Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

शनिवार, 2 अक्तूबर 2021

लखनऊ से दिल्ली तक गुहार लगाने के बाद सांसद संगम लाल गुप्ता को मिला लालीपॉप के रूप में SIT की जाँच

प्रतापगढ़ सांसद संगम लाल गुप्ता और पूर्व सांसद प्रमोद कुमार की लड़ाई में पिस रहे हैं,कार्यकर्त्ता 


सांसद संगम लाल गुप्ता की पिटाई में एसआईटी का किया गया,गठन...

सांगीपुर ब्लॉक में 25 सितंबर को कांग्रेस-भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच बवाल और सांसद संगम लाल गुप्ता की पिटाई के मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है। सीओ सदर के नेतृत्व में गठित पांच सदस्यीय टीम घटना के सभी बिदुंओं की गहराई से पड़ताल करेगी। सांगीपुर ब्लॉक में 25 सितंबर को आयोजित गरीब कल्याण मेले में कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच मारपीट और बवाल हो गया था। आरोप है कि इस दौरान भाजपा सांसद संगम लाल गुप्ता की भी पिटाई कर दी गई। इस मामले सांसद संगम लाल गुप्ता, उनके गनर समेत भाजपा कार्यकर्ताओं की तहरीर पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद कुमार, रामपुर खास की विधायक आराधना मिश्रा "मोना" और उनके समर्थकों पर पुलिस ने पाँच मुकदमे दर्ज किए हैं। एक मुकदमा पुलिस की तरफ से भी दर्ज कराया गया है, लेकिन उसमें प्रमोद और मोना के नाम नहीं हैं।


अब इस मामले की जांच के लिए पुलिस उपाधीक्षक के नेतृत्व में एसआईटी का गठन कर दिया गया है। एसआईटी ने बृहस्पतिवार को सांगीपुर थाने पहुंचकर जांच शुरू कर दी। अपर पुलिस अधीक्षक रोहित मिश्रा ने बताया कि शासन के निर्देश पर तत्कालीन प्रभारी पुलिस अधीक्षक प्रतापगढ़ एल आर कुमार द्वारा गठित टीम में पुलिस उपाधीक्षक सदर पवन कुमार त्रिवेदी, उदयपुर थाना प्रभारी सत्येंद्र कुमार राय, उप निरीक्षक राजनारायण यादव, उप निरीक्षक अश्वनी पटेल, उप निरीक्षक जगत नारायण को शामिल किया गया है। यह टीम सभी मुकदमों की विवेचना संयुक्त रूप से करेगी। उधर, सीओ सदर पवन कुमार ने बताया कि एफआईआर की विवेचना के साथ साक्ष्य संकलित किए जा रहे हैं। घटना में शामिल लोगों को चिह्नित किया जाएगा। पुलिस की कार्रवाई से आम जनमानस के मन में यह सवाल कौंध रहा है कि यही मुकदमा अभी किसी ब्यक्ति पर दर्ज हुआ होता तो पुलिस उसे अभी तक जेल पहुँचा चुकी होगी। उक्त पाँचों मुकदमें में जहाँ समर्थकों की गिरफ्तारी पुलिस कर रही है, वहीं प्रमोद और मोना को रामपुरखास विधानसभा में जनसभा करने के लिए खुला छोड़ रखा है

 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें