Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

सोमवार, 14 जून 2021

प्रतापगढ़ में पत्रकार की संदिग्ध मौत से मचा हड़कंप, पत्रकार ने एक दिन पहले एडीजी प्रेम प्रकाश को पत्र लिखकर की थी सुरक्षा की मांग, घटना के दूसरे दिन दर्ज हुआ मुकदमा

पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की पत्नी रेणुका श्रीवास्तव की तहरीर पर कोतवाली नगर में अज्ञात लोगों पर दर्ज हुआ, हत्या का मुकदमा...!!!

हॉस्पिटल की इमरजेंसी में मृत पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव को देखने पहुँचे विधायक धीरज ओझा...

प्रतापगढ़ एसपी आकाश तोमर छुट्टी से लौटकर संभाला अपना चार्ज। घटना स्थल पर एसपी आकाश तोमर पहुँचकर स्वयं गहनता से सभी बिंदुओं पर की जाँच। तहरीर के मुताविक लिखा गया मुकदमाप्रतापगढ़ में शराब माफियाओं ने कर दी टी वी पत्रकार की हत्या। ऐसा पत्रकार की पत्नी रेणुका श्रीवास्तव ने तहरीत देकर लिखाया है,कोतवाली नगर में हत्या का मुकदमा

मृतक पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की पत्नी रेणुका श्रीवास्तव व बच्चे...

सुधाकर सिंह शराब माफिया में पक्ष में कुछ दिन पहले खबर लिखने से पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव पर उठने लगे थे,सवाल। गुड्डू सिंह शराब माफिया पुलिस के हत्थे न चढ़ा। न्यायालय में सेटिंग गेटिंग करके न्यायालय में सरेंडर होने के मामले में कुछ पत्रकारों पर शराब माफियाओं से गठजोड़ का आरोप लगा था। प्रतापगढ़ के कुछ पत्रकारों पर उठे थे,सवाल। जब सुधाकर सिंह हरिश्चंद्र हैं तो गुड्डू सिंह का पार्टनर आख़िर कौन है ? यह राज सुलभ श्रीवास्तव के साथ दफन हो गया। किसी शराब माफिया को क्लीन चिट देने का कार्य एक पत्रकार के रूप में किसी को नहीं करना चाहिए। इससे पत्रकारिता कलंकित होती है

शराब माफियाओं की धमकी और रेकी से परेशान पत्रकार ने पुलिस के आला अफसरों से लगाई थी,जान बचाने की गुहारबीते 12 जून को निजी चैनल के जिला संवाददाता सुलभ श्रीवास्तव ने जान-माल की रक्षा के लिए शिकायती पत्र लिखकर गुहार लगायी थीशिकायती पत्र में पत्रकार ने लिखा है कि "शराब माफियाओं के खिलाफ उसने मुहिम छेड़ रखी है। खबर से जिले के शराब माफिया नाराज थे। बड़ा सवाल यह है कि मृतक पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव तो पुलिस द्वारा घोषित इनामिया वांटेड शराब माफिया सुधाकर सिंह के बचाव में खबर लिखे थे। ऐसे में कौन शराब माफिया दूसरा पैदा हुआ जो सुलभ श्रीवास्तव से नाराज हुआ था

मृतक पत्रकार के पत्र में आरोप लगाया गया है कि उसकी लगातार रेकी हो रही है। कुंडा सर्किल से लेकर जिले भर में शराब माफियाओं के खिलाफ़ सुलभ श्रीवास्तव ने मुहिम छेड़ रखी थीरविवार की देर रात सड़क पर संदिग्ध दशा में मृत पाए गए सुलभ। जिला अस्पताल में लाया गया तो चिकित्सकों ने सुलभ श्रीवास्तव को कर दिया मृत घोषितपुलिस ने एक्सीडेंट मानकर शुरू की जांच। वीडियोग्राफी से डाक्टरों का पैनल किया गया पोस्टमार्टम। पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार हैमामले की उच्चस्तरीय जांच की पत्रकार संघटनों ने की मांग की है। नगर कोतवाली इलाके के सुखपाल नगर ईंट भट्ठे के पास सड़क पर सुलभ श्रीवास्तव मृत हालत में पाये गए थे। पत्रकार साथियों ने सुलभ श्रीवास्तव को अस्पताल लाकर एडमिट किया,परन्तु चिकित्सकों ने इलाज के थोड़े समय बाद ही सुलभ श्रीवास्तव को मृत घोषित कर दिया

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें