Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

सोमवार, 6 दिसंबर 2021

जनपद प्रतापगढ़ में तैनात नौकरशाह करा रहे योगी सरकार की किरकिरी, मुख्यमंत्री जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायतों का हो रहा झूठा निस्ताण

अधूरा पड़ा सामुदायिक शौचालय, निर्माण का इंतजार, कब मिलेगा जनता को योजना का लाभ...???


मंगरौरा विकास खंड क्षेत्र में योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री की आत्मा बस्ती है। इसी विकासखंड से मंत्री जी अपने राजनीतिक जीवन की शुरुवात की थी। लगभग 45 साल से इस ब्लॉक पर प्रमुख पद पर मंत्री जी का ही कब्जा रहा है। वर्तमान में मंगरौरा विकासखंड में प्रमुख पद पर मंत्री मोती सिंह के इकलौते पुत्र राजीव प्रताप "नंदन सिंह" निर्विरोध निर्वाचित हुए थे...!!!

 

बोझी एक्सप्रेस तो पटरी पर दौड़ने लगी,परन्तु सूर्यगढ़ जगन्नाथ एक्सप्रेस अभी इंतजार में हैं... 

प्रतापगढ़ में विकास कार्यों से लेकर बुनियादी समस्याओं के समयबद्ध और समुचित समाधान के लिए बनाए गए जनसुनवाई पोर्टल अफसरों की आंकड़ेबाजी के कारण मजाक बना दिए है ग्राम विकास के जिम्मेदार अफसर लालचन्द्र पाल सिक्रेटरी पद पर तैनात है। सरकार की मंशा थी कि पोर्टल के जरिए लोगों की भागदौड़ बचेगी और उन्हें अपने घर और क्षेत्र में ही अपनी शिकायतों का निदान मिल जाएगा पर कमोवेश हर विभाग जन सरोकार से जुड़ी शिकायतों को लेकर उदासीन है। अधूरा पड़ा सामुदायिक शौचालय के सम्बन्ध में ग्राम विकास अधिकारी लालचन्द्र पाल सिक्रेटरी एक हप्ते के अन्दर निस्तारित होने का दावा करके वाहवाही लूट रहे हैं। समस्याओं का निस्तारण दिखाकर फाइल क्लोज कर देते हैं 


ग्राम सभा में  सीक्रेटरी पद पर लालचन्द्र पाल तैनात उनके द्वारा 7 दिवस मेंअधूरा पड़ा सामुदायिक शौचालय का निर्माण हो जाने के सम्बन्ध में 22/11/2021 को रिपोर्ट आख्या प्रेषित गया। अधूरा सामुदायिक शौचालय का निर्माण नहीं किया जा रहा है अधिकारियों के गैर जिम्मेदाराना हरकत की वजह से स्वच्छ भारत मिशन के तहत ग्रामवासियों को योजना का लाभ नहीं मिल रहा है। मामला मंगरौरा विकासखंड क्षेत्र ग्राम पंचायत सूर्यगढ़ जगन्नाथ में आधा अधूरा सामुदायिक शौचालय बने लगभग एक साल हो गया है सामुदायिक शौचालय में छत की ढलाई नहीं की गई उक्त अधूरा पड़ा सामुदायिक शौचालय जिम्मेदारों की उदासीनता के चलते स्वच्छ भारत मिशन का मकसद पूरा नहीं हो पा रहा है। ग्रामीण बाहर शौच जाने को मजबूर हैं। 


मंगरौरा विकास खंड में इतनी अनियमितता समझ के परे है। जिस विकास खण्ड पर सीधे मंत्री जी की नजर हो उसकी यह दशा ! जबकि कैबिनेट मंत्री ग्राम्य विकास विभाग के ही मंत्री हैंसामुदायिक शौंचालय एक साल से अधूरा पड़ा ग्रामीणों का कहना है कि अधूरा सामुदायिक शौचालय मात्र शो पीस बना है। उक्त शौचालय तक पहुचने के लिए कोई रास्ता खड़ंजा नही बना है जानकारी के मुताबिक कुछ जिम्मेदार अफसरों के सांठगांठ से उक्त शौचालय का निर्माण कार्य एक साल से अधूरा पड़ा है बताया जाता है कि सामुदायिक शौचालय निर्माण में गुणवत्ता का ध्यान नहीं दिया गया बहुत ही घटिया किस्म की सामग्री का प्रयोग किया गया है  ग्रामवासियों को परेशानी का सामना करना पड़ है फिर भी अफसरों के कान में जूं तक नहीं रेंग रही हैं। उक्त सामुदायिक शौंचालय के लिए जनप्रतिनधियों में सांसद, विधायक और मंत्री भी नहीं ले रहे हैं। ग्रामीणों को योजना का लाभ नहीं मिल रहा है।  


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें