Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

विज्ञापन

विज्ञापन

गुरुवार, 19 अगस्त 2021

बस्ती के दुबौलिया थाना क्षेत्र के एक गांव में रंगरेलियां मनाने गए दरोगा जी को बांधकर ग्रामीणों ने की जमकर पिटाई

दरोगा अशोक चतुर्वेदी ने ग्रामीणों पर फायरिंग की,जिससे आक्रोशित भीड़ ने खंभे में बांधकर दरोगा जी को पीटा...!!!


ग्रामीणों ने रंगरसिया दरोगा की पहले पिटाई की, बाद में खम्भे से बाँधे गए दरोगा जी... 


बस्ती दुबौलिया थाना क्षेत्र के एक गांव में काफी दिनों से लोग इस बात का इंतजार कर रहे थे कि दरोगा जी इस बार रंगरेलिया मनाने आये तो उन्हें रंगे हाथ पकड़ा जाए आखिरकार वह दिन आ गया जब दरोगा उस गाँव पहुँचे, जहाँ अक्सर दरोगा जी रंगरेलिया मनाने जाया करते थे ये बात ग्रामीणों को खराब लगती थी इस बार ग्रामीणों ने मन बनाया कि आशिक मिजाज दरोगा इस बार बचकर सही सलामत गाँव से जाने न पायें क्योंकि दरोगा जे के कुकृत्य से गाँव की बड़ी बदनामी हो रही थी इसलिए इस बार दरोगा जी जैसे ही सकूल के पास अपनी माशूका से मिलने कमरे के अंदर पहुँचा वैसे ही ग्रामीणों ने उस कमरे को चारोंतरफ से घेर लिया 


एसपी आशीष श्रीवास्तव ने तत्काल प्रभाव से दरोगा को कर दिया निलंबित...


बुधवार रात करीब 10:30 बजे गांव के स्कूल के पास पल्सर बाइक खड़ी मिली तो ग्रामीणों को शक हुआ कि कहीं दरोगा जी की पल्सर तो नहीं शक जब हकीकत में बदलता गया तो देखते ही देखते काफी संख्या में लोग आसपास खड़े होकर दरोगा जी के बाहर निकलने का इंतजार करने लगे। इसी बीच जब दरोगा जी बाहर निकले तो अपने को लोगों से घिरा देख हवाई फायर कर दिया। इस पर नाराज ग्रामीणों ने दरोगा की पिटाई शुरू कर दी।ग्रामीणों ने दरोगा जी पहले मेहमानवाजी किये और एक गम्भे में दरोगा जी को बाँध दिए। अभी तक दरोगा जी का इश्कबाजी वाला भूत उतर चुका था ग्रामीणों की सूचना पर दुबौलिया पुलिस और आपातकालीन सेवा डायल UP-112 की टीम मौके पर पहुँची


ग्रामीणों ने दरोगा जी को पुलिस को सुपुर्द कर दिया। दरोगा को इलाज के लिए सीएचसी ले जाया गया है। पूरी घटना की किसी ने वीडियो बना डाली और वह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। योगी सरकार में इन दिनों पुलिस विभाग से जुड़े अधिकारी नाक कटवाने का कार्य कर रहे हैं। दरोगा अशोक चतुर्वेदी दो साल से दुबौलिया थाने में तैनात है दरोगा अशोक चतुर्वेदी पर आरोप लगा है कि वह चरित्र का ठीक ब्यक्ति नहीं है उसके द्वारा किये जारे कुकृत्य से गाँव का माहौल खराब हो रहा था। दरोगा होने का रुबाब दिखाकर किसी गाँव में कोई खुलेआम अय्यासी करने जायेगा तो ग्रामीणों में उबाल आएगा और कल वही हुआ भी उक्त मामला दुबौलिया थाना क्षेत्र के ऊंजी गांव की है। योगी की पुलिस जब अपने आचरण पर नियंत्रण नहीं कर पा रही है तो अपराध और कानून ब्यवस्था पर नियंत्रण क्या खाक कर सकेगी...???
  

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें