Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

विज्ञापन

विज्ञापन

बुधवार, 11 अगस्त 2021

आशनाई में दोनों दलित युवकों को खेत के पास बुलाकर पहले शराब पिलाया और नशे में होने के बाद दोनों का गला घोंटकर कर दी गयी,हत्या

पुलिस ने डबल मर्डर का किया खुलासा, 9अगस्त को संदिग्ध परिस्थितियों में दो युवकों की हत्या कर धान के खेत में शव फेंका गया था, एसपी प्रतापगढ़ ने 48 घंटे के भीतर किया खुलासा...!!!


प्रेसवार्ता कर डबल मर्डर का खुलासा करते एसपी प्रतापगढ़...

प्रतापगढ़ पट्टी कोतवाली क्षेत्र के सपहा छात गांव में 9 अगस्त, 2021 की सुबह धान के खेत में दो दलित युवक रवीन्द्र कुमार और शिवभोले का शव पाया गया था। रहस्यमय तरीके से हुई दो दलित युवकों की हत्या की घटना की गुत्थी एसपी सतपाल अंतिल ने महज 48 घंटे में ही सुलझा ली है। पुलिस टीम ने न केवल हत्यारों के बारे में जानकारी हासिल की, बल्कि उन्हें छापेमारी कर गिरफ्तार भी कर लिया। पूँछताँछ में पता चला है कि जिन युवकों की हत्या की गयी, उनमें से एक का हत्यारे की बेटी से अनैतिक संबध था और दूसरा उसका सहयोग करता था। आशनाई के मामले में लड़की पक्ष वाले जिस इज्जत के लिए परेशान होकर हत्या जैसी बड़ी वारदात को अंजाम दे देते हैं और खुलासा होने के बाद उसी इज्जत का जनाजा निकल जाता है। फिर न इज्जत बचती है और न धन ही बचता है। एक तरह से धन भी जाता है और धर्म भी चला जाता है। दो परिवार पूरी तरह से बर्बाद हो जाता है


सुभाष ने पुलिस को बताया कि 8 अगस्त की रात वह अपने बहनोई योगेन्द्र और दो अन्य साथियों के साथ रवीन्द्र और शिवभोले को शराब पिलाकर गला दबाकर हत्या की थी। उसने बताया कि हमारी अविवाहित लड़की से रवीन्द्र देर रात तक बात करता था, जिससे हमारी बदनामी हो रही थी। इसी बात को लेकर हम लोग इकट्ठा हुए और घटना को अंजाम दिये थे। धान के खेत में रवींद्र को अकेले शराब पीने के बहाने से बुलाया था, परन्तु रवींद्र के साथ में शिवभोले भी आ गया। शिवभोले हमेशा रवीन्द्र का साथ देता था। हम लोगों ने उन दोनों को शराब पिलाया। बातचीत करते-करते रवीन्द्र और शिवभोले दोनों हम लोगों से लड़ने लगे थे। तब हम लोगों ने रवीन्द्र तथा उसके साथी शिवभोले को गिराकर उनका गला दबाकर दोनों की हत्या कर दिया और शव वहीं खेत में ही छोड़ दिया।


8 अगस्त को घटना हुई थी और 9 अगस्त को दो शव एक साथ मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई थीघटना के सम्बन्ध में सोनई राम की तहरीर पर थाना-पट्टी में अज्ञात के खिलाफ मु.अ.सं. 303/21 धारा- 302 भादवि पंजीकृत किया गया था। पड़ताल के दौरान पुलिस ने सपहा छात के ही सुभाष पुत्र रामयश और सुल्तानपुर जिले के चांदा थाना क्षेत्र के कोथरा गांव निवासी योगेन्द्र पुत्र मोतीलाल को गिरफ्तार किया। पूँछताँछ में पता चला कि योगेन्द्र सपहा छात निवासी सुभाष का बहनोई है। पुलिस अधीक्षक सतपाल अंतिल के लिए प्रतापगढ़ में बढ़ रही आपराधिक घटनाओं ने उन्हें चैन से बैठे न रहने के लिए बाध्य किया। दो शवों के मिलते ही पुलिस अधीक्षक सतपाल अंतिल ने मौका मुआयना किया था। उन्होंने हत्यारों का पता लगाने के लिए पुलिस की चार टीमें गठित की थी। जिसकी वजह से 48 घंटे में ही घटना का खुलासा हो गया

प्रेस कांफ्रेंस करके एसपी प्रतापगढ़ ने बताया कि सुभाष पुत्र रामयश, निवासी- सपहा छात, थाना-पट्टी, जनपद-प्रतापगढ़ और योगेन्द्र पुत्र मोतीलाल, निवासी- कोथरा, थाना-चांदा, जनपद-सुल्तानपुर को पुलिस ने गिरफ्तार किया है और दोनों ने हत्या करने की घटना स्वीकार कर ली हैआए दिन हो रही आपराधिक घटनाओं को लेकर पुलिस की कार्यप्रणाली पर बड़ा प्रश्न चिन्ह लग रहा था अभी दो अभियुक्त फरार हैंआशनाई को लेकर लड़की के परिजनों द्वारा युवकों की धान के खेत में गला दबाकर उनकी हत्या की गई थी घटना में बिना समय लिए अतिशीघ्र खुलासा करने पर खुश होकर एसपी ने एडिशनल एसपी पूर्वी और सीओ पट्टी को घटना का सफल अनावरण करने पर प्रशस्ति पत्र दिया साथ ही घटना का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को एसपी ने दस हजार रूपया का नगद पुरस्कार देकर किया उनका उत्साहवर्धन किया


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें