Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

सोमवार, 20 दिसंबर 2021

योगी राज में उ प्र परिवहन निगम के अधिकारियों द्वारा संविदा चालक परिचालक से खुलेआम की जा रही है,वसूली

सहायक यातायात निरीक्षक रवि सक्सेना सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक के नाम पर चालक परिचालक से 1000 रुपये महीने घूंस की कर है,मांग  

  

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर डिपो में एआरएम के नाम पर चालक और परिचालक से 1000/=महीना खुलेआम रिश्वत मांगने का आडियो हुआ सोशल मीडिया पर वायरल 

शाहजहांपुर डिपो में खुलेआम किया जा रहा है,भ्रष्टाचार...

केंद्र की मोदी और सूबे की मोदी सरकार भ्रष्टाचार के मामले में अंकुश लगाने में विफल रही है। ऐसा कोई विभाग नहीं है जहाँ सीना ठोंककर यह कहा जा सके कि अमुक विभाग में भ्रष्टाचार नहीं है ताजा मामला उ प्र परिवहन निगम की बस के कंडक्टर और ड्राईवर से प्रयेक माह 1000/= रूपये घूंस की डिमांड सहायक यातायात निरीक्षक रवि सक्सेना सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक के नाम पर मांगने का एक आडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें साफ तौर पर सहायक यातायात निरीक्षक कह रहा है कि पैसा देते रहोगे तो रुट पर चल पाओगे। नहीं तो हटा दिए जाओगे। सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक अपनी सह पर बस स्टैंड के सामने से निजी बसों का संचालन करवा करके पिछले दरवाजे से मोटी कमाई कर रहे हैं। राजस्व को हानि पहुंचा कर छोटे कर्मचारियों पर आय न लाने पर मनमानी कटौती करते हैं।


इस डिपो का परिचालक ATI रवि सक्सेना की प्रताड़ना के कारण विनोद यादव 34000/= रुपये कैश लेकर फरार है रुट पर चलने वाले हर परिचालक से प्रति माह चोरी कराने का रुपया भी यही यातायात निरीक्षक लिया करता हैं। डिपो में पिछले माह ही 22 सवारी चोरी करने का मामला सामने आया था, जिसमें परिचालक की संविदा समाप्त की गई थी, परन्तु बड़ी मछली खुद को बचाने में सफल रही। यही नहीं डिपो में कार्यशाला में चालकों को विवश किया जाता है कि वह बसों में कलपुर्जों को स्वयं खरीद कर लाये। बसों में वाईपर नहीं है, न ही पीली लाइट लगी है। डिपो में अनियमितता इस कदर है कि अनुबंधित बसों पर डिपो संचालन का फोकस रहता है वहीं निगम की बसों को दरकिनार कर डग्गामार वाहनों को संचालित कराने के लिए उनके मालिकों से वसूली कराई जाती है। मजे की बात यह है कि अनुबंधित बसें निर्धारित मार्ग से हटकर संचालित की जा रही है। डिपो में डीजल की भी चोरी का आरोप है यह सब एआरएम और एटीआई की मिलीभगत से हो रहा है।  


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें