Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

विज्ञापन

विज्ञापन

रविवार, 22 अगस्त 2021

यौनवर्धक ऑयल की एजेंसी दिलाने के नाम पर 38 लाख की ठगी, नाइजीरियाई समेत दूसरे प्रान्त के 4 ठग हुए गिरफ्तार

देश-विदेश में फैला हुआ है,ठगी का कारोबार ! बुद्धिमान लोग भी अधिक मुनाफे के झांसे में आकर हो जाते हैं,ठगी के शिकार...!!!


एजेंसी दिलाने के नाम पर 38लाख की ठगी करने वाले 4अभियुक्त गिरफ्तार...

38लाख ठगी के मामले में एसीपी साइबर सेल विवेक रंजन राय के मुताबिक गिरफ्तार किए गए आरोपितों में महाराष्ट्र का महेश पवार चेतन पांडूरंग विक्रांत मंगेश और नाइजीरिया का जॉन उर्फ पैट्रिक शामिल हैं। गिरोह का सरगना जॉन है, जिसने दुबई से सैंपल के तौर पर तेल मंगाकर पीड़ित को बेचा था...!!!

 

फर्जी कंपनी बनाकर यौन शक्ति बढ़ाने में इस्तेमाल किए जाने वाला तेल बेचने के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले गिरोह का साइबर सेल और गौतमपल्ली थाने की पुलिस ने राजफाश कर दिया है। आरोपितों ने पूर्व सूचना आयुक्त से 38 लाख रुपये हड़प लिए थे। गिरोह ने दो फर्जी कंपनी बना रखी थी। ई-मेल के जरिए वह लोगों को सस्ते दाम में ओरिजिनल सैंपल बेचते थे। इसके बाद दूसरी फर्जी कंपनी के ईमेल से महंगे दाम में उसे खरीद लेते थे। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में पैकेजिंग वाटर का काम करने वाली कंपनी शेखर इंफ्राटेक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के लेखाकार अशोक सिंह ने पुलिस में FIR दर्ज कराई है 


कोरोना काल के दौरान जब पैकेज्ड ड्रिंकिंग वॉटर का धंधा मंदा पड़ा तो उन्होंने बिजनेस के नए विकल्प तलाशने के लिए दवा के तौर पर इस्तेमाल होने वाले हर्बल लिंगो आयल के बारे में सोशल मीडिया से जानकारी प्राप्त की और हर्बल लिंगो ऑयल बनाने वाली कंपनी आर्या चौधरी हर्बल प्रोडक्ट, मेघालय से संपर्क भी किया, लेकिन संपर्क नहीं हो पाया एसीपी साइबर सेल विवेक रंजन राय के मुताबिक मुनाफा देखकर लोग लालच में आ जाते थे। इसके बाद ज्यादा माल खरीदने का आर्डर देते थे। इसके एवज में उन्हें मोटी रकम भी ट्रांसफर करनी पड़ती थी। गिरोह ने इसी तरह पूर्व सूचना आयुक्त को डेढ़ लाख रुपये एक बोतल लिंगो लिक्वीड आयल सैंपल के तौर पर भेजा था।


पीड़ित को जब इसके इस्तेमाल व बिक्री में फायदा हुआ तो उन्होंने 38 लाख रुपये का आर्डर दे दिया। इस पर ठगों ने उन्हें बोतल में पानी भरकर भेज दिया और रुपये ठग लिए। पीड़ित ने गौतमपल्ली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी।लखनऊ साइबर पुलिस ने शेखर इंफ्राटेक की ओर से दर्ज कराई गई FIR के बाद पालघर महाराष्ट्र से महेश महादेव, चेतन पांडुरंग, विक्रांत मंगेश शिरोडकर और एक नाइजीरियाई नागरिक जॉन उर्फ पैट्रिक को गिरफ्तार किया है गिरोह का सरगना जॉन है, जिसने दुबई से सैंपल के तौर पर तेल मंगाकर पीड़ित को बेचा था। आरोपितों में महेश पवार को छोड़कर तीनों आरोपित पहले मुंबई से जेल जा चुके हैं।


ठगी करने के बाद आरोपित अपना फोन बंद कर नए शिकार की तलाश में लग जाते थे। पीड़ित पूर्व सूचना आयुक्त दुकान खोलना चाहते थे, जिसके लिए उन्होंने तेल का आर्डर दिया था। आरोपियों के कब्जे से 12 लीटर लिंगो लिक्विड आयल भी बरामद हुआ है एसीपी साईबर क्राईम विवेक रंजन राय ने बताया कि ये गिरोह काफी दिनों से इए तरह की ठगी में लगा हुआ है महाराष्ट्र के कई जिलों की पुलिस इन आरोपियों को तलाश भी कर रही है शेखर इंफ्राटेक ने हर्बल लिंगो ऑयल के बारे में इस कंपनी से पूछताछ की और कोटेशन भी भेजा 


कंपनी की ओर से बताया गया कि 1 लीटर तेल का दाम 1 लाख, 80 हजार रुपये है लिंगो ऑयल देने वाली कंपनी ने यह भी बताया कि खरीदा हुआ प्रोडक्ट किसी भी कारणवश वापस करना हो तो उनकी पूरी रकम भी वापस कर दी जाएगीसैम्पल के तौर पर आए एक लीटर तेल से संतुष्ट होने के बाद शेखर इंफ्राटेक की ओर से 37 लाख, 80 हजार रुपए मेघालय की कंपनी को भेजे गए लेकिन जब यह प्रोडक्ट शेखर इंफ्राटेक को दिया गया तो कंपनी को वह प्रोडक्ट संदिग्ध लगा इस पर प्रोडक्ट वापस लेने और पैसा वापस देने की बात कही गई जिसके बाद से ही लिंगो हर्बल लिक्विड ऑयल बनाने वाली कंपनी ने शेखर इंफ्राटेक से बातचीत भी बंद कर दी 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें