Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

बुधवार, 29 दिसंबर 2021

बिजनौर पुलिस वालों की इन्सास लूटी, उसी के बट से पीटा भी, बीती रात 3 लोगों के झगड़े को रोकने गए थे, लात-घूंसों से वर्दीवालों को जमकर पीटा, पिटाई मामले का वीडियो हो रहा वायरल

जिन पुलिस वालों के साथ घटित हुई घटना, वह पिकेट पर ड्यूटी कर रहे थे, आरोपियों को पकड़ने के लिए बनाई गई 5टीमें..

विजनौर में वर्दी वालों को जमकर लात-घूंसों से पीटा और सरकारी रायफल भी लूट ली...

बिजनौर में बेहद ही चौंकाने वाला मामला सामने आया है। मंगलवार देर रात यहां पर तीन लोगों में हो रहे झगड़े को रोकने गए दो पुलिस वालों को दबंगों ने गिरा-गिराकर पीटा। लात-घूंसे बरसाने के बाद दबंगों ने एक पुलिस वाले से उसकी रायफल छीन ली और बट से मारना शुरू कर दिया। दबंगों के हमले के बाद पुलिस वाले जमीन पर गिर जाते हैं। वे जैसे ही उठते हैं, वैसे ही दबंग उन्हें फिर से मारने लगते हैं। करीब 5 मिनट तक पीटने के बाद दोनों दबंग रायफल लूटकर फरार हो गए। मामले का वीडियो भी सामने आया है। उधर, बदमाशों के भागने के बाद पुलिस कंट्रोल रूम पर उन्हें पकड़ने का जो आदेश दिया गया, वह ऑडियो भी वायरल हो रहा है। पुलिस ने दबंगों की तलाश शुरू कर दी है। 


मामला अफजलगढ़ थाना क्षेत्र के भुतपुरी चौराहे का बताया जा रहा है। मंगलवार देर रात एक ट्रक खराब हो गया था। ट्रक में शुगर मिल का लिक्विड भरा था, जो कि सड़क पर गिर रहा था। लिक्विड के चलते दो बाइक सवार फिसलकर गिर गए। इसको लेकर दोनों बाइक सवार ट्रक ड्राइवर से झगड़ा करने लगे। देखते ही देखते दोनों ने ड्राइवर को पीटना शुरू कर दिया। पिकेट पर तैनात ललित और एक अन्य पुलिसकर्मी बाइक सवार दबंगों को रोकने पहुंचे। गुस्से में आकर दबंगों ने ट्रक ड्राइवर को छोड़कर दोनों पुलिसकर्मियों पर हमला बोल दिया। साथ ही ललित की इन्सास रायफल लूटकर भाग गए। इसी बीच ट्रक ड्राइवर ने वीडियो बनाकर वायरल कर दिया।


एसपी ग्रामीण, राम अर्ज ने बताया कि दो बाइक सवार ट्रक ड्राइवर से गाली-गलौज कर रहे थे। पिकेट पर तैनात दो पुलिस कर्मियों ने उन्हें समझाने का प्रयास किया तभी दोनों बदमाश मारपीट कर इन्सास रायफल लेकर भाग गए। आरोपियों को पकड़ने के लिए स्वाट सर्विलांस सहित 5 टीमे लगा दी गईं हैं जल्द ही उन्हें पकड़ लिया जाएगा। सूबे में अपराधियों का इतना बोलबाला है कि पुलिस भी उनके आतंक का शिकार हो जाती है। सवाल उठता है कि कानून के रखवाले ही जब स्वयं में सुरक्षित नहीं हैं तो आम आदमी की सुरक्षा की गारंटी कौन लेगा ? जनता में इस बात की चर्चा होती रही कि पुलिस के ऐसे जवानों की तैनाती क्यों की जाती है जो अपनी ही सुरक्षा न कर सके 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें