Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

शुक्रवार, 15 अक्तूबर 2021

प्रतापगढ़ के थाना क्षेत्र हथिगवां से लाखों रूपये की अवैध शराब की बरामदगी के मामले में शराब माफियाओं के एक और प्यादे की हुई गिरफ्तारी

कुंडा इलाके में अभी तक करोड़ों रुपये की अवैध शराब और अवैध शराब बनाने की फैक्ट्री तक पकड़ी गई, परन्तु हकीकत यह है कि यह अवैध शराब का कारोबार पुलिस, प्रशासन और आबकारी विभाग की देखरेख में होता था,सम्पन्न 


सच तो यह है कि कुंडा में अभी भी करोड़ों रुपये की शराब डंप हैं और शराब माफियाओं के जेल जाने के बाद भी उसका तस्करी और बिक्री जारी है, शराब माफिया गुड्डू सिंह और सुधाकर सिंह के जेल जाने के बाद उनके लोग शराब के अवैध स्टाक को इधर से उधर करके उसे अपने ढंग से खपाने का कर रहे हैं,कार्य 


    अवैध शराब के प्रकरण में एक अभियुक्त और किया गया गिरफ्तार... 

वर्तमान पुलिस अधीक्षक प्रतापगढ़ सतपाल अंतिल के कुशल निर्देशन में जनपद प्रतापगढ़ में निरन्तर अवैध शराब के विरुद्ध अभियान चलाये जाने में तनिक भी संदेह नहीं परन्तु इस अभियान में अभी सार्थक पहल नहीं हो पा रही है। क्योंकि असल अभियुक्त पुलिस की गिरफ्त से अभी बहुत दूर हैं अपर पुलिस अधीक्षक पश्चिमी व क्षेत्राधिकारी  कुण्डा के नेतृत्व में कल दिनांक 14.10.2021 को प्रभारी निरीक्षक हथिगवां मय हमराह व आबकारी की संयुक्त टीम द्वारा मुखबिर खास की सूचना पर पुरनेमऊ चौराहे के पास से बिरयानी की दुकान के पीछे जमीन में गाड़ी गयी लगभग 2 लाख, 66 हजार रूपये कीमत की अवैध देशी शराब, अंग्रेजी शराब व बीयर की केन बरामद की गयी थी। साथ ही मौके से एक अभियुक्त रियाज अहमद पुत्र मो0 अली निवासी- पठान का पुरवा, पुरनेमऊ थाना- हथिगवां, जनपद प्रतापगढ़ को गिरफ्तार भी किया गया था। इस संबंध में थाना स्थानीय पर मु0अ0सं0 208/21 धारा-  419, 420, 467, 468, 471, 486, 487, 272 भादवि, धारा- 60/60क/63 आबकारी अधिनियम, धारा- 63 कॉपीराइट एक्ट व धारा- 103, 104 व्यापारी व पण्य वस्तु चिन्ह अधिनियम का अभियोग पंजीकृत किया गया था।    


 रिमांड पर लेने के बाद पुलिस ने शराब माफिया को लेकर कुछ स्टाक पकड़ कर की थी,खानापूर्ति... 

उक्त मुकदमें की विवेचना के क्रम में आज दिनांक- 15.10.2021 को थाना हथिगवां के उप निरीक्षक राजेश कुमार मह हमराह द्वारा उक्त मुकदमें से संबंधित वांछित अभियुक्त बच्चा यादव उर्फ धीरज यादव पुत्र हरीराम यादव निवासी- हियात नगर पूरनेमऊ, थाना- हथिगवां, जनपद- प्रतापगढ़ को थाना क्षेत्र हथिगवां के पूरनेमऊ चौराहे के पास से गिरफ्तार किया गया। मुकदमें से संबंधित अन्य अभियुक्तों के चिन्हीकरण/गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है। गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक चन्द्रभान सिंह, उप निरीक्षक रामअधार सिंह यादव, उप निरीक्षक  शेषनाथ सिंह, उप निरीक्षक अभिमान सिंह, आरक्षी जनार्दन यादव, आरक्षी मनोज कुमार, आरक्षी जितेन्द्र चौहान, आरक्षी अजीत यादव, आरक्षी अनिल कुमार व आरक्षी राजेश सिंह थाना हथिगवां जनपद प्रतापगढ़ शामिल रहे। अभी भी पुलिस जिन अभियुक्तों को अवैध शराब के मामले में गिरफ्तार कर अपनी पीढ़ स्वयं थपथपा रही है, वह सही नहीं है। सच यह है कि कुंडा क्षेत्र में अवैध शराब की फैक्ट्री और उसके भंडारण पर पुलिस और आबकारी विभाग बहुत कुछ बच बचाकर कार्य किया है। हकीकत तो कुछ और है जो पुलिस और आबकारी विभाग जानते हुए भी छिपाने का प्रयास कर रही है।   


फिल्मी अंदाज में शराब माफिया गुड्डू सिंह ने किया था अदालत में आत्मसमपर्ण...

अवैध शराब मामले में सच बात तो यह है कि जो अभियुक्त पुलिस पकड़ कर जेल भेज रही है, वह सिर्फ और सिर्फ शराब माफिया के प्यादे मात्र हैं। असल में जितनी भी शराब कुंडा क्षेत्र में पकड़ी गई उसकी सच्चाई यदि कोई जान ले तो उसके पैरों तले जमीन ही खिसक जायेगी। क्योंकि जिस शराब माफिया के दम पर कुंडा में अवैध शराब की फैक्ट्री चलती थी, वह स्वयं अदालत में आत्म समर्पण कर जेल चला गया और उसके जेल जाने के बाद दूसरा शराब माफिया सुधाकर सिंह पर पुलिस ने एक लाख रूपये का इनाम घोषित कर दिया तो वह शराब माफिया राजधानी लखनऊ के महानगर में STF लखनऊ टीम से सेटिंग करके अपने को गिरफ्तार दिखाकर सुरक्षित हो लिया और बिना चिल्ल पो के ही प्रतापगढ़ पुलिस उसे प्रतापगढ़ ले आई और बिना प्रेस कांफ्रेंस किये ही उसे जेल भेज दिया गया। कुछ दिनों बाद आम जनता में दिखाने के लिए शराब माफिया सुधाकर सिंह को पुलिस ने रिमांड पर लिया और खानापूर्ति कर पुनः जेल पहुँचा दिया। कुंडा क्षेत्र में जितनी अवैध शराब पकड़ी गई उसके कर्ताधर्ता शराब माफिया गुड्डू सिंह और सुधाकर सिंह ही हैं। तीसरा कोई है तो वह राजू सिंह किठावर हैं जो तीन जनपदों में गैंगेस्टर के तहत निरुद्ध हैं और आज भी पुलिस से दूर फरारी काट रहे हैं।   


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें