाम भी घोषित कर रखा है बता दें, धनंजय सिंह जौनपुर की रारी सीट से साल 2002 और साल 2007 में विधायक रहे इसी के साथ, साल 2009 में BSP के टिकट पर जौनपुर से सांसद भी रहे। रारी विधानसभा से पूर्व विधायक और जौनपुर से पूर्व सांसद धनंजय सिंह बाहुबली नेताओं में शुमार हैं और पूर्वांचल के टॉपटेन माफियाओं में से एक हैं, जिन्हें राजधानी लखनऊ पुलिश को तलाश है। उसके ऊपर हत्या का मामला भी दर्ज है। वहीं, जिस जिले में वह खुलेआम घूमते नजर आ रहे हैं, उसी जिले में उनकी पत्नी जिला पंचायत अध्यक्ष चुनी गई हैं। 


उत्तर प्रदेश की पुलिस जिस बाहुबली भगोड़ा पूर्व सांसद धनंजय सिंह की तलाश में जुटी है, जौनपुर में वह खुलेआम क्रिकेट मैच के उद्घाटन समरोह में शामिल होकर उसका उद्घाटन कर रहे हैं और पुलिस को कानोकान खबर तक नहीं लग सकी। यह कोई आरोप नहीं बल्कि क्रिकेट की पिच पर बैट और बॉल से आजमाइश करता हुआ उनका एक वीडियों वायरल हुआ है। बता दें कि 25 हजार इनामी इस बाहुबली को यूपी पुलिस 7 महीने से तलाश कर रही है, लेकिन वह खुलेआम घूम रहे हैं। धनंजय सिंह का एक और वीडियो वायरल हो रहा है, जिसके बारे में कहा जा रहा है कि तस्वीर मछलीशहर के करियांव गांव की है, जहां 3 जनवरी को धनंजय सिंह यहां आये थे, वह यहां क्रिकेट मैच का उद्घाटन किया। खिलाड़ियों के साथ फोटो खिंचवाई और चलता बने, लेकिन पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लग सकी। 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें