Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

विज्ञापन

विज्ञापन

रविवार, 25 जुलाई 2021

बेल्हा स्वाभिमान संघर्ष मोर्चा का खुलासा इंडिया भी करेगा समर्थन

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी से सवाल है कि अभी गोरखपुर में एम्स और बीआरडी मेडिकल कालेज का नाम बदलकर सोनेलाल पटेल कर दिया जाए तो उन्हें कैसी अनुभूति होगी...???


प्रतापगढ़ में मेडिकल कालेज का नाम स्व सोनेलाल पटेल रखने पर जनपद वासियों में आक्रोश...


स्वशासी मेडिकल कॉलेज प्रतापगढ़ का नाम परिवर्तित कर उस ब्यक्ति के नाम योगी सरकार ने कर दिया, जिसका प्रतापगढ़ से कोई वास्ता व सरोकार कभी नहीं रहा। मेडिकल कालेज का नाम प्रतापगढ़ था। वही बहुत बढ़िया नाम था। सूबे की योग सरकार को प्रतापगढ़ मेडिकल कालेज का नाम बदलना था तो बेल्हा के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों, शहीदों, बलिदानियों, शिक्षाविदों, धर्मावलंबियों एवं राजा महराजाओं के नाम पर प्रतापगढ़ मेडिकल कालेज का नाम किये होते। 

सर्व समाज की बात करने वाली पार्टी भाजपा अपने ही सुझाये मार्ग से भटक चुकी है। मोदी और योगी सरकार सीना ठोंक कर कहती है कि सबका साथ सबका विकास। समाज में अंतिम पायदान पर खड़े ब्यक्ति को सरकार की सभी योजनाओं का लाभ जब तक नहीं मिलेगा तब तक सरकार चुप नहीं बैठेगी। परन्तु प्रतापगढ़ में योगी सरकार अपने सभी वादों से पूरी तरह भटक चुकी है कमेरा यानि कुर्मी/पटेल समाज को खुश करके बहुसंख्यक समाज के लोगों की नाराज करके कहीं भाजपा अपना सत्यनाश तो नहीं करा लेगी। 


भाजपा की मति मारी गई है। उसकी दशा अब साँप छछूदर जैसी हो चुकी है। न निगल पा रही है और न उगल पा रही है। उसका यह निर्णय प्रतापगढ़ उसे शिखर से शून्य पर पहुँचाने के लिए पर्याप्त है। अपना दल संस्थापक स्व. सोनेलाल पटेल का रत्ती भर सहयोग नहीं है। प्रतापगढ़ के मान, सम्मान, स्वाभिमान के साथ भाजपा को योगी सरकार जो अपमान किया है। उसके खिलाफ सर्वसमाज, आम जनमानस, युवा, महिला-पुरुष, देश के  कर्णधार छात्र-छात्राओं, समाजसेवी संगठनों के साथ कल दिनांक-26 जुलाई, 2021 श्रावण के पहले सोमवार को सुबह 10 बजे शहीद उद्यान (कम्पनी बाग) प्रतापगढ़ से शुरू हो रहे जन आंदोलन का समर्थन सभी वर्ग सोशल मीडिया पर अपना समर्थन करने के लिए निःसंकोच पोस्ट कर रहे हैं। 


जनपद का नागरिक होने के नाते मेरा भी समर्थन समाज के बहुसंख्यक समाज के लोगों के साथ है। सर्व समाज की बात करने वाली भाजपा का असली चेहरा दिख गया है। विधानसभा आम चुनाव-2022 में कमेरा समाज को लुभाने के लिए अपना दल संस्थापक स्व. सोनेलाल पटेल के नाम प्रतापगढ़ मेडिकल कालेज का नाम रखना यह तय करता है कि भाजपा वोटबैंक के चक्कर में यह निर्णय लिया है जो उसके लिए नासूर साबित हो सकता है। योगी जी का निर्णय कहीं प्रतापगढ़ में भाजपा की लुटिया ही न डुबा दे। जनपद में 7 विधानसभा सीटों में 2 अपना दल एस से विधायक है तो 2 विधायक भाजपा के हैं। भाजपा से लोंगों का जिस तरह से मोह भंग हो रहा है, उससे तो यही लग रहा है कि विधानसभा चुनाव में भाजपा का सूपड़ा न साफ हो जाए। चूँकि आम जनमानस में भाजपा के प्रति नफरत बढ़ता ही जा रहा है। 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें