Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

विज्ञापन

विज्ञापन

गुरुवार, 29 जुलाई 2021

विशेष सचिव शुभ्रा सक्सेना ने स्वशासी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय प्रतापगढ़ का किया निरीक्षण

मेडिकल कालेज के अवशेष कार्य को गुणवत्ता एवं मानक के अनुसार पूर्ण कराये-विशेष सचिव शुभ्रा सक्सेना...!!!


स्वशासी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय का निरीक्षण तो बहाना था, विशेष सचिव शुभ्रा सक्सेना का मेडिकल कालेज संचालित करने के लिए जरूरी उपकरण और अन्य सामग्री की परचेजिंग पर विशेष ध्यान रहा। खरीददारी में कमीशन का खेल पुराना है...!!!


फुल भौकाल में साथ विशेष सचिव शुभ्रा सक्सेना ने किया मेडिकल कालेज का निरीक्षण...


शासन भी अपना प्रतिनिधि भेजकर शासन की मंशा को बताने में नहीं करता कोई गुरेज,कोरोना संक्रमण काल में भी दो दिवसीय दौरे पर प्रमुख सचिव वन सुधीर गर्ग आये बतौर नोडल अफसर प्रतापगढ़ आये थे,बंद कमरे में बैठके हुई और जिला पंचायत के गेस्ट हाउस में आवभगत हुई और तीसरे दिन आल इज बेल बोलकर निकल लिए...!!!


उत्तर प्रदेश और केंद्र सरकार अरबों रुपये का भारी भरकम बजट स्वास्थ्य ब्यवस्था पर खर्च करती है,परन्तु स्थिति में बदलाव और सुधार नहीं आ पा रहा है। स्वास्थ्य विभाग में इस कदर लूट मची है कि कोई पूँछने वाला नहीं है कि जो बजट दिया गया था,उसका क्या हुआ ? कहाँ खर्च हुआ ? जिस मद का था, उसी में खर्च हुआ कि जिसमें अधिक कमीशन मिला उसमें खर्च कर लिया गया ? 


प्राचार्य देश दीपक आर्य से सवाल जवाब करती विशेष सचिव शुभ्रा सक्सेना...


जनपद में जितनी CHC और PHC स्थापित हैं, उनके लिए जो बजट आता है उसे सीएमओ अपने तरीके से खर्च डालता है। रंगाई, पुताई और मेंटिनेंस का सारा बजट चट हो जाता है। उसी तरह जितने मेडिकल कालेज स्थापित किये गए, उनके निर्माण में निर्माण कराने वाली कार्यदायी संस्थाओं से जमकर कमीशनखोरी की गई और अब मेडिकल कालेज की बिल्डिंग बनकर तैयार होने पर मेडिकल कालेज संचालित होने के लिए जो खरीददारी होनी है, उसमें भी शासन और शासन सत्ता से सभी लोग बड़ी ईमानदारी और चालाकी के साथ उसके कमीशन में बंदरबांट कर लेंगे। निरीक्षण करना तो एक बहाना है। शासन की मंशा को स्मरण कराना मुख्य उदेश्य रहता है। देश में न तो भ्रष्टाचार खत्म हुआ है और न ही भविष्य में खत्म होने की संभावना है  


 मेडिकल कालेज प्रतापगढ़ का निरीक्षण करती विशेष सचिव शुभ्रा सक्सेना...


प्रतापगढ़। विशेष सचिव, चिकित्सा शिक्षा विभाग शुभ्रा सक्सेना द्वारा आज जनपद के स्वशासी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान विशेष सचिव ने प्रशासनिक भवन, केन्द्रीय पुस्तकालय, आडिटोरियम, लेक्चर हॉल, प्रयोगशाला, गर्ल्स एवं व्वाय हास्टल, आवासीय भवन, शैक्षणिक भवन का गहन निरीक्षण किया। मेडिकल कालेज के प्राचार्य से विशेष सचिव ने इक्यूपमेन्ट एवं फर्नीचर की उपलब्धता के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की। प्राचार्य द्वारा बताया गया कि 248 फर्नीचर का टेण्डर कर दिया गया है, जिनमें से 54 फर्नीचर प्राप्त हो गये है अवशेष 194 फर्नीचर की आपूर्ति की कार्यवाही की जा रही है। 


परचेज की गई लोहे की रैक पर प्राचार्य से सवाल करती विशेष सचिव शुभ्रा सक्सेना...


विशेष सचिव ने प्राचार्य को निर्देशित किया कि जो इक्यूपमेन्ट प्राप्त हो गये है उनका इन्सटालेशन करा लिया जाये। उन्होने फर्नीचर की क्वालिटी का परीक्षण मुख्य विकास अधिकारी से कराने की अपेक्षा की। अभी तक लिफ्ट का संचालन पूर्ण न किये जाने पर विशेष सचिव ने नाराजगी व्यक्त की और राजकीय निर्माण निगम के परियोजना प्रबन्धक को निर्देशित किया कि अविलम्ब अधूरे कार्य मानक के अनुसार पूर्ण किये जाये। परियोजना प्रबन्धक द्वारा बताया गया कि अक्टूबर तक सभी निर्माण कार्य पूर्ण किये जाने है। अभी तक 85 प्रतिशत कार्य पूर्ण कर लिये गये है। विशेष सचिव ने अवशेष कार्य गुणवत्ता एवं मानक के अनुसार पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया। प्राचार्य द्वारा बताया गया कि अभी तक पर्याप्त स्टाफ की तैनाती नही हो पायी है शीघ्र ही इसकी कार्यवाही पूर्ण कर ली जायेगी। 


फर्नीचर की खरीददारी पर गंभीर दिखी विशेष सचिव शुभ्रा सक्सेना...


महानिदेशक चिकित्सा शिक्षा कार्यालय से स्टाफ की तैनाती हेतु आउटसोर्सिंग एजेन्सी की चयन की कार्यवाही की जा रही है। प्राचार्य ने बताया कि मेडिकल कालेज में कोविड-19 के सम्भावित तीसरी लहर को दृष्टिगत रखते हुये सभी तैयारियॉ पूर्ण कर ली गयी है। इसी दौरान विशेष सचिव ने जिला अस्पताल का निरीक्षण किया। उन्होने नर्सिंग हास्टल, आक्सीजन प्लाण्ट एवं अन्य वार्डो का निरीक्षण किया। प्राचार्य द्वारा बताया गया कि सर्जरी एवं मेडिकल में 78-78 तथा आईसीयू में 20 बेड संचालित किये जा रहे है। इसी के साथ उन्होने पीकू वार्ड का भी निरीक्षण किया, जिसमें 20 बेड आरक्षित किये गये है। निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी प्रभाष कुमार, मेडिकल कालेज के प्राचार्य डा0 आर्य देश दीपक, जिला सूचना अधिकारी विजय कुमार उपस्थित रहे। 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें