Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

गुरुवार, 4 नवंबर 2021

प्रतापगढ़ के थाना लालगंज में आर्केस्ट्रा के दौरान मंच पर तमंचे के साथ डिस्को करने और फायरिंग करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, लालगंज कोतवाली में मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

अक्सर जोश में होश गंवा देते हैं,युवा और फंसने पर बोलती हो जाती है,बंद...


युवाओं का यह शौक उन्हें बर्बाद करने वाला है,जोश में होश गंवाने वाले ऐसे युवाओं का भविष्य गर्त में जा रहा है,उनके परिजन भी उन्हें इस शौक से उन्हें दूर नहीं कर पा रहे हैं और न ही देश का कानून उनके पैरों में बेड़ियां डाल पा रहा है...


इन युवाओं के मन में पुलिस और कानून का नहीं है,कोई खौफ... 

लालगंज। आर्केस्ट्रा के दौरान मंच पर तमंचा लहराकर फायरिंग करते वायरल हुए वीडियो के मामले मे पुलिस ने शिकंजा कस दिया है। दरोगा की तहरीर पर आधा दर्जन आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी के लिए छापेमारी तेज हो गयी है। लालगंज कोतवाली क्षेत्र के पूरे जनई मे बीती इक्तीस अक्टूबर को किसी कार्यक्रम मे आयोजित आर्केस्ट्रा के मंच पर तमंचा से फायरिंग करते हुए बदमाशों की नाचते गाते वीडियो वायरल हुआ था। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने की जानकारी पर पुलिस महकमे में हडकंप मच गया। घटना की जानकारी होते ही अपर पुलिस अधीक्षक रोहित मिश्र के निर्देश पर लालगंज कोतवाल कमलेश पाल ने आरोपियो पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया। परन्तु सच्चाई यह है कि लालगंज कोतवाली की पुलिस कुम्भकर्णी नींद में सो रही थी, तभी ग्राम जनई में आर्केस्ट्रा पार्टी के दौरान रात्रि भर तमंचे पर डिस्को का आयोजन होता रहा। जब मामला सोशल मीडिया में वायरल हुआ तो लालगंज कोतवाली पुलिस सक्रीय हुई है।   


मामले मे उप निरीक्षक जयकिशुन ने पूरे जनई निवासी मुकेश सरोज, हरकेश सरोज, अनिल सरोज, आशीष सरोज व मुकेश सरोज के पिता समेत मादामई निवासी बचन सरोज के खिलाफ दहशत फैलाने, फायरिंग करने समेत गंभीर धाराओं मे मंगलवार की रात मुकदमा दर्ज कराया है। मुकदमा दर्ज करने के बाद पुलिस ने रात भर आरोपियो की तलाश में दबिश भी दी। पुलिस की ताबतोड़ दबिश के बाद आरोपी फरार हो गये हैं। लालगंज कोतवाल ने बताया कि तमंचा से फायरिंग करने वाले आरोपियो की तलाश की जा रही है। सभी आरोपियो को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। अब लालगंज कोतवाल से कौन पूंछे कि जब ये आयोजन गाँव में काहल रहा था तो लालगंज की पुलिस और उनका हल्का दरोगा एवं बीट के सिपाही क्या कर रहे थे ? लगता है कि लालगंज कोतवाली की पुलिस का खास मुखबिर भी कुम्भकर्णी नींद में सो गया था। तभी तो रात्रि भर तमंचे पर डिस्को का आयोजन बेख़ौफ़ होता रहा।  


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें