Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

गुरुवार, 15 जुलाई 2021

सपा मुख्यालय पर लगे होर्डिंगों से आजम खान की फोटो गायब होना मुसलमानों का अपमान- शाहनवाज आलम

वोटबैंक के मद्देनजर विधान सभा चुनाव-2022 के पहले राजनीतिक दलों के नेताओं पर आरोप प्रत्यारोप शुरू...!!!


सपा मुख्यालय पर लगी होर्डिंग्स पर आजम खान की फोटो न लगने से उठ रहे सवाल...


लखनऊ उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन शाहनवाज आलम ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए सवाल किया कि आखिर क्यों समाजवादी पार्टी आजम खान को अपनी होल्डिंग में जगह नहीं देती है अखिलेश यादव का ये मुस्लिम प्रेम सिर्फ वोट लेने तक ही क्यों रहता है ? जब एक तरह आजम पर योगी सरकार अपना शिकंजा कसती जा रही है तो क्यों अखिलेश यादव ने राजनैतिक चुप्पी बना रखी है ? इससे साफ जाहिर होता है कि अखिलेश यादव मुस्लिमों से चिढ़ते हैं। अखिलेश यादव को सिर्फ मुस्लिम मत चाहिए। मुस्लिम मतदाता की समस्या से अखिलेश का कोई सरोकार नहीं है। वर्तमान समाजवादी पार्टी में मुलायम सिंह यादव के जमाने की समाजवादी पार्टी नहीं रह गई। 

 

ईद-उल-अज़हा के मौके पर होर्डिंग्स में आजम खान की फोटो न होने से उठ रहे हैं,सवाल...

योगी सरकार आजम खान को जिस तरह साजिश के तहत फंसाने का काम कर रही है उन्हें अस्वस्थ अवस्था में  भी पुनः सीतापुर जेल में भेज देना मानवीय सम्वेदनाओं के विरुद्ध है शाहनवाज आलम ने सीधे आरोप लगाते हुए सवाल किया कि क्यों अखिलेश यादव आजम खान के मामलों में चुप्पी साध कर बीजेपी का साथ देने का काम कर रहे हैं। जारी प्रेस विज्ञप्ति में शाहनवाज आलम ने कहा कि जिस आजम खान ने अपनी पूरी जिंदगी सपा को दे दीआज उसी के मुख्यालय पर बकरीद के अवसर पर लगे होर्डिंगों से भी उनका फोटो गायब होना, मुसलमानों का अपमान है। मुसलमानों को समझना चाहिए कि जो अखिलेश यादव आजम खान के नहीं हुए, वो आम मुसलमानों की क्या होंगे ?


सपा मुखिया अखिलेश को आजम खान की फोटो से परहेज क्यों...

शाहनवाज आलम ने अपने बयान में एक बार फिर अखिलेश यादव पर मुसलमानों को धोखा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि जिस प्रकार के उत्पीड़न समाजवादी सरकार में मुसलमानों पर किये गए उसे मुसलमान भूला नहीं हैअखिलेश यादव को अब मुसलमानों से चिढ़ होने लगी है। इसीलिए अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी की सालगिरह पर ट्वीट करते हुए वो मुस्लिम शब्द से बचते हुए सिर्फ अलीगढ़ यूनिवर्सिटी लिखते हैं। अंत मे शाहनवाज आलम ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की तारीफ करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी हर तरह से अल्पसंख्यक समुदाय की लडाई लड़ती रहेगी। 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें