Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

गुरुवार, 23 सितंबर 2021

CM योगी आदित्य नाथ के सभा स्थल पर सपा कार्यकर्ताओं ने छिड़का गंगाजल, गंभीर धाराओं में दर्ज किया गया मुकदमा

युवजन सभा के प्रदेश सचिव भावेश यादव सहित उनके दर्जनों समर्थकों पर गंभीर धाराओं में दर्ज हुआ मुकदमा, मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ का अपमान करने एवं अराजकता फैलाने के खिलाफ दर्ज हुआ है,मुकदमा 
युवजन सभा के प्रदेश सचिव भावेश यादव के नेतृत्व में सभास्थल पर गंगाजल छिड़कते हुए...

संभल में सीएम योगी आदित्य नाथ के सभा स्थल पर गंगाजल छिड़कने वाले समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है 21 सितम्बर को UP के मुखिया योगी आदित्यनाथ संभल जनपद में 275 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करने के लिए आए थे सीएम योगी का हेलिकॉप्टर मां कैला देवी प्रांगण में उतरा था समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं का आरोप है कि सीएम योगी आदित्य नाथ मां कैला देवी का दर्शन किए बिना ही वापस चले गए इससे नाराज सपा कार्यकर्ताओं ने जहां सीएम योगी ने सभा की थीवहां पर गंगाजल छिड़कर कर उसे कथित रूप से शुद्ध किया। 


सस्ती लोकप्रियता के लिए कुछ भी करने को तैयार हैं, आधुनिक नेता...

इस मामले में युवजन सभा के प्रदेश सचिव भावेश यादव समेत 8-10 अज्ञात लोगों के खिलाफ गम्भीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है रिपोर्ट के अनुसार संभल जनपद के बहजोई थाने में आईपीसी की धारा- 153-A, 295-A और 505 के तहत मुकदमा दर्ज हुआ है सीएम योगी की वापसी के बाद कैला देवी हेलीपैड़ से लेकर मंच तक गंगाजल का छिड़काव करने पर सपा के प्रदेश सचिव भावेश यादव और 10 अज्ञात लोगों  को आरोपी बनाया गया है। राजनीति में विरोध का अपना स्थान है,परन्तु विरोध का भी एक तरीका होना चाहिए उसके लिए भी लक्ष्मण रेखा खींचने का समय आ चुका है। सस्ती लोकप्रियता के लिए विरोध स्वरूप कुछ भी करने का अधिकार नहीं होना चाहिए। मुकदमा लिखना और उस एक्शन लेना भी अलग विषय है। सरकारी मशीनरी का एक तरह से यह दुरूपयोग है। इस पर और कड़ी सजा का प्राविधान होना चाहिए। 

    

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें