Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

बुधवार, 27 अक्तूबर 2021

प्रतापगढ़ के लक्ष्मणपुर ब्लाक के आशापुर न्याय पंचायत के अंतर्गत एक ग्राम प्रधान पति का होटल में युवती के साथ रंगरलिया मनाते वीडियो हुआ सोशल मीडिया पर वायरल

पंचायत प्रतिनिधि ने समाज में फैलाई गंदगी, ग्राम प्रधान पति का नहीं रख सका सम्मान और महिलाओं के प्रति दिखा दी अपनी निम्न सोच का घटिया प्रदर्शन 


होटल में ऐसे मनाई जाती है,युवतियों के साथ रंगरलिया...

प्रतापगढ़ जिला में नए-नए कारनामें हर्ष फायरिंग, लूट, हत्या, शोहदों के आतंक के बाद नया मामला सामने आया है। प्रधान पति का एक होटल में रंगरलिया मनाते हुए सोशल मीडिया पर तस्वीर वायरल हुई वायरल वीडियो में प्रतापगढ़ जिले के लक्ष्मणपुर ब्लाक के आशापुर न्याय पंचायत के अंतर्गत किसी ग्राम सभा के प्रधान का बताया जा रहा है वायरल फोटो में प्रधान पति किसी महिला के साथ नजर आ रहे हैं। ऐसे ही ग्राम सभा के मुखिया गांव की महिलाओं से रखेंगें अवैध संबंध तो समाज पर क्या होगा असर ? एक तरफ जहां सूबे की सरकार ढिंढोरा पीट कर सेवा सुशासन की किताब बांट रही है तो वहीं नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान पति गाँव की महिला के साथ रंगरलिया मनाते हुए नजर आ रहे हैं 


रंगरलिया मनाने वाले यह प्रधान पति ऐसे भी है जिसकी सूचना मिली है कि गाँव की बहू बेटियों को गुमराह करके अपने मायाजाल में उन्हें पहले फंसाता है और बाद में फंस जाने के बाद उनका शारीरिक शोषण करता हैसवाल यह उठता है कि ऐसे ही मनचले और कुकृत्य प्रवित्ति के लोग करेगें गाँव के मुखिया का प्रतिनिधित्व तो कैसे होगा गाँव का विकास ? सूत्रों के अनुसार ग्राम प्रधान पति गाँव के विकास के बारे में कम महिलाओं के साथ रंगरलिया मनाने पर विशेष ध्यान दे रहे हैं देखना यह है कि जिले के सम्बंधित अधिकारी ध्यान देकर कार्यवाही करते हैं या नहीं। सवाल उठता है कि समाज में अपने कुकर्मों के जरिये गंदगी कर आने वाली पीढ़ी के बेहतरी के बजाय उसे गर्त में गिराने का कार्य करने वाले को पंचायत प्रतिनिधि के रूप में समाज में सम्मान मिलना चाहिए अथवा नहीं ? इस संदर्भ में अधिकांश लोगों की राय यही होगी कि ऐसे पंचायत प्रतिनिधि का सामाजिक बहिष्कार कर देना ही समाज के लिए हितकर होगा


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें