Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

विज्ञापन

विज्ञापन

रविवार, 15 अगस्त 2021

कार और ट्रेलर की भिड़ंत से एक ही परिवार के 5 लोगों की मौत, 3 गंभीर

राजस्थान के अलवर के रहने वाले एक परिवार के पाँच सदस्यों की सड़क हादसे में हुई मौत,तीन की  हालात गंभीर...!!!


देश में नहीं थम रहे हैं,सड़क हादसे ! एक ही परिवार के लोग सड़क हादसे में हो रहे हैं,शिकार ! सड़क मार्ग से लम्बी दूरी की यात्रा लग्जरी वाहनों से करने करने की वजह बन रही है,सड़क दुर्घटना की प्रमुख वजह...!!!


सड़क हादसे में क्षतिग्रस्त कार...

देश में सड़क दुर्घटनाओं की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। दिखावे के लिए परिवार सहित धार्मिक यात्राओं सहित पर्यटक स्थलों के लिए निकलने वाले परिवार इसके अधिक शिकार हो रहे हैं। फोरलेन, सिक्स लेन पर चलने वाले वाहन काफी स्पीड में चलते हैं और पलक झपकते जब वह दुर्घटना के शिकार होते हैं तो दुर्घटना की स्थिति भयावह दिखती है। अक्सर यह गलती चालक के नींद में आने पर होती है। एक्सप्रेस वे पर अधिक स्पीड में यदि चालक को नींद आई तो वाहन अनियंत्रित होकर दुर्घटना ग्रस्त होने से कोई बचा ही नहीं सकता। 90 फीसदी सड़क हादसे की वजह चालक की लापरवाही की वजह से दुर्घटना घटित होती है।   


कभी-कभी तो लग्जरी कार यदि किसी बड़े वाहनों के बीच टक्कर होती है तो छोटी गाड़ी में सवार यात्रियों के शव को पहचान पाना मुश्किल होता है। छोटे वाहन को गैस कटर से काटकर निकालना पड़ता है। फिर भी लोग इससे सबक नहीं ले रहे है और परिवार का परिवार दुर्घटना का शिकार होकर खत्म हो जा रहा है।पुराने लोग कहते थे कि कोई भी यात्रा एक साथ नहीं करनी चाहिए। इसके पीछे का कथन यह था कि दुर्घटना होने पर घर का चिराग तो नहीं बुझेगा, परन्तु आधुनिकिता की चकाचौंध में लोग पागल हुए हैं और उन्हें समय से पहले कुछ दिखाई ही नहीं देता    


आज राजस्थान के अलवर के रहने वाले एक परिवार के पाँच सदस्यों की सड़क हादसे में मौत हो गई, जबकि तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है ये लोग धार्मिक यात्रा कर वापस अपने घर लौट रहे थे हादसा कठूमर कस्बे में हुआ, मरने वालों में एक महिला और बच्चा शामिल है। ड्राइवर को आई झपकी पुलिस के मुताबिक, अलवर के मालाखेड़ा के एक गांव के रहने वाले एक ही परिवार के आठ लोग गोवर्धन की परिक्रमा लगाकर रविवार को कार से वापस गांव लौट रहे थे कठूमर जाते समय अचानक ड्राईवर को नींद की झपकी आने से कार का ड्राइवर विपरीत दिशा की ओर बढ़ गया तभी सामने से आ रहे ट्राले से कार भिड़ गई, ट्रेलर चालक के मुताबिक उसने कई बार हॉर्न भी बजाया लेकिन सफल नहीं रहा। 


धमाके की आवाज से सहमे लोग हादसा इतना जोरदार था कि आसपास के इलाकों तक धमाके की आवाज हुई। उन इलाकों में रहने वाले लोगों ने बताया कि उन्हें पहले लगा कार का ट्यूब फटा है। आवाज सुनकर वो लोग दुर्घटना स्थल पर पहुंचे तो वहां हादसा देखने के बाद घटना की खबर पुलिस को दी। महिला और बच्चे की गई जान। पुलिस ने बताया कि हादसे के शिकार जूली चौहान, रश्मि और पूरव की हालत गंभीर है। सभी का इलाज कठूमर के सरकारी अस्पताल में चल रहा है इसके अलावा हादसे में सतीश नरुका, वीरू सिंह राजपूत, पूनम, सुरेंद्र सिंह, शिवानी की मौके पर ही मौत हो गई। सभी शवों को अस्पताल की मोर्चरी में रखवाकर हादसे की सूचना परिजनों को दी गई


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें