Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

शनिवार, 2 अक्तूबर 2021

प्रतापगढ़ में साथी एसडीएम रामजनम यादव के साथ मॉर्निंग वॉक पर निकले अतिरक्त एसडीएम जलराजन चौधरी से लूट का प्रयास हुआ विफल

प्रतापगढ़ में जब एसडीएम सुरक्षित नहीं तो आम जनता की बात करना बेईमानी होगी, शहरियों को सुबह की सैर भी करनी होगी बंद 


कम्पनी बाग में सुबह की सैर पर निकले SDMके साथ लूट का प्रयास हुआ विफल...

पुलिस अधीक्षक प्रतापगढ़ लाख प्रयास करके प्रतापगढ़ को अपराध से मुक्त करने की सोच रहे हों,परन्तु प्रतापगढ़ जनपद के हौसले की दाज़ देनी पड़ेगी। कोतवाली नगर क्षेत्र के सिविल लाइन इलाके में शहीद उद्यान कम्पनी बाग चौक से गायघाट रोड़ पर स्थित है। कम्पनी बाग के आधे एरिया को काटकर ट्रांजिट हास्टल बनाया गया, जहाँ अधिकारियों का निवास स्थान है। कम्पनी बाग के आगे तिराहे पर जिला जज का आवास सहित जजेज कालोनी है। कम्पनी बाग से महज 200 मीटर पहले और अम्बेडकर चौराहे के बीच सिविल लाइन पुलिस चौकी है। अम्बेडकर चौराहे से कम्पनी बाग के प्रवेश द्वार पर आपातकालीन सेवा डायल-112 खड़ी रहती है। बगल में ही ऑफिसर कालोनी है। इतना सुरक्षित जोन में इतनी बड़ी घटना की हिम्मत करना ताज्जुब की बात है। कोतवाली नगर में घटना की तहरीर एसडीएम साहेब ने दे दिया था, परन्तु कोतवाली नगर में मुदकमा लिखा गया या नहीं यह बात अतिरिक्त एसडीएम जल राजन चौधरी बता न सके  

कम्पनी बाग से पहले सीडीओ और एडीएम और एसडीएम आवास है। इन अधिकारीयों के सुबह की सैर कराने के लिए आवास पर लगी सुरक्षा साथ में जाती है। फिर भी सुबह की सैर करने कम्पनी  बाग जाने वाले अतिरिक्त एसडीएम जल राजन चौधरी से पिस्टल सटाकर सुबह-सुबह बेखौफ बदमाशों द्वारा लूट का प्रयास चिंताजनक है और सुरक्षा ब्यवस्था के लिए प्रश्नचिन्ह है। कंपनी गार्डेन के पास अतिरिक्त एसडीएम जल राजन चौधरी का आवास भी है अतिरिक्त एसडीएम जल राजन चौधरी  के साथ लूट के प्रयास की घटना घटित हुई। बाइक सवार बदमाशों ने पहले एसडीएम पर मारा झपट्टा और फिर सटा दी पिस्टल। बदमाशों से भिड़े एसडीएम तो चेन टूटकर टीशर्ट के अन्दर गिरी। दूसरा बदमाश हुआ हमलावर तो जान बचाकर ट्रांजिट हॉस्टल की तरफ भागे अतिरिक्त एसडीएम जल राजन चौधरी। 


सुबह अपर जिलाधिकारी प्रतापगढ़ शत्रोहन वैश्य भी पत्नी संग घूमने कम्पनी बाग जाते हैं। कम्पनी बाग में सुबह टहलने के लिए लगभग 200 लोग प्रतिदिन पहुँचते हैं। अभी कपड़ा ब्यवसायी बलजीत सिंह सरकार के साथ कचेहरी मस्जिद से पहले पल्टन बाजार मोड़ पर लूट हुई थी और पुलिस के हाथ आज भी खाली हैं घटना के दिन सिर्फ सीसीटीवी फुटेज खंगालने तक ही प्रतापगढ़ की पुलिस अपना कर्तब्य समझ कर मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया। इस तरह तो अब सुबह की सैर करना भी मुश्किल भरा कदम हो गया है। जब पुरुषों के साथ ये घटनाएं हो रही है तो महिलाएं तो अपने आपको कदापि सुरक्षित न समझे। कम्पनी बाग में भी पूर्व चेयरमैन हरि प्रताप सिंह अपने कार्यकाल में सीसीटीवी कैमरे लगवाए थे, परन्तु कुछ ही दिनों में वह कैमरे गधे के सिर से सींग की तरह गायब हो गए। अब तो सिर्फ उसके तार देखकर बोध करने होते हैं। कम्पनी बाग में अराजकतत्व का आना चिंता का विषय है  


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें