Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

विज्ञापन

विज्ञापन

शुक्रवार, 10 सितंबर 2021

हत्या के अभियोग में वांछित अभियुक्त कपिल वर्मा को अंतू पुलिस ने किया गिरफ्तार

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम में कपिल वर्मा और रोशनी के साथ हुआ था, विवाह ! महज डेढ़ वर्ष में ही पति कपिल के मन में पत्नी रोशनी के प्रति चरित्रहीन होने का शक जन्म लिया और अन्ततः पत्नी रोशनी की हत्या कर डाली 


वांछित अभियुक्त कपिल वर्मा को अंतू पुलिस ने किया गिरफ्तार... 
   

प्रतापगढ़ अन्तू थाना क्षेत्र के चन्दिका से सरूवावा जाने वाली सड़क के किनारे एक अज्ञात महिला का शव दिनांक- 04.09.2021 को बरामद हुआ था। पुलिस द्वारा शव के पंचायतनामा व पोस्टमार्टम की कार्यवाही करवाते हुये शव के शिनाख्त हेतु निरन्तर प्रयास किये जा रहे थे। इसी क्रम में दिनांक 09.09.2021 को थाना- अन्तू पर आवेदिका उषा देवी पत्नी स्व0 श्यामलाल वर्मा निवासी ग्राम- चौबेपुर, थाना- अन्तू, जनपद- प्रतापगढ द्वारा यह सूचना दी गयी कि उनकी पुत्री रोशनी वर्मा का विवाह दिनांक- 10.02.2020 को मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम में कपिल वर्मा पुत्र मुन्नू वर्मा निवासी ग्राम- गड़वारा, थाना- अन्तू, जनपद- प्रतापगढ के साथ हुआ था। 


लड़की की माँ उषा देवी ने बताया कि दिनांक- 03.09.2021 को उसकी शादीशुदा बेटी रोशनी शौच के लिये गयी थी, लेकिन बापस नहीं आयी जिसकी उनके द्वारा खोजबीन की जा रही थी कि सोशल मीडिया के माध्यम से उन्हें यह पता चला कि थाना क्षेत्र अन्तू के चन्दिकन में सड़क के किनारे एक शव मिला है मोबाइल में फोटो में शव का चेहरा व कपड़ा देखकर वह पहचान गयी कि यह उनकी पुत्री ही है उनके द्वारा यह बताया गया कि कपिल वर्मा उपरोक्त व उसके साथियों द्वारा उनकी पुत्री की हत्या की गयी। वादी की इस तहरीर/सूचना पर थाना- अन्तू पर मु0अ0सं0 368/21 धारा- 302/201 भादवि का अभियोग पंजीकृत किया गया। मुकदमें की विवेचना/अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु किये जा रहे प्रयास के क्रम में थानाध्यक्ष अन्तू द्वारा मुखबिर खास की सूचना पर उक्त मुकदमें सें संबंधित अभियुक्त कपिल वर्मा उपरोक्त को थाना क्षेत्र के चौरा गांव के पास से गिरफ्तार किया गया।


गिरफ्तार अभियुक्त कपिल वर्मा उपरोक्त द्वारा पूछताछ में बताया गया कि मेरी पत्नी रोशनी वर्मा किसी से फोन पर अक्सर बात किया करती थी और उसकी आदतें सही नहीं थी। मेरे कई बार मना करने पर भी वह नहीं मानी और दिनांक 02.09.21 को अपने घर ग्राम चौबेपुर चली गयी थी। चरित्र पर शक करने वाले पति और पत्नी का जीवन कलह से भरा होता है। पति चाहता है कि उसकी पत्नी किसी पराये मर्द से बात न करे और कहीं गलती से आज के आधुनिक दौर में पत्नी मोबाइल से किसी से पराये मर्द से बात करते मिल जाये तो उसका शक और गहरा जाता है और वह शक की आग में जलने लगता है। कपिल वर्मा और रोशनी के बीच भी वही हुआ। शक का बीज इतना खतरनाक जन्म लिया कि कपिल वर्मा ने पत्नी रोशनी को मार डाला   


मैनें उसे दिनांक- 03.09.2021 को सुबह ग्राम तिगुडी जहां मेरा एक अर्ध निर्मित मकान है, वहां पर बुलाया और वाद विवाद होने पर उसके दुपट्टे से गला दबाकर उसकी हत्या कर दी थी। उसके पश्चात शव को वही पर छिपा दिया था और उसी दिन शाम को अंधेरे में जाकर मैंने शव को अपनी मोटर साइकिल में बैठने की अवस्था में पीछे रखकर बांध लिया। उसे ले जाकर चन्दिका से सरूवावा जाने वाली सड़क के किनारे फेंक दिया था उसका मोबाइल फोन, पायल, गले का लॉकेट व नाक की बाली निकाल लिया था उसे अपने घर के पास जमीन में गाड़ दिया था। अभियुक्त की निशादेही पर उक्त सामान को उसके बताये गये स्थान से बरामद किया गया है। पुलिस टीम में थानाध्यक्ष अर्जुन सिंह, कांस्टेबल पुष्पेन्द्र यादव, कांस्टेबल शिवशंकर यादव, कांस्टेबल सौरभ यादव, महिला कांस्टेबल बबली व कांस्टेबल चालक अक्षय चौधरी थाना- अन्तू, जनपद- प्रतापगढ़।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें