Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

गुरुवार, 9 दिसंबर 2021

एक कोटेदार ऐसा भी जो महिला की पेशाब से बनवा देगा अपनी मूँछ, यदि वह महिला उसका कोटा करा दे, सस्पेंड

प्रतापगढ़ में पीडीएस के राशन वितरण में धांधली पर योगी सरकार में भी नहीं लग सका ब्रेक, अनाज की कालाबाजारी के फेर में कोटेदार गरीबों के निवाले पर डाल रहे हैं,डाका 


ताला के कोटेदार का महिला से खुलेआम असभ्यता करने का वीडियो हुआ वायरल...

प्रतापगढ़ में गरीबों के खून चूसने वाले कोटेदार मौजूद हैं। आखिर योगी जी का बुलडोजर इनके कोटे पर कब चलेगा, जिसकी कमाई से कोटेदार चार पहिया वाहन सहित बड़ी-बड़ी हबेली बना लिए हैं। प्रतापगढ़ के बाबा बेलखरनाथ धाम के विकास खंड में ताला ग्राम सभा के कोटेदार ने राशन लेने आई महिला के साथ जमकर बद्तमीजी की। कभी कोटेदार महिला को मारने दौड़ रहा तो कभी अपशब्दों से नवाज रहा है। उसका कुसूर बस इतना था कि वह अपने हक का राशन लेने कोटेदार के घर चली गयी थी कोटेदार की भाषा महिला के सम्मान के विरुद्ध है पीएम मोदी जी और सीएम योगी जी कहते हैं कि देश और प्रदेश में महिलाओं के साथ सम्मानपूर्वक बात करनी चाहिए और महिलाओं के सम्मान में किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जा सकता। आखिर उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जनपद में नारी सम्मान कहा गया, जहाँ एक कोटेदार महिला से कह रहा है कि अगर तुम मेरा कोटा सस्पेंड करा दोगी तो मैं तुम्हारे पेशाब से अपनी मूँछ बनवा दूंगा।


प्रतापगढ़ में कोटेदार की काली कमाई पर मेहरबान अफसर...

दूसरा मामला जिले के मान्धाता ब्लाक के ग्रामसभा बहरापुर का है, जहां वर्तमान ग्राम प्रधान राकेश कुमार व मतीक और ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि कोटेदार द्वारा राशन धारकों को राशन देने में हीला हवाली करते हैं और मापतौल में गड़बड़ी कर घटतौली करते हैं। नि:शुल्क राशन के बावजूद कोटेदार कार्डधारकों से पैसे लेते हैं। जो कोटेदार के चाटुकार कार्डधारक हैं, जिन्हें कोटेदार चुन-चुनकर पहले राशन देते हैं जो पक्ष में नहीं होते, उन्हें राशन समय से नहीं देते और कहते हैं कि तुम्हें जहाँ जाना है, जाओ ! कोटेदार के इस रवैया से क्षुब्ध होकर ग्राम प्रधान व ग्रामीणों ने मंगलवार को मुख्यमंत्री और जिलाधिकारी को शिकायती पत्र लिखकर कार्रवाई की मांग की है। 


ग्राम प्रधान राकेश कुमार व मतीक ने बताया कि जिलाधिकारी महोदय द्वारा अगर इस पर कोई त्वरित कार्रवाई नहीं की जाती है तो मजबूरन जिला मुख्यालय पर ग्रामीणों द्वारा इस भ्रष्टाचार को लेकर धरना प्रदर्शन किया जाएगा। प्रतापगढ़ के कोटेदार सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ की मंशा पर पानी फेरते नजर आ रहे हैं। गरीबों के निवाले पर डाका डालने वाले कोटेदार के खिलाफ न तो किसी अधिकारी की नजर पड़ रही है और न ही कोई कार्यवाही की जाती है इसलिए इनके हौसले बुलंद है और बड़ी ही दबंगई से कोटेदारी करते हैं। इन गरीबों का हक मिलेगा या नहीं ये कह पाना मुश्किल है क्या सीएम योगी और प्रतापगढ़ जिलाधिकारी की नजर इन गरीबों पर पड़ेगी या नहीं, यह तो आने वाला समय ही बताएगा।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें