Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

मंगलवार, 30 नवंबर 2021

सिंदूरदान से पहले मचल उठा लड़के का मन, लड़की ने शादी से किया इंकार, दूल्हे के पिता और रिश्तेदार को बनाया कन्या पक्ष के लोगों ने बनाया बंधक

जब दूल्हे को मिर्गी जैसी बीमारी थी तो इतनी बड़ी बात को कन्या पक्ष से छिपाकर शादी करना एक तरह का धोखाधड़ी करना रहा 

जब दूल्हे को मंडप पर आया मिर्गी का दौरा तो दुल्हन ने किया शादी से इंकार...

आजमगढ़। कोरोना काल के बाद शादियों का सीजन बड़े जोर शोर से शुरू हो गया है। एक शादी में सिंदूरदान से पहले लड़की पक्ष वालों ने दूल्हे के पिता समेत परिवार वालों को बंधक बना लिया। बंधक बनाए जाने की खबर सुनते ही बड़ी संख्या में लोग जुट गए और सभी समझौता कराने की कोशिश करने लगे। प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले के जीयनपुर थाना क्षेत्र के छतरपुर दलेल गांव में शनिवार की रात शादी थी और देर रात सिंदूरदान से जुड़े रस्म की तैयारी हो रही थी। इसी बीच लड़के का मन मचलने लगा और फिर हंगामा हो गया। लोगों ने बताया कि शुरू में लड़के की तबीयत खराब होने की बात कही गई, लेकिन बाद में पता चला कि लड़के को मिर्गी का दौरा आया है। इसके बाद लड़की और लड़का पक्ष में तनातनी हो गई।


लड़के को मिर्गी का दौरा आने की भनक लड़की को मिली तो उसने शादी करने से मना कर दिया। इसके बाद दोनों पक्षों में विवाद शुरू हो गया। दोनों पक्षों में विवाद होने लगा और बात हाथापाई तक पहुंच गई। विवाद बढ़ता देख बाराती भागने लगे। गुस्साए लड़की पक्ष के लोगों ने दूल्हे के पिता रामजीत और उनके रिश्तेदारों को बंधक बना लिया और दहेज वापस करने की मांग करने लगे। मामले को लेकर गांव में तरह-तरह की चर्चाएं होती रही और कई लोग दूल्हे पर बीमारी को छिपाने का आरोप भी लगाते हुए दिखे। पुलिस का कहना है कि दोनों तरफ से शिकायत मिली है। दोनों पक्षों को शादी में हुए खर्चे का हिसाब लगाने को कहा गया है। गांव वालों की मानें तो पुलिस ने दोनों पक्षों को खर्चे का हिसाब कर रुपए चुकाने के निर्देश दिए हैं। ऐसा नहीं हुआ तो पुलिस दोनों पक्षों के खिलाफ मामला दर्ज कर सकती है।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें