Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

शनिवार, 1 जनवरी 2022

मुलायम सिंह यादव के बेहद करीबी एमएलसी शतरुद्र प्रकाश ने थामा भाजपा का दामन

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष विधान सभा चुनाव-2022 में सफलता पाने के लिए लगातार क्षेत्रीय दलों से गठबंधन करने में ब्यस्त हैं तो उनकी पार्टी के धुरंधर नेता उनकी पार्टी से करते जा रहे हैं,पलायन...

वाराणसी से सपा एमएलसी शतरुद्र प्रकाश हुए भगवाधारी...

लखनऊ। उत्तर प्रदेश वर्ष-2022 विधानसभा चुनाव से पहले नेताओं में भगदड़ मच चुकी है, हर दल के नेताओं का इस दल से उस दल में भागने का सिलसिला जारी है। विशेष रूप से भाजपा और समाजवादी पार्टी में जो नेता दलबदलू एक्सप्रेस पर सवार होकर शामिल होने पहुँच रहे हैं वह अपने टिकट को लेकर हैरान व परेशान होकर ऐसा निर्णय ले रहे हैं इस बार भाजपा ने अखिलेश यादव को तगड़ा झटका दिया है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष विधान सभा चुनाव-2022 में सफलता पाने के लिए लगातार क्षेत्रीय दलों से गठबंधन करने में ब्यस्त हैं तो उनकी पार्टी के धुरंधर नेता उनकी पार्टी से पलायन करते जा रहे हैं। इस पलायन से समाजवादी पार्टी को विधानसभा चुनाव में नुकसान होना तय है 


भाजपा ने मुलायम सिंह यादव के बेहद करीबी वाराणसी से सपा एमएलसी शतरुद्र प्रकाश को अपने भगवा खेमे में शामिल करा लिया है। शतरुद्र प्रकाश डॉ राम मनोहर लोहिया से प्रभावित होकर समाजवादी युवजन सभा बीएचयू के सदस्य बने थे।इसके बाद से उन्होंने कई आंदोलनों का नेतृत्व किया। एक बार उन्होंने राष्ट्रपति भवन में घुसकर भी प्रदर्शन किया था। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने शतरूद्र प्रकाश को पार्टी ज्वाइन कराई। स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि शतरुद्र प्रकाश के आने से भाजपा मजबूत होगी। ज्वाइनिंग कमेटी के अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेई ने कहा कि समाजवादी आंदोलन राह से भटक गया है।


भाजपा का दामन थामने के बाद शतरुद्र प्रकाश ने कहा कि हमने शुरू से गैर कांग्रेस वाद की राजनीति की है। आज राजनारायण जी की पुण्यतिथि पर मेरी भाजपा में ज्वाइनिंग हो रही है। पहले पूर्वांचल के जिलों की पहचान माफिया से होती थी, लेकिन आज ऐसा नहीं है। इसके लिए पीएम मोदी और सीएम योगी बधाई के पात्र हैं । उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा काशी विश्वनाथ विशिष्ट क्षेत्र विकास परिषद के तहत वाराणसी में करीब 800 करोड़ रुपये की लागत से गंगा तट पर नवनिर्मित 5,27,760 वर्गफिट पर बाबा विश्वनाथधाम का निर्माण व लोकार्पण पीएम मोदी ने किया। यह अद्भुत कार्य कई शताब्दी की पीढ़ियों तक स्मरण किया जाता रहेगा।


बता दें कि शतरुद्र प्रकाश बीते दिनों विधान परिषद में काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के निर्माण के समर्थन में प्रस्ताव रखा था। प्रकाश काशी विश्वनाथ धाम को विश्व धरोहर मे शामिल करने की मांग भी योगी सरकार से कर चुके हैं।प्रकाश पुराने सपाई हैं और इनकी पत्नी भी छात्र संघ की अध्यक्ष रही हैं। काशी हिंदू विश्वविद्यालय की छात्र राजनीति से उभरे प्रकाश वर्ष-1974 में पहली बार वाराणसी के कैंट क्षेत्र से विधानसभा सदस्य निर्वाचित हुए और फ‍िर इसी क्षेत्र से वर्ष-1977 में जनता पार्टी, वर्ष-1985 में लोकदल और वर्ष-1989 में जनता दल से विधानसभा सदस्य चुने गये। मुलायम सिंह यादव के नेतृत्व में बनी उत्तर प्रदेश सरकार में प्रकाश कैबिनेट मंत्री भी रहे।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें