Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

शुक्रवार, 8 अक्तूबर 2021

हजारों वर्ष पूर्व शिवशक्ति धाम के सौंदर्यीकरण में टीले के समतलीकरण के दौरान पिछले वर्ष नवरात्रि के पहले मिली थी, शिव परिवार के साथ गौरी जी की मूर्ति

शिव और शक्ति के भक्तगणों से विनम्रता के साथ शिवशक्ति धाम परिवार आग्रह करता है कि वो शिवगढ़ में शिवशक्ति धाम पहुँच कर टीले से निकली हजारों वर्ष प्राचीन मूर्ति का दर्शन लाभ प्राप्त करें 


शिवशक्ति धाम के टीले से निकली हजारों वर्ष प्राचीन मूर्ति का दर्शन कर अपनी मनोकामना नवरात्रि के पावन अवसर पर अवश्य पूरा करें। साथ ही यदि संभव हो तो एक बार शिवशक्ति धाम पहुँचकर सम्मुख दर्शन कर अपने सभी मनोरथ की सिद्धि हासिल करें 

सल्तनत काल से पहले की मूर्ति देखने के लिए शिवशक्ति धाम पधारना होगा... 

प्रतापगढ़ सदर विधानसभा का शिवगढ़ गाँव अंतिम गाँव है। बगल का गाँव देवकली, पट्टी विधानसभा में पड़ता है। संसदीय क्षेत्र प्रतापगढ़ जहाँ से भाजपा के सांसद संगम लाल गुप्ता जी प्रतिनिधित्व करते हैं और विधायक सदर राजकुमार पाल अपना दल एस और भाजपा के संयुक्त उम्मीदवार के रूप में उप चुनाव में जीतकर सदर क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं। एमएलसी अक्षय प्रताप सिंह "गोपाल जी" हैं। क्षेत्र के तीनों जनप्रतिनिधियों से शिवशक्ति धाम परिवार शिवगढ़ के शिवशक्ति धाम में पधारने का विशेष आग्रह मूर्ति मिलने के समय किया गया था, परन्तु तीनों जनप्रतिनिधियों में से कोई भी जनप्रतिनिधि शिवशक्ति धाम नहीं पहुँच सका। सांसद संगम लाल गुप्ता को छोड़ दें तो विधायक सदर राजकुमार पाल एवं एमएलसी अक्षय प्रताप सिंह "गोपाल जी" द्वारा कोई कार्य शिवशक्ति धाम के विकास के लिए नहीं किया गया। 


एक वर्ष पहले मिली थी,सैकड़ों वर्ष पुरानी शिव परिवार गौरी जी की मूर्ति...

सूबे की योगी सरकार के कद्दावर कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह "मोती सिंह" एवं जिले के प्रभारी मंत्री डॉ नीलकंठ त्रिपाठी जी से भी शिवशक्ति धाम परिवार विशेष आग्रह किया था कि वो भी एक बार अपना अमूल्य समय निकाल कर शिवशक्ति धाम शिवगढ़ पहुँचकर शिव और शक्ति का दर्शन अवश्य प्राप्त करें। ये शिवशक्ति धाम परिवार के लिए सौभाग्य की बात है कि जिले के प्रभारी मंत्री डॉ नीलकंठ त्रिपाठी जी ही पर्यटक और संस्कृति मंत्रालय के मंत्री हैं। उनसे करबद्ध निवेदन किया गया था कि वो अपना अमूल्य समय निकालकर शिवगढ़ स्थित शिवशक्ति धाम पधारे और उसे पर्यटक स्थल घोषित करने की महती कृपा करें। परन्तु विकास पुरुष कहे जाने वाले मंत्री मोती सिंह और प्रभारी मंत्री मंत्री डॉ नीलकंठ त्रिपाठी जी भी शिवशक्ति धाम परिवार के विशेष आग्रह को नजरंदाज कर गए।  


खुदाई में मिली थी हजारों वर्ष पुरानी मूर्ति...

शिवगढ़ समेत पूरा कोहड़ौर क्षेत्र वर्ष-2012 तक पट्टी विधानसभा का क्षेत्र हुआ करता था। विधानसभा चुनाव वर्ष-2012 से यह क्षेत्र सदर विधानसभा में नए परिसीमन वर्ष-2009 के बाद जुड़ गया। जिले के सभी जनप्रतिनिधियों से पिछले एक वर्ष से विशेष आग्रह किया जा रहा है कि वो शिवशक्ति धाम अवश्य पधारे और केंद्र की मोदी सरकार एवं सूबे की योगी की सरकार का ध्यान शिवशक्ति धाम की तरफ आकृष्ट कराएं। भक्तगणों ने सरकार से सवाल किया है कि क्यों न शिवशक्ति धाम की प्राचीनता और उसकी पौराणिकता को आधार मानकर उसे पर्यटक स्थल घोषित कर उसके चहुमुखी विकास की तरफ कार्य कर देश की संस्कृति और सभ्यता के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को पूर्ण करें। सूबे के जल शक्ति मंत्री डॉ महेंद्र सिंह जी का प्रतापगढ़ गृह जनपद है। उनके प्रतिनिधि दिनेश शर्मा जी ने फोन करके शिवशक्ति धाम के विकास के सम्बन्ध में जानकारी हासिल की थी और वहाँ का विकास कराने के लिए अपनी प्रतिबद्धता को उन्होंने दोहराया है।  


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें