Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

विज्ञापन

विज्ञापन

बुधवार, 28 जुलाई 2021

बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा और पूर्व कैबिनेट मंत्री नकुल दुबे प्रतापगढ़ पहुंचे और रानीगंज विधानसभा क्षेत्र के ब्राह्मणों को लुभाने का किया,प्रयास

पूर्व विधायक राम शिरोमणि शुक्ल के गांव रामनगर इलाके में आयोजित बसपा के प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन के बहाने जनमानस में ब्राह्मण ट्रंप कार्ड खेलकर वर्ष-2007 की ताजा कर दी,याद...!!!


प्रतापगढ़ के रानीगंज विधासभा क्षेत्र के रामनगर में हुआ बसपा का प्रबुद्ध वर्ग सम्मलेन...

पुरोहितों के वेद मंत्रो के उच्चारण के बीच रानीगंज विधानसभा के रामनगर इलाके में बसपा का प्रबुद्ध सम्मेलन शुरू हुआ। मंच पर सतीश चन्द्र मिश्रा को माला पहनाकर प्रबुद्धजन और पार्टी के कार्यकर्ताओं ने भब्य स्वागत किया। बसपा नेता विजय मिश्र उर्फ बाबी ने सतीश मिश्र की मंच पर तारीफ की। बसपा द्वारा प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए जिले कि बसपाइयों ने पूरी ताकत झोंक दी। ब्राह्मण वोटरों को साधने के लिए सूबे के अलग-अलग जनपदों में प्रबुद्ध वर्ग सम्मलेन किया जा रहा है। बसपा के पूर्व विधायक राम शिरोमणि शुक्ल के गाँव रामनगर में कार्यक्रम आयोजित किया गया। प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन को सफल बनाने के लिए बसपा नेताओ ने एक सप्ताह से कमर कसी ली थी। आज उसे मूर्तरूप देकर साकार किया। मंच पर बसपा महासचिव सतीश चन्द्र मिश्र और पूर्व कैबिनेट मंत्री नकुल दुबे का भब्य स्वागत किया गया, जिससे वह गदगद हो गए और अपने स्थानीय नेताओं के प्रति आभार ब्यक्त किया। 


प्रबुद्ध वर्ग के सम्मलेन में अपने स्वागत से गदगद दिखे बसपा महासचिव सतीश चन्द्र मिश्र...

आगामी विधानसभा चुनाव-2022 को लेकर सियासत हुई तेज, प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन को सफल बनाने के लिए बसपा नेताओ ने कसी कमर, बसपा के पूर्व विधायक राम शिरोमणि शुक्ल, पूर्व विधायक इंजीनियर संजय त्रिपाठी और विजय मिश्र उर्फ बॉबी का प्रयास रंग लाया और कार्यक्रम से गदगद दिखे बसपा महासचिव सतीश चन्द्र मिश्र। बसपा के पूर्व विधायक इंजीनियर संजय त्रिपाठी ने भी प्रबुद्ध वर्ग के सम्मलेन में भाग लिया बसपा नेता विजय मिश्र उर्फ बॉबी ने लालगंज इलाके में प्रबुद्ध वर्ग के लोगो से जनसंपर्क कर सम्मेलन में शामिल होने के लिए ब्राह्मण समाज से अपील की थी कि अधिक से अधिक संख्या में ब्राह्मण सम्मलेन में पहुँचे और अपनी ताकत का एहसास कराये। बसपा नेता बॉबी ने कहा कि जिले में इकलौते ब्राह्मण युवा विधायक हैं और उन्हें जिलाधिकारी आवास पर कपड़ा फाड़कर दो घंटे जमीन पर लेटना पड़ा और अपनी ही सरकार में उन्हें अपमानित होना पड़ा जब एक विधायक को अपनी ही सरकार में न्याय न पाता हो तो आम जनता की क्या स्थिति होगी ? यह बात आसानी से समझी जा सकती है   


पूर्व कैबिनेट मंत्री नकुल दुबे को गदा सौंपते पूर्व विधायक राम शिरोमणि शुक्ल...

पूर्व बसपा विधायक राम शिरोमणि शुक्ल के गाँव में बसपा का प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन का कार्यक्रम रखा गया था, इस लिहाज से कार्यक्रम की सफलता और असफलता पूर्व विधायक राम शिरोमणि शुक्ल के कन्धों पर थी, सो उन्होंने अपने समर्थकों के साथ दिन रात एक करके क्षेत्र के ब्राह्मणों से आग्रह किया था कि यह प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन ब्राह्मणों की अस्मिता से जुड़ा हुआ है और उसकी नाक का सवाल है। पूर्व विधायक राम शिरोमणि शुक्ल का यही कहना था कि प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में बसपा के महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा के इरादों को मजबूत करिए। जिससे आने वाले विधानसभा चुनाव-2022 में एक बार पुनः बहन मायावती जी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश में सरकार बन सके और बसपा की सरकार में ही ब्राह्मणों का सम्मान सुरक्षित हो सकेगा। पूर्व विधायक राम शिरोमणि शुक्ल ने कहा कि भाजपा सरकार में सबसे अधिक कोई उपेक्षित हुआ है तो वह ब्राह्मण है। सबसे अधिक ब्राह्मणों की हत्या योगी सरकार में हुई है। ब्राहमणों पर राजनीतिक नफे नुकसान के आधार पर फेंक मुकदमें लिखाये जाते हैं जो स्वस्थ लोकतंत्र के लिए ठीक नहीं।    


 सतीश चन्द्र मिश्र को श्रीगणेश जी की प्रतिमा को सौंपते राम शिरोमणि शुक्ल...

बसपा महासचिव सतीश चन्द्र मिश्र की सियासत से अन्य राजनीतिक दलों में भी ब्राह्मण मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के प्रति उत्सुकता दिखने लगी है। ब्राह्मण वोटरों को साधने के लिए बसपा के प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन  में बसपा के महासचिव सतीश चंद्र मिश्र रानीगंज विधानसभा के रामनगर इलाके में पहुँचे तो वहाँ कार्यक्रम में बसपा के पूर्व विधायक रामशिरोमणि शुक्ल और प्रतापगढ़ सदर विधानसभा के पूर्व विधायक संजय तिवारी भी मौजूद रहे। प्रबुद्ध वर्ग सम्मलेन को सफल बनाने के लिए बसपा के पूर्व विधायक राम शिरोमणि शुक्ल ने पूरी ताकत झोंक दी। रामपुर खास विधानसभा से अपनी उम्मीदवारी के लिए प्रयासरत विजय मिश्र "बॉबी" भी अपने समर्थकों संग प्रबुद्ध वर्ग के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए कड़ी मेहनत करके अपना स्थान बनाने में सफल रहे। बसपा महासचिव सतीश मिश्र ने कहा कि भाजपा की कथनी और करनी में बहुत फर्क है। कथनी और करनी सिर्फ बहन मायावती जी की सरकार में दिखाई देता है। इसलिए हम सार्वजनिक रूप से अपील करते हैं कि सूबे में जंगल राज खत्म कर कानून का राज लाना है तो बसपा की सरकार बनानी होगी। 


सतीश चन्द्र मिश्र जी की अगवानी करते राम शिरोमणि शुक्ल और उनके पुत्र अभिनव शुक्ल...

बसपा के तेजतर्रार पूर्व विधायक राम शिरोमणि शुक्ल के गांव रामनगर इलाके में बसपा का प्रबुद्ध वर्ग का सम्मेलन आयोजित हुआ। उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव-2022 को लेकर ब्राह्मण मतदाताओं को रिझाने पर विशेष फोकस रहा। प्रबुद्ध वर्ग सम्मलेन की आड़ में बसपा अपना खोया हुआ जनाधार वापस पाना चाहती है। ब्राह्मण को अपनी तरफ रिझाने का प्रयास सतीश चन्द्र मिश्र और कैबिनेट मंत्री नकुल दुबे करते दिखे।वर्ष-2007 में प्रतापगढ़ जनपद से बीरापुर विधानसभा वर्तमान रानीगंज, सदर प्रतापगढ़ और गड़वारा विधानसभा वर्तमान विश्वनाथ विधानसभा पर बसपा के उम्मीदवार चुनाव जीते थे। संयोग से बसपा के तीनों जीते विधायक ब्राह्मण ही रहे। वर्ष-2007 में बीरापुर से राम शिरोमणि शुक्ल तो सदर से संजय त्रिपाठी और गड़वारा से बृजेश मिश्र "सौरभ" चुनाव जीतकर ब्राह्मणों की ताकत का एहसास कराया था। वर्ष-2007 में भी बसपा महासचिव सतीश चन्द्र मिश्र ब्राह्मण सम्मलेन किये थे।  


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें