Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

शनिवार, 17 जुलाई 2021

कानपुर देहात: यूपी पुलिस के दरोगा ने लांघी सारी मर्यादाएं, दिनदहाड़े महिला की छाती पर चढ़कर बैठा

पुखरायां चौकी इंचार्ज महेंद्र पटेल द्वारा महिला के ऊपर चढ़कर उसको पीटना खाकी को दागदार करने जैसा रहा...!!!

दरोगा की हैवानियत उस समय देखने लायक थी जब अपनी सास को बचाने आयी बहू आरती को भी चौकी इंचार्ज ने नहीं छोड़ा और उसको गिरा कर सीने पर चढ़ गया...!!!

दरोगा के कुकृत्य से शर्मसार हुई खाकी...

यूपी के कानपुर देहात में शनिवार को दिल दहलाने वाली घटना सामने आई दरोगा ने महिलाओं की मर्यादा की सारी सीमाएं तार-तार कर दी अभी लखीमपुर की घटना को चंद रोज भी नहीं हुए कि यूपी पुलिस ने फिर अपना आपा खो दिया मामला कानपुर देहात के भोगनीपुर थाने के दुर्गदासपुर गांव का है जहां भोगनीपुर कोतवाली के पुखरायां चौकी इंचार्ज महेंद्र पटेल और चौकी के चार सिपाहियों ने एक परिवार पर कहर ढहा दिया 

बिना महिला कांस्टेबल के पीड़ित के घर दबिश देने पहुचे चौकी इंचार्ज ने पूरे परिवार की महिलाओं को गांव में रहने वाले इंद्रजीत की पत्नी श्यामा देवी को सड़क पर गिराकर मारा वहीं पीड़िता के सीने पर चढ़कर उसे सार्वजनिक रूप से पीटा जिससे मानवता तार-तार हो गई। मामला सामने आने के बाद कानपुर देहात के पुलिस अधीक्षक केशव कुमार चौधरी ने बताया कि पुलिस दबिश देने गई थी वहां विवाद हुआ जिसके बाद एक महिला और चौकीदार का फोटो और वीडियो वायरल हुआ है 

जबकि महिला का आरोप है कि पुलिस वाले उसके घर वालों को जबरदस्ती पकड़ कर ले जा रहे थे। सवाल यह नहीं है कि पुलिस किसे पकड़ ले जा रही थी और किसे छोड़कर जा रही थी। सवाल यह है कि एक दरोगा वर्दी में एक महिला को पटककर उसके सीने पर सवार हो गया और जमकर उसे पीटा। आखिर कानून के रक्षक दरोगा को यह अधिकार किसने दिया ? वहीं पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पूरे मामले की पुलिस जांच कर रही है, जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें