Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

विज्ञापन

विज्ञापन

शुक्रवार, 3 सितंबर 2021

भ्रष्ट खण्ड शिक्षा अधिकारी सदर प्रतापगढ़ राम शंकर को 10 हजार रूपये की रिश्वत लेते विजिलेंस टीम ने रंगे हाथ किया गिरफ्तार

प्रयागराज मंडल के ऑपरेशन मिशन के दूसरे दिन (आज) बेसिक शिक्षा में बड़ा धमाका 


प्रदेश के 200 भ्रष्ट कार्मिक यूटा के रडार पर, प्रतापगढ़ में मंगरौरा BEO कनौजिया के बाद सदर BEO राम शंकर घूंस लेते हुए गिरफ्तार, पूर्व BSA अशोक कुमार सिंह के दोनों खास BEO का प्रतापगढ़ में हो गया बंटाधार

विजिलेंस टीम ने खंड शिक्षा अधिकारी रामशंकर को रिश्वत लेते रंगे हाथ किया गिरफ्तार 

शिक्षा विभाग जहाँ बच्चों को शिक्षा और संस्कार दिया जाता है, वहाँ शिक्षकों से घूंस लेने की बात जब प्रकाश में आती है तो मन खिन्न हो जाता है। हमारा समाज धन संग्रह करने की चाहत में कितना गिर गया है ? ऐसे शिक्षक और उनके अफसर बच्चों को क्या शिक्षा देंगे ? पहले बच्चों के खेल के सामान को खरीदने में कमीशन खाया ! कपड़े, जुते, मोजे, बेल्ट और स्कूल बैग सहित स्वेटर के लिए आवंटित बजट में कमीशन खाया ! बिना पढ़ाये वेतन खाया और अब शिक्षकों से ही घूंस खाने का मामला प्रकाश में आया है। चुल्लू भर पानी में डूब मरना चाहिए ऐसे धन पिपासु लोगों को...
 

प्रतापगढ़। बेसिक शिक्षा विभाग में भ्रष्टाचार रुकने का नाम नहीं ले रहा है, विजिलेंस टीम ने आज बड़ी कार्यवाही करते हुए सदर ब्लॉक के खंड शिक्षा अधिकारी रामशंकर को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। उक्त खण्ड शिक्षा अधिकारी (बीईओ) द्वारा सदर ब्लॉक के ही जूनियर हाईस्कूल बड़ा पुरवा में कार्यरत शिक्षक प्रभाकर प्रताप सिंह से उनके चयन वेतनमान स्वीकृत करने एवं लंबित बोनस दिए जाने की एवज में 10 हजार रुपये की मांग की जा रही थी। पीड़ित शिक्षक उक्त कार्य के लिए करीब 2 माह से लगातार बीईओ से अनुरोध कर रहे थे, लेकिन बीईओ बिना रिश्वत लिए काम करने तैयार नहीं थे। शिक्षक ने बीईओ के द्वारा रिश्वत की माँग की रिकार्डिंग कर ली थी तत्पश्चात शिक्षक ने शिक्षक संगठन-यूटा के जिलाध्यक्ष मुकेश कुमार दुबे व जिला महामंत्री नीरज सिंह से संपर्क किया। संगठन के पदाधिकारियों ने पीड़ित शिक्षक को विजिलेंस मुख्यालय इलाहाबाद में शिकायत कर भ्रष्टाचारी को जेल भिजवाने के लिये प्रेरित किया।


शिक्षक प्रभाकर प्रताप सिंह ने पूरा प्रकरण सतर्कता अधिष्ठान के पुलिस अधीक्षक के समक्ष साक्ष्य सहित प्रस्तुत किया। विजिलेंस टीम ने प्रकरण की गोपनीय जांच करवाई। तदोपरांत आज विजिलेंस टीम ने प्रतापगढ़ में आकर छापे के लिये गुप्त जाल बिछाया और दस हजार के नोट पर पाउडर लगाकर शिक्षक को सौंपे। शिक्षक ने बीईओ से फोन पर पैसे देने के लिये बात की। बीईओ ने शिक्षक को दस हजार रुपये लेकर बुलाया। शिक्षक बीईओ के द्वारा बुलाये गए स्थान पर पहुंचे और रिश्वत के पैसे बीईओ को दिए। जैसे ही शिक्षक प्रभाकर प्रताप सिंह ने बीईओ राम शंकर को दिए, वैसे ही सिविल ड्रेस में लगे विजिलेंस की टीम के लोगों ने मौके से ही रिश्वत के नोटों सहित बीईओ सदर राम शंकर को दबोच लिया और उनके हाथ को धुलाया गया तो नोटों पर डाले गए पाउडर का रंग छूटने लगा। जिससे यह तय हो गया कि ये वही नोट है जो शिक्षक से घूंस के तौर पर बीईओ राम शंकर ने लिए थे 


प्रतापगढ़ कोतवाली नगर के बाहर यूनाइटेड टीचर्स एसोसिएशन के पदाधिकारीगण...


प्रदेश के 200भ्रष्ट कार्मिक यूटा के रडार पर...


यूटा के प्रदेश अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह राठौर ने बताया है कि बेसिक शिक्षा विभाग में एरियर बिल, अवकाश स्वीकृत, चयन वेतनमान लगाने की एवज में जमकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है कई जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी व भारी संख्या में खण्ड शिक्षा अधिकारी निरीक्षण की आड़ में शिक्षकों से अवैध बसूली कर रहे हैं प्रदेश भर से शिक्षकों व्यापक स्तर पर शिकायत करते हैं। यूनाइटेड टीचर्स एसोसिएशन (यूटा) ने प्रदेश भर के विभिन्न जनपदों के 200 भ्रष्ट कार्मिकों को चिन्हित किया है। शिक्षकों को भ्रष्टाचार के विरुद्ध लड़ने के लिये संगठन प्रेरित कर रहा है। जल्द ही भ्रष्टाचारियों को यथास्थान भिजवाया जाएगा।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें