Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

विज्ञापन

विज्ञापन

शनिवार, 31 जुलाई 2021

बर्चस्व की लड़ाई के भंवर में फसी प्रतापगढ़ भाजपा,जिला पंचायत सदस्य और अध्यक्ष पद की तरह विधानसभा का हश्र हुआ तो भाजपा का जनपद से हो जायेगा सूपड़ा साफ

प्रतापगढ़ में भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष रवि गुप्ता के कार्यक्रम की सारी तैयारियों पर फिर गया,पानी...!!!


प्रदेश अध्यक्ष से कार्यक्रम की संस्तुति नहीं ली थी, लिहाजा प्रतापगढ़ में भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष रवि गुप्ता के कार्यक्रम में शिरकत नहीं किये प्रदेश अध्यक्ष प्रांशुदत्त द्विवेदी...!!!


भाजपा युवा मोर्चा के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष प्रांशुदत्त द्विवेदी का तीन दिवसीय कार्यक्रम...

देश नहीं बल्कि विश्व का सबसे बड़ा राजनीतिक दल है भाजपा और प्रतापगढ़ की पहचान बड़कवा जिला के रूप में भूमिका का लब्बोलुआब इसलिए कि कल भाजपा युवा मोर्चा के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष प्रांशुदत्त द्विवेदी का जिले में स्वागत कार्यक्रम था। जिसमें कमाल का नाटकीय घटनाक्रम देखने को मिला।


युवा मोर्चा के प्रदेश, क्षेत्रीय और जिला के नेताओं की आपसी कलह में प्रदेश अध्यक्ष प्रांशुदत्त ने जिलाध्यक्ष रवि गुप्ता द्वारा आयोजित स्वागत समारोह में पहले गुटबाजी के चलते स्थान परिवर्तन कराया गया एन केन प्रकारेण रामलीला मैदान के सामने स्थित समारोह स्थल में रवि गुप्ता और उनकी टीम से व्यवस्था की और जोशीले अंदाज़ में प्रतीक्षा कर रहे थे कि तबसे  सूचना मिली की प्रदेश प्रशिक्षण प्रकोष्ठ ने प्रभारी जो कि प्रदेश अध्यक्ष के कार्यक्रम में शामिल थे वो दुर्घटना में घायल हो गए हैं।  


इस वजह से रवि गुप्ता द्वारा आयोजित कार्यक्रम में प्रांशुदत्त जी शिरकत नहीं करेंगे। साथी नेता की दुर्घटना को अगर कारण बताया गया तो जिले के मुकूनपुर में स्वागत, कोहडौर में क्षेत्रीय महामंत्री वरुण सिंह द्वारा सभा मे शामिल होना, घटना की जानकारी विश्वनाथगंज में ही मिल जाने के बाद गोपाला पुर में स्वागत, नगर के बाबागंज और चौक में स्वागत कराते समय साथी के दर्द का एहसास नहीं हुआ सूचना मिली तो साथी को देखने जाने की आवश्यकता नहीं समझी जबकि शीर्ष नेता कल्याण सिंह जी के लिए लाइन लगाकर हालचाल ले रहे हैं। 


भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष द्वारा अपने मोर्चा के जिलाध्यक्ष के कार्यक्रम में शामिल न होना शहर जिले में युवा नेताओं के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है। जिला पंचायत का चुनाव हो, मेडिकल कॉलेज का मुद्दा हो या भाजयुमो का मामला जिले में भाजपा की गुटबाजी अब साफ दिखाई देने लगी है जिससे पार्टी का ध्येय वाक्य सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास जिले में पूरी तरह धुल चुका है। मोदी योगी के नाम की नैया पर बैठकर जिले के नेता चुनाव की बैतरणी पार होने के फ़िराक में हैं जनता के हित से कोई वास्ता नहीं आपसी बर्चस्व की लड़ाई में जीत के लिए हो रही है,राजनीति।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें