Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

विज्ञापन

विज्ञापन

शनिवार, 28 अगस्त 2021

अवैध शराब के मामले में दो दिन पहले जेल भेजे गए रण बहादुर सिंह के परिजनों ने पुलिस पर लगाया गंभीर आरोप, सीएम और डीजीपी को पत्र लिखकर की है, जाँच की माँग

जेल भेजे गए रण बहादुर सिंह के परिजनों के आरोपों के बाद शराब माफिया भीमसेन सिंह उर्फ राजू किठावर पर गहराया शक, राजू सिंह को बचाकर उसकी जगह उसके प्यादे के तौर पर रण बहादुर सिंह को कहीं सांगीपुर पुलिस द्वारा जेल तो नहीं भेज दिया गया...!!!


शराब तस्करी के आरोप में जेल भेजेने से पहले सांगीपुर थाने में रण बहादुर सिंह...

सांगीपुर पुलिस ने जिस रण बहादुर सिंह को जेल भेजकर वाहवाही लूट रही है, कहीं वह शराब माफिया भीमसेन सिंह उर्फ राजू किठावर को बचाकर उसकी जगह उसके प्यादे के तौर पर रण बहादुर सिंह को जेल भेज दिया हो ! क्योंकि रण बहादुर सिंह के परिजनों के आरोप से तो यही लगता है कि रण बहादुर सिंह को घर से ले जाने के बाद अवैध शराब के मामले में दो दिन बाद पुलिस ने चालान कर वाहवाही लूट रही है। पुलिस ने फर्जी मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा है। अंतू पुलिस अपने साथ रण बहादुर सिंह को 23 अगस्त की रात ले गयी थी। पुलिस पर शर्ब माफियाओं पर बचाने का आरोप लगते रहे हैं। कुंडा इलाके के शराब माफियाओं से तो पुलिस के गहरे सम्बन्ध निकल कर आये थे और अपर पुलिस अधीक्षक पश्चिमी दिनेश द्विवेदी, सीओ कुंडा, थानाध्यक्ष- हथिगवां और कुंडा समेत उदयपुर थानाध्यक्ष पर कार्रवाई करनी पड़ी थी। पूरे मामले में पुलिस की बहुत किरकिरी हुई थी


शराब की तस्करी करने के खिलाफ रण बहादुर सिंह का 25 तारीख को सांगीपुर पुलिस ने चालान किया। सांगीपुर थाना क्षेत्र का मामला है और रण बहादुर सिंह के परिजन अंतू पुलिस पर आरोप लगा रहे हैं कि रण बहादुर सिंह को घर से किसी मामले में पूँछताछ के लिए ले गई थी और बाद में रण बहादुर सिंह को सांगीपुर पुलिस को सौंप दिया। सांगीपुर पुलिस वाहवाही बटोरने के लिए फेंक मामले में रण बहादुर सिंह को जेल भेजा है। एक सवाल सभी के मन में आता है कि यदि अंतु पुलिस रण बहादुर सिंह को उसके घर से किसी मामले में पूँछताछ के लिए ले गई थी तो रण बहादुर सिंह को सांगीपुर पुलिस को क्यों सौंपना पड़ा ? इस बात का जवाब पुलिस के पास नहीं है। वैसे यह सही है कि पुलिस बड़े अपराधियों को बचाकर उसके स्थान पर उसके प्यादे को ही जेल भेजकर अपना कोरम पूरा करती हैशराब की तस्करी के आरोप में जेल भेजे गए रण बहादुर सिंह के परिजनों ने सीएम व डीजीपी से अंतू और सांगीपुर पुलिस की शिकायत की है। परिजनों ने निष्पक्ष जाँच की मांग की है और दोषी पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई किये जाने की मांग की है


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें