Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

बुधवार, 8 दिसंबर 2021

तमिलनाडु के कुन्नूर हेलीकाप्टर हादसे में देश के पहले CDS विपिन रावत व उनकी पत्नी मधुलिका जी सहित 11 अन्य लोगों की हुई, मौत

सैन्य हेलिकॉप्टर दुर्घटना में CDS बिपिन रावत,उनकी पत्नी मधुलिका रावत और 11अन्य लोगों की मौत हुई है: भारतीय वायुसेना 


देश का यह सबसे दुखद वायु हादसा है, जिसमें देश के पहले CDS बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका जी की दुखद मौत हो गई है। इस हादसे में 14 में से 13 लोगों की मौत की अधिकारिक हो चुकी है, पुष्टि 

देश के पहले CDS बिपिन रावत जी नहीं रहे...

ये खबर पूरे देश के लिए बेहद दुःखद और निराश करने वाली है। कुन्नूर हादसे के प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि जलते हुए हेलिकॉप्टर से कूदे 3 लोगों कूद गए थे। हादसे वाली जगह पर सेना और स्थानीय पुलिस के अधिकारी पहुंच गए हैं। इसी बीच एक प्रत्यक्षदर्शी ने पूरे वाकये को बताया। इस प्रत्यक्षदर्शी का नाम कृष्णासामी है। उसके मुताबिक, उसने एक तेज आवाज सुनी इसके बाद वह घर से बाहर निकला और देखा कि एक हेलिकॉप्टर एक पेड़ से दूसरे पेड़ पर टकराते हुए आग को गोला बन गया। कृष्णासामी के मुताबिक, जब हेलिकॉप्टर पेड़ से टकरा रहा था, तब उसमें आग लग चुकी थी इसी दौरान कृष्णासामी ने 2-3 लोगों को हेलिकॉप्टर से कूदते हुए देखा, सभी के शरीर में आग लगी हुई थी। कृष्णासामी ने अपने साथियों को इकट्ठा किया और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कियाजितनी भी लाशें मिली हैं, वह 80 फीसदी तक जल चुकी हैं। चश्मदीद के अनुसार पहले हेलीकॉप्टर में आग लगी फिर वह क्रैश हो गया  


भारतीय वायुसेना की ओर से बयान में कहा गया कि हादसे को लेकर कोर्ट ऑफ इंक्वायरी का आदेश दिया गया हैबताया जा रहा है कि एम सीरीज का यह हेलिकॉप्टर सीडीएस जनरल बिपिन रावत को वेलिंगटन में डिफेंस स्टाफ कॉलेज ले जा रहा था। कोयंबटूर में आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि पहाड़ी नीलगिरी जिले में कुन्नूर के पास कट्टेरी-नंचप्पनचत्रम इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हुए हेलीकॉप्टर के मलबे के नीचे से 13 शव निकाले गए। सेना की तरफ से ट्वीट कर मृत हुए 13 लोगों में सीडीएस जनरल बिपिन रावत की भी मौत की पुष्टि की है। सूत्रों ने बताया कि कथित तौर पर घने कोहरे के बाद लो-विजिबिलिटी के कारण एक वन क्षेत्र में हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गयातमिलनाडु में सैन्य हेलिकॉप्टर दुर्घटना में CDS बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका समेत अन्य 11 लोगों की मृत्यु पर देश के राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति, प्रधानमन्त्री, रक्षामंत्री सहित केंद्रीय गृहमंत्री ने गहरा दुःख जताया और शोक संतप्त परिवार के खड़े रहने का भरोसा दिलाया है और मृत आत्माओं के लिए साथ श्रधांजली व्यक्त की है।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें