Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

मंगलवार, 23 नवंबर 2021

दहेज की डिमांड पूरी न होने पर लड़के के पिता द्वारा बारात लाने से किया गया इंकार, दुल्हन के घर मचा कोहराम

3लाख, 51हजार रुपये वर-इच्छा में दे चुका है,बालिका का पिता ! दस लाख रुपए शादी में खर्च करने की थी,योजना 


दो परिवारों के बीच तय होने वाले रिश्तों में दहेज बनता है,विवाद की वजह...

कौशाम्बी दहेज की डिमांड न पूरी होने पर एक युवक के परिजनों ने शादी करने से इंकार कर दिया है वर-इच्छा  की रस्म पूरी हो चुकी है बेटी के पिता ने 3 लाख, 51 हजार रुपए  वर-इच्छा में खर्च कर दिया है और शादी तक 10 लाख रुपए खर्च करने की उसकी योजना थी, परन्तु वर पक्ष से लगातार दहेज़ की माँग बढ़ती जा रही थी दहेज की अधिक डिमांड की मांग को कन्या पक्ष के लोगों ने जब अपनी असमर्थता जताई तो लड़के के पिता ने तय हुई शादी को करने से इंकार कर दिया। लड़की के पिता ने मामले की शिकायत पुलिस से की है मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र की एक बालिका का रिश्ता कोखराज थाना क्षेत्र में तय हुआ था जानकारी के मुताबिक मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र के बसोहनी गांव निवासी संतलाल पुत्र महाराज दीन ने अपनी बेटी प्रियंका की शादी कोखराज थाना क्षेत्र के मालक रेजमा गांव निवासी सत्यदेव पुत्र राम विशाल के साथ तय की थी शादी के पूर्व की सभी औपचारिकताए पूर्ण हो चुकी है।  


बेटी के पिता का कहना है कि 3 लाख, 51 हजार रुपए वर-इच्छा में दिया जा चुका है शादी तक में दस लाख रुपए खर्च करने की योजना थी, लेकिन लड़के के पिता राम विशाल लगातार दहेज़ की डिमांड बढ़ाते जा रहे हैं 28 नवंबर को बेटी के घर बसोहनी बारात जानी थी जिससे बेटी का पिता शादी की तैयारी में लगा हुआ था इसी बीच लड़के के पिता ने दहेज की और डिमांड कर डाली। जब बालिका के पिता संतलाल ने तय दहेज से अधिक देने से इंकार कर दिया तो लड़के के पिता ने 18 नवंबर को बेटी के पिता को फोन करके बारात आने से इंकार कर दिया है लड़के के पिता द्वारा बारात से इंकार किए जाने से लड़की पक्ष के होश उड़ गए। मजबूर होकर लड़की के पिता ने मामले की सूचना कोखराज थाना पुलिस को देकर दूल्हे समेत दूल्हे के पिता समेत अन्य परिजनों के खिलाफ दहेज प्रतिषेध अधिनियम के तहत मुकदमा लिखकर कार्यवाही किये जाने की मांग की है।  


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें