Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

मंगलवार, 30 नवंबर 2021

प्रतापगढ़ थाना कोतवालीनगर में पीएफ खाता धारक के आधार कार्ड व पैनकार्ड पर अपनी फोटो लगाकर धोखाधड़ी कर फर्जी तरीके से पीएफ खाते से लाखों रूपए निकालने वाले गिरोह के तीन शातिर अभियुक्तों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

धोखाधड़ी करने वाले शातिर बदमाशों के पास से 1लाख,79हजार रूपये, फर्जी आधार कार्ड, पैनकार्ड, बैंक पासबुक आदि पुलिस ने किये हैं,बरामद 

फर्जी तरीके से पीएफ खाते से लाखों रूपये निकालने वाले 3शातिर अभियुक्त हुए गिरफ्तार... 

जनपद प्रतापगढ़ थाना कोतवालीनगर में दिनांक 26/11/2021 को वादी गुलशन कुमार यादव पुत्र दिलीप कुमार यादव नि0 लाखीपुर थाना कुण्डा जनपद प्रतापगढ़ द्वारा यह सूचना दी गई कि उनके पिता के पीएफ खाते से दो बार में फर्जी तरीके से धोखाधड़ी कर कुछ लोगों द्वारा लाखो रू0 निकाल लिया गया है। वादी की इस तहरीर पर थाना कोतवाली नगर में मु0अ0सं0-974/21 धारा-419, 420, 467, 468, 471 भादवि का अभियोग पंजीकृत किया गया। 


उक्त मुकदमें की विवेचना के दौरान थाना कोतवाली नगर के उप निरीक्षक धर्मेन्द्र सिंह मय हमराह द्वारा चेकिंग के दौरान मुखबिर खास की सूचना पर थाना क्षेत्र के निर्मल तिराहे के पास से उक्त मुकदमें से सम्बन्धित 3 अभियुक्तों 1. कमलेश कुमार सरोज पुत्र प्यारे लाल निवासी रसूलपुर गुलरहा थाना अन्तू जनपद प्रतापगढ़ 2. रामकरन सरोज पुत्र कन्धई सरोज निवासी पूरे नेवाज खां का पुरवा, खाना पट्टी, थाना- लालगंज- जनपद प्रतापगढ़ 3. बृजेश सरोज पुत्र राम सुमेर निवासी सरियावां ताजपुर थाना कुण्डा जनपद प्रतापगढ़  को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार अभियुक्तों के कब्जे से उपरोक्त घटना/मुकदमें से सम्बन्धित 1,79,000/- रूपये,  2अदद फर्जी पासबुक, 1अदद पैनकार्ड, 1अदद आधार कार्ड, 3अदद मोबाइल फोन, 1अदद चेकबुक व 1अदद एटीएम कार्ड बरामद किया गया। 

 

पूछताछ का विवरण पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में गिरफ्तार अभियुक्त कमलेश कुमार सरोज ने बताया कि मै लोगों से कमीशन लेकर उनके पीएफ खाते से उनका पैसा निकलवाने का काम करता हूं। मैं अपने साथी बृजेश सरोज जो कि आधार कार्ड/पैन कार्ड/जाति प्रमाण पत्र आदि बनाने का काम करता है से कुछ लोगों का आधार कार्ड व पैन कार्ड की फोटो मंगाई थी, उनमें से दिलीप नाम के व्यक्ति के आधार कार्ड व पैन कार्ड से उसका यूएएन नं0 निकाल कर, पीएफ आफिस में काम करने वाले अपने एक साथी की मदद से उस व्यक्ति के पीएफ खाते को चेक कराया तो पता चला उसमें 4-5 लाख रूपये हैं। इस पर हमने अपने मामा के लड़के राम करन सरोज व अन्य साथियों के साथ मिलकर धोखाधड़ी कर उसके खाते से पैसा निकालने की योजना बनाई। इसी योजना के तहत मैने राम करन सरोज की फोटो बृजेश सरोज को भेजकर, दिलीप कुमार यादव (पीएफ खाता धारक) के आधार कार्ड व पैन कार्ड पर रामकरन की फोटो लगाकर एक फर्जी आधार कार्ड व पैन कार्ड तैयार कराया। 


हम लोग बैंक में जाकर इसी फर्जी आधार कार्ड व पैन कार्ड से बैंक में एक नया खाता खुलवाया तथा एटीएम/चेकबुक आदि प्राप्त कर लिया। इन्ही फर्जी कागजात व बैंक पासबुक के आधार पर पीएफ आफिस में काम करने वाले अपने साथी की मदद से पहली बार में 2,09,300/-रूपये व दूसरी बार में 2,54,279/- रूपये निकाले थे तथा उसे (पीएफ आफिस में काम करने वाले) उसके हिस्से के रूप में पहली बार 20,000/- रूपये व दूसरी बार 15,000/- भेज दिये। फर्जी बैंक खाते से नगद/आनलाइन ट्रांजेक्शन/पेटीएम आदि विभिन्न माध्यमों से पैसा निकाले तथा 40,000/- रूपये रामकरन को व 20,000/- रूपये बृजेश सरोज को दिये। मेरे हिस्से में मिले पैसों से मैने अपना कुछ कर्ज चुकाया, कुछ ईंट खरीदी तथा कुछ पैसे इधर-उधर खर्च हो गये, बाकी जो 1,79,000/- रूपये आप लोगों द्वारा बरामद किया गया है, यह उन्ही पैसों में से बचा पैसा है। अभियुक्तों द्वारा बताये गये अन्य तथ्यों के सम्बन्ध में विधिक कार्यवाही की जा रही है। पुलिस टीम में उप निरीक्षक धर्मेन्द्र सिंह मय हमराह थाना कोतवाली नगर जनपद प्रतापगढ़।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें