Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

रविवार, 5 दिसंबर 2021

रालोद नेता हाजी यूनुस के काफिले पर रविवार दोपहर में हुआ हमला, पाँच लोगों को गोली लगी, पच्चास से ज्यादा राउंड फायरिंग हमलावर कार छोड़कर भागे

बुलंदशहर में राष्ट्रीय लोकदल के नेता हाजी यूनुस के काफिले पर जानलेवा हमला हुआ, इसमें कई लोगों को गोली लगी है


 घायल रालोद नेता हाजी यूनुस...

बुलंदशहर में रालोद नेता हाजी यूनुस के काफिले पर रविवार दोपहर हमला हो गया। स्विफ्ट कार में आए 5 हमलावरों ने काफिले पर 50 से ज्यादा राउंड फायरिंग की हैं। इसमें 5 लोगों को गोलियां लग गई हैं। 2 की हालत नाजुक है, जिन्हें हायर सेंटर दिल्ली के लिए रेफर कर दिया गया है। हमले के बाद आरोपी अपनी कार छोड़कर भाग निकले। हाजी यूनुस रविवार दोपहर बुलंदशहर कोतवाली क्षेत्र के गांव भाईपुरा में एक शादी समारोह में शामिल होने के लिए गए थे। यह गांव बुलंदशहर में शिकारपुर बाइपास के पास पड़ता है। समारोह से लौटते वक्त स्विफ्ट कार सवार बदमाशों ने पूरे काफिले पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। समारोह से लौटते वक्त स्विफ्ट कार सवार बदमाशों ने पूरे काफिले पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी


समारोह से लौटते वक्त स्विफ्ट कार सवार बदमाशों ने पूरे काफिले पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी हाजी यूनुस ऑडी कार में बैठे हुए थे। इस कार पर 20 से ज्यादा गोलियों के निशान हैं। हाजी यूनुस के हाथ में गोली लगने की खबर है, लेकिन इसकी अधिकारिक पुष्टि नहीं हो पा रही है। फिलहाल तीन घायलों को बुलंदशहर के जिला अस्पताल में लाया गया है, जबकि दो को दिल्ली रेफर कर दिया है। जिला अस्पताल में हाजी यूनुस के समर्थकों का जमावड़ा लग गया है। यूनुस के भाई अलीम रहे हैं विधायक हाजी यूनुस बुलंदशहर सदर सीट से बसपा विधायक रहे हाजी अलीम के भाई हैं। कुछ साल पहले हाजी अलीम की अपने घर में संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगने से मौत हो गई थी। इसकी जांच सीबीसीआईडी कर रही है। एक दिन पहले ही हाजी यूनुस बसपा छोड़कर रालोद में शामिल हुए हैं। गोलियों के निशान देखकर प्रतीत हो रहा है कि बदमाश हाजी युनूस की हत्या करने के लिए ही आए थे।


तीन घायलों को बुलंदशहर के जिला अस्पताल में लाया गया ,ये लोग हुए घायल खालिद, शादाब, अफजल, शमी आलम और राशिद को गोलियां लगी हैं। इसमें दो लोगों को दिल्ली हायर सेंटर रेफर कर दिया है, जबकि तीन लोगों का इलाज बुलंदशहर के जिला अस्पताल में चल रहा है। एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने अस्पताल पहुंचकर घायलों से बातचीत की। दोनों हाथों से चलाए हथियार, ऑडी थी निशाना प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि हमलावर स्विफ्ट कार के अलावा तीन बाइकों पर भी थे। दोनों हाथ में पिस्टल थी। वह दोनों हाथों से ताबड़तोड़ फायरिंग कर रहे थे। हाजी यूनुस के साथियों का कहना है कि हमलावरों के निशाने पर सिर्फ सफेद रंग की ऑडी कार थी। इस ऑडी में यूनुस बैठे हुए थे। ऑडी में बैठे हुए करीब तीन लोगों को गोली लगी है। इसमें एक ड्राइवर और एक प्राइवेट गनर है। हाजी यूनुस के कुर्ते पर खून के निशान हैं। हालांकि यूनुस का कहना है कि उन्हें गोली नहीं लगी है।


अलीम के बेटे ने हाजी यूनुस पर लगाए थे हत्या के आरोप बुलंदशहर सीट से बसपा विधायक हाजी अलीम की करीब ढाई साल पहले संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। ऊपरकोट इलाका स्थित कोठी में उनका गोली लगा शव बैडरूम में मिला था। अलीम के बेटे अनस ने हत्या की आशंका जताते हुए सीबीसीआईडी जांच की मांग की थी। सीबीसीआईडी मेरठ ने जांच में अनस को हत्यारोपी मानते हुए जेल भेज दिया। इसके बाद अनस ने एक और पत्र शासन को भेजकर अपने चाचा हाजी यूनुस पर हत्या की आशंका जताते हुए सीबीसीआईडी पर ही आरोप लगाए थे। हाजी यूनुस पहले से बसपा में थे, लेकिन एक दिन पहले ही वह राष्ट्रीय लोकदल में शामिल हो गए हैं।


बुलंदशहर SSP बोले-मामले में जांच जारी...


बुलंदशहर के एसएसपी संतोष कुमार सिंह का कहना है कि पूर्व ब्लॉक प्रमुख हाजी यूनुस शादी समारोह से लौट रहे थे। रजवाहे के पुल पर एक कार खड़ी थी। इसमें से उतरे कुछ हमलावरों ने काफिले पर फायरिंग की है। इसमें पांच लोगों को गोली लगी है, जिनका इलाज जारी है। हाजी यूनुस को आशंका है कि भाई हाजी अलीम की हत्या में जेल में बंद उनके भतीजे अनस ने यह हमला कराया है। इस मामले में जांच जारी है। जल्द आरोपी पकड़े जाएंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें