Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

विज्ञापन

विज्ञापन

शनिवार, 28 अगस्त 2021

मॉर्निंग वॉक पर निकले सरदार बलजीत सिंह के साथ कोतवाली नगर पल्टन बाजार मोड़ पर तीन अज्ञात बदमाशों ने लूट की घटना को दिया अंजाम

डेढ़ से दो लाख के बीच शरीर पर पहने आभूषण को तमंचे की नोक पर तीन अज्ञात बदमाशों ने लूट की घटना को अंजाम देकर आराम से फरार हो गए और पीड़ित हल्ला गुहार लगाता रहा...!!!


लूट की घटना का शिकार हुए सरदार बलजीत सिंह...

कैबिनेट मंत्री मोती सिंह अभी कल ही पुलिस अधिकारियों के बीच अपराध समीक्षा कर रहे थे और अपराध पर नियंत्रण पर पुलिस वालों से अपने विचार ब्यक्त कर रहे थे। प्रतापगढ़ में खाकी का अपराधियों के मन में कोई भय नहीं रह गया है। सच तो यह है कि अपराधियों पर नियंत्रण इसलिये नहीं लग पाता क्योंकि 90फीसदी अपराधी सांसद, विधायक और मंत्री के संरक्षण में पलते हैं और इन्हें पनाह भी यही लोग देते हैं। साथ ही पुलिस के पकड़ने पर यही माननीय लोग फोनकर पुलिस से इन्हें छोड़ देने का फरमान भी सुना देते हैं।


तेज तर्रार पुलिस अधीक्षक सतपाल अंतिल प्रतिदिन शहर में वाहन चेकिंग लगवाते हैं। कभी-कभी स्वयं भी चेकिंग पॉइंट पर पहुँच जाते हैं। कल शाम सदर मोड़ पर वाहन चेकिंग के दौरान पुलिस वाले दौड़ा दौड़ाकर वाहनों को पकड़ रहे थे। आज सुबह ही शहर के बीचोंबीच लूट की घटना का होना पुलिस की सक्रियता पर सवाल खड़ा करता है। प्रतापगढ़ कोतवाली नगर के भंगवाचुंगी से कचेहरी रोड़ पर रिफ्यूजी कालोनी गुरुद्वारा के सामने पल्टन बाजार मोड़ पर सुबह 5:23 पर तीन अज्ञात बाइक सवार बदमाशों ने शहर के कपड़ा ब्यवसाई बलजीत सिंह के साथ उस समय असलहा लगाकर लूट कर लिया गया जब वह सुबह कंपनी बाग मॉर्निंग वाक करने जा रहे थे।

 

कपड़ा ब्यवसाई बलजीत सिंह कोतवाली नगर पुराना माल गोदाम रोड़ अपने आवास से प्रतिदिन कम्पनी बाग शहीद उद्यान मॉर्निंग वॉक के लिए जाते हैं। उनके आने-जाने का समय निश्चित रहता है। वह स्कूटी से अपने भतीजे रिंकू के साथ जाया करते थे। रिंकू आज साथ में नहीं था। स्कूटी से 5बजकर 18मिनट पर घर से कम्पनी बाग के लिये निकले थे। कचेहरी मस्जिद से पहले गुरुद्वारा के सामने से सब्जी मंडी की तरफ से आने वाली सड़क से तीन अज्ञात बदमाशों ने अपनी बाइक बलजीत सिंह के स्कूटी के सामने सटा दी और बिना देर किए गले में पहने सोने की चैन को खींच लिया। गले से चैन खींचते समय एक तिहाई हिस्सा टूट कर वहीँ सड़क पर गिर गया था, जिसे पुलिस ने बरामद किया है 


पीछे बैठे दोनों बदमाशों ने बलजीत सिंह पर असलहा सटा रखा था। हाथ में पहनी सोने की एक अगूंठी और सोने के कड़े को भी जबरन खींच कर उतार लिया। लूट की घटना को अंजाम देकर जाते समय बदमाशों ने बलजीत सिंह की स्कूटी की चाभी निकाल कर लेते गए। पीड़ित बलजीत सिंह ने बताया कि उनकी मोटरसाइकिल पुरानी किस्म की थी। पल्सर और अपाची रेसर गाड़ियों में नहीं थी। उसके नम्बर प्लेट को खर्च कर मिटाया गया था। जिससे वह चाहकर भी नम्बर पढ़ न सके। घटना के बाद बलजीत सिंह भंगवाचुंगी पुलिस चौकी गए, परन्तु चौकी पर अदना से होमगार्ड भी नहीं मिला। पीड़ित कोतवाली नगर पहुँचा और अपने साथ घटित घटना की जानकारी दी। 


फिर बलजीत सिंह के साथ पुलिस घटना वारदात पर आई। खोजबीन करने पर सोने की चैन का एक तिहाई भाग पुलिस को सड़क पर गिरा मिल गया। कम्पनी बाग में यह चर्चा बलजीत सिंह के साथी कर ही रहे थे कि आज बलजीत सिंह नहीं आए। तभी किसी साथी ने बताया कि आज बलजीत सिंह के साथ पल्टन बाजार मोड़ पर लूट की घटना घटित हो गई। कम्पनी बाग में मौजूद लोग घटना की सूचना पर दंग रह गए। कहने लगे कि योगीराज में अब सुबह मॉर्निंग वॉक भी करने लायक नहीं बचा। जिले के कप्तान कह रहा है कि अपरधियों से डरने की जरूरत नहीं है, पुलिस उसके साथ खड़ी है और जब घटना घटित हो जाती है तो पुलिस क्या पुलिस चौकी पर एक अदद होमगार्ड भी नहीं मिलते। यही हकीकत है। प्रतापगढ़ की पुलिस बेदम हो चुकी है,उसके बस का कुछ नहीं है। सिर्फ वाहन चेकिंग के नाम पर खाकी वर्दी का रौब आम आदमी पर भले झाड़ ले।     


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें