Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

गुरुवार, 28 अक्तूबर 2021

प्रयागराज एसटीएफ ने पकड़ा 50000/ का इनामिया बदमाश, शमशाद उर्फ समीर इलाहाबाद के सिविल लाइन स्टेशन के पास से किया गिरफ्तार, प्रयागराज की एसटीएफ यूनिट ने किया गिरफ्तार

एसटीएफ द्वारा 50000/ रुपये का पकड़ा गया इनामिया बदमाश शमशाद उर्फ समीर प्रतापगढ़ जनपद थाना कंधई क्षेत्र के सोनाही का है,रहने वाला 


एसटीएफ के उपाधीक्षक नावेन्दु कुमार के नेतृत्व में एसटीएफ प्रयागराज की यूनिट ने शमशाद उर्फ समीर किया गिरफ्तार, गैर प्रान्त में वर्ष- 2018में गैंगवार कर दिन दहाड़े दोहरे हत्याकांड की सनसनीखेज घटना को दिया था,अंजाम 


50000/ इनामिया बदमाश शमशाद उर्फ समीर...

प्रयागराज एसटीएफ यूनिट ने जिस 50000/ इनामिया बदमाश को पकड़ा वह दमन एंड द्वीप में घटना को अंजाम दिया था। शमशाद उर्फ समीर ने दमन में 01-04-2018 को गैंगवार में दो व्यक्तियों की दिन दहाड़े नृशंस हत्या जैसी सनसनीखेज घटना को अंजाम दिया था एसटीएफ द्वारा 50000/ रुपये का इनामिया बदमाश शमशाद उर्फ समीर थाना कंधई के सोनाही का रहने वाला है। एसटीएफ टीम यूनिट प्रयागराज उप निरीक्षक वेद प्रकाश पांडेय, अनिल कुमार सिंह, मुख्य आरक्षी साजिद अली, प्रभंजन पांडेय, विकास तिवारी, आरक्षी सुनील कुमार, उदय प्रताप सिंह, सोनू यादव व आरक्षी चालक अखंड प्रताप पांडेय की टीम द्वारा मुखबिर के बताये स्थान पर पहुंचकर हिकमत अमली से इनामिया बदमाश शमशाद को गिरफ्तार किया गया जिसके पास से एसटीएफ को एक मोबाइल फोन व 560 रूपये नगद बरामद हुए  


एसटीएफ द्वारा इनामिया बदमाश शमशाद उर्फ समीर को थाना सिविल लाइंस प्रयागराज ले गई, जिसके बाद पूछताछ में उसने बताया कि वो गांव के ही वह अलीम के साथ कोलकाता चला गया वहां पर ट्रकों पर खलासीगीरी का काम करने लगा, फिर उसके बाद वह मोहम्मद अनस पुत्र मोहम्मद यूनुस निवासी-वाजिदपुर, थाना- कोहड़ौर, जनपद-प्रतापगढ़ के संपर्क में आने के बाद उसके साथ दमन व द्वीप चला गया इसी दौरान शमशाद की मुलाकात नूर मोहम्मद अनवर थाना-नवाबगंज, जनपद-प्रयागराज दमन में ही हुई जो दमन के साजिद अली मगता और सलीम अकबर खान मूल निवासी शाहपुर थाना-गोधना, जनपद-मुजफ्फरनगर, उत्तर प्रदेश हाल मुकाम दमन तथा जय प्रकाश पांडेय पुत्र उमा शंकर पांडेय निवासी- बाराही नवाड़ा, तहसील- पिंडरा, थाना- फूलपुर, जनपद- बनारस, उत्तर प्रदेश हाल मुकाम दमन के गाड़ियों का ड्राइवर साजिद अली उर्फ सलीम अकबर खान और प्रकाश पांडेय दोनों दमन में स्क्रेप, अवैध दारू एवं ठेके पट्टे का कार्य करते हैं 


बंदरगाहों के नजदीक होने के कारण दमन एवं दीप में स्क्रैप मुख्य व्यवसाय है साथ ही साथ अंग्रेजी व देशी शराब का कारोबार भी चरम पर है स्क्रैप एवं दारू के व्यवसाय में बहुत अधिक पैसा होने के कारण इस व्यवसाय में गैंगस्टर की घुसपैठ रहती है एवं वर्चस्व के लिए गैंगवार की आशंका भी बनी रहती है वहां पर इस तरह के कामों को माफियाओं गैंगस्टर द्वारा ही संचालित किया जाता है साजिद अली मांगता उर्फ सलीम अकबर खान तथा पाटिया उर्फ जय प्रकाश पांडेय दोनों दमन एवं दीव में स्क्रिप्ट एवं शराब के व्यवसाय को लिप्त थे दीपक भाई निवासी- दमन के व्यवसाय में होने वाले इस के धंधे को संभालता था इस ग्रुप के धंधे से होने वाला मुनाफा करीब 30लाख रूपए प्रतिमाह था इस तरह के कारोबार को करने वाला अजय पटेल निवासी दमन के द्वारा साजिद अली मंगता और सलीम अकबर खान तथा पाटिया पाटिया और जय प्रकाश पांडेय दोनों पर दीपक भाई को इस प्रेस के व्यवसाय से हटाए जाने के लिए लगातार दबाव बनाए जाने लगा तथा इसके लिए जमानत जानमाल की क्षति पहुंचाने की धमकी भी दी जाने लगी 


परन्तु अजय पटेल की धमकी के बावजूद दीपक भाई अपने धंधे को जारी रखा इसी बात से बौखलाए अजय पटेल व उसके साथियों ने वर्ष- 2013 में दीपक भाई की गोली मारकर हत्या कर दी दीपक भाई की हत्या के जुर्म में अजय पटेल जेल गया तथा वर्ष- 2018 में जेल से बाहर आया था दीपक भाई की हत्या का बदला लेने के लिए साजिद अली, अकबर खान, जय प्रकाश पांडेय, मोहम्मद अनीस, शमशाद, नूर मोहम्मद उपरोक्त के माध्यम से अजय पटेल की हत्या करने के लिए सुपारी दी थी जिस पर हम लोगों साजिद अली मंगता उर्फ सलीम अकबर खान, जय प्रकाश पांडेय, नूर मोहम्मद, छोटू उर्फ इकरार मोहम्मद, राहुल, रसीद, मोहम्मद अनीस एवं शमशाद अली आदि के द्वारा दिनांक-01/04/2018 को दमन में ही अजय पटेल के इनोवा कार को ओवरटेक करके चारों तरफ से घेरकर गोलियों की बौछार करते हुए अजय पटेल एवं उसके साथियों को दौड़ाया, जिस पर सभी विशाल बार रेस्टोरेंट्स में घुसकर छिपने का प्रयास किए पीछा करते हुए हम लोग भी विशाल बार रेस्टोरेंट्स में घुस गएअजय पटेल व उसके साथी की गोली मारकर हत्या कर दी।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें