Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

विज्ञापन

विज्ञापन

सोमवार, 23 अगस्त 2021

योगीराज में पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की मौत के बाद घोषित तीन दिवसीय राजकीय शोक का भाजपा जिलाध्यक्ष और प्रतापगढ़ के सांसद द्वारा किया जा रहा है,मजाक

प्रतापगढ़ के भाजपा सांसद संगम लाल गुप्ता और भाजपा जिलाध्यक्ष हरिओम मिश्र सहित कई भाजपाई नेता खुद ही कर रहे हैं,प्रोटोकाल का उल्लंघन...!!!


रक्षाबंधन का त्योहार फिर आता और महिलाओं को साड़ी अगले रक्षाबंधनके त्योहार पर दी जा सकती थी,परन्तु जन नायक कल्याण सिंह जी बार-बार मृत्यु गति को प्राप्त न होंगे...!!!


अपनी ही सरकार में राजकीय शोक की धज्जियाँ उड़ाते प्रतापगढ़ के सांसद संगम लाल गुप्ता...

पूर्व राज्यपाल एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के निधन पर सरकार की ओर से घोषित राजकीय शोक की कितनी गरिमा के साथ पालन हो रहा है अगर यह जानना है तो यह तस्वीर देख लीजिए। राजकीय शोक के बीच प्रतापगढ़ के सांसद संगम लाल गुप्ता और भाजपा जिलाध्यक्ष हरिओम मिश्र रक्षाबंधन के शुभ अवसर पर महिलाओं के एक कार्यक्रम में न सिर्फ शामिल हुए, बल्कि उनके बीच खींस निपोरते हुए साड़ियों का वितरण भी किया। रक्षाबंधन से ठीक एक दिन पहले शाम को पूर्व राज्यपाल एवं पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की मौत के बाद प्रदेश की योगी सरकार ने तीन दिवस का राष्ट्रीय शोक घोषित कर दिया और बकायदा सोमवार को सभी कार्यालयों को बंद करने का आदेश भी जारी किया है और तीन दिनों का राजकीय शोक का ऐलान किया है। परन्तु इसके बावजूद जनपद प्रतापगढ़ के सांसद जो भाजपा पिछड़ा वर्ग के राष्ट्रीय महामंत्री भी है। उन्हें पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के निधन पर कोई शोक नहीं है।


BJPजिलाध्यक्ष हरिओम और सांसद संगम लाल ने राष्ट्रीय शोक का किया अपमान...

रविवार को प्रधानमंत्री समेत पूरा प्रदेश जब स्व. कल्याण सिंह को नम आंखों से पुष्प अर्पित कर रहा था, तब हमारे सांसद जी एक कार्यक्रम में महिलाओं से राखी बंधवाकर साड़ी बांट रहे थे। पार्टी के पुराने नेता व पूर्व मुख्यमंत्री के शोक के संदर्भ में गजब की आस्था और महिला कार्यकर्ताओ के प्रति गजब का प्रेम है माना कि सांसद संगम लाल गुप्ता जी पढ़े लिखे नहीं है, सिर्फ कक्षा आठ पास हैं, परन्तु पढ़ा लिखा न होने का मतलब तो यह नहीं कि शिष्टाचार ही भूल जाए। इतना तो ब्यवहारिक ज्ञान आम आदमी को भी होता है कि जहाँ शोक हो वहाँ कम से खींस तो नहीं निपोरना चाहिए। हंसने के लिए मनाही नहीं है, परन्तु शोक में तो कम से कम खींस निपोरने से बचना चाहिए। प्रतापगढ़ में सदर मोड़ पर ही एक नेता खींस निपोरने के लिए जाने जाते थे, परन्तु कल प्रतापगढ़ के सांसद संगम लाल गुप्ता भी अपना नाम खींस निपोरने वाली सूची में दर्ज कराकर प्रमाण पत्र जारी करा लेने में बड़ी सफलता अर्जित किये हैं। राष्ट्रीय शोक के मौके पर खींस निपोर कर सांसद संगम लाल गुप्ता ने प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया है। उनके खिलाफ मुकदमा लिखे जाने की माँग आम जनता कर रही है


राजकीय शोक के बीच प्रतापगढ़ के भाजपा सांसद संगम लाल गुप्ता के अपने संगम इंटरनेशनल  स्कूल में हुआ आयोजन...


कोरोना काल की गाइडलाइन का अनुपालन करते प्रतापगढ़ के सांसद संगम लाल गुप्ता... 

राजकीय शोक के बीच प्रतापगढ़ के सांसद संगम लाल गुप्ता के संगम इंटरनेशनल स्कूल में रक्षाबंधन का सार्वजनिक उत्सव आयोजित किया गया, जिसमें सांसद के अलावा भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष और बहुत से पार्टी कार्यकर्ता भी सम्मिलित हुए। पूर्व राज्यपाल एवं पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के निधन पर पूरे प्रदेश में शोक की लहर है। प्रदेश सरकार ने सोमवार को सभी कार्यालयों को बंद करने का आदेश भी जारी किया है और तीन दिनों का राजकीय शोक का ऐलान किया है। प्रतापगढ़ के सांसद संगमलाल गुप्ता भाजपा पिछड़ा वर्ग के राष्ट्रीय महामंत्री भी है। उन्हें कल्याण सिंह के निधन पर कोई शोक नही है। रविवार को प्रधानमंत्री समेत पूरा प्रदेश जब स्व कल्याण सिंह को नम आंखों से पुष्प अर्पित कर रहा था, तब सांसद जी जिलाध्यक्ष हरिओम मिश्र के साथ एक कार्यक्रम में महिलाओं से राखी बंधवाकर साड़ी बांट रहे थे।

1 टिप्पणी:

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें