Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

विज्ञापन

विज्ञापन

रविवार, 23 मई 2021

प्रतापगढ़ के सांसद संगम लाल गुप्ता द्वारा कोविड-19 की गाइडलाइन और प्रोटोकॉल की उड़ाई जा रही है,धज्जियाँ

सांसद प्रतापगढ़ संगम लाल गुप्ता के यहाँ वेतन भोगी और विना वेतन के काम करने वाले कुछ लोगों द्वारा सांसद की रोज कटवा रहे हैं,नाक...!!!

गृह प्रवेश और कटरा मेदनीगंज जिसे लिखना न आये वह ब्यक्ति किसकी सिफारिश पर सांसद संगम लाल गुप्ता का आई टी सेल और मीडिया सहित सोशल मीडिया का कार्य देखने की जिम्मेदारी दी गई...???

कोरोना संक्रमण काल में सांसद संगम लाल गुप्ता कर रहे हैं,मछली मंडी जैसी भीड़...!!!

प्रतापगढ़ के सांसद संगम लाल गुप्ता प्रतिदिन स्वयं अपनी इज्जत का निकाल रहे हैं,जनाजा। सत्तापक्ष के सांसद होकर प्रतिदिन कानून के साथ खेलते हैं,कबड्डी। नियम-कानून के साथ करते हैं,भद्दा मजाक। वह ब्यक्ति जो संसद भवन में बनने वाले कानून पर हस्ताक्षर करता हो और वही ब्यक्ति कानून तोड़कर उसका अपमान करें और यह सोचे कि उसके खिलाफ शासन व प्रशासन तो कुछ कर नहीं सकता। क्योंकि वह सत्ताधारी दल का सांसद है। उससे घटिया सोच दूसरी हो नहीं सकती। 

कोरोना संक्रमण काल में सांसद समर्थकों के साथ बिना मास्क लगाये चिपक कर लेते हैं,सेल्फी...

माना कि सांसद संगम लाल गुप्ता कम पढ़े लिखे हैं, परन्तु जनता ने उन्हें अपना सांसद बनाकर माननीय की उपाधि दिया है। प्रतापगढ़ की जनता जानना चाहती है कि जिले में अन्य नेताओं को पीछे छोड़ते हुए सबसे हाईटेक कार्यालय बनाकर सारे संसाधन से लैश करके महीने में लाखों रुपये सेलरी देने के बाद भी सांसद संगम लाल गुप्ता की इज्जत से उन्हीं के अपने लोग उनके साथ खिलवाड़ खेल रहे हैं,आखिर क्यों ? सांसद संगम लाल गुप्ता का घर कटरा मेदनीगंज है और उनके अधिकृत फेसबुक पेज पर जो पोस्ट की गई उसमें कटरा मेहदीगंज लिखा गया। जब अपने घर और गाँव का नाम भी नहीं लिख सकते तो ऐसे दो टके के लोगों को किसकी सलाह और सिफारिश पर सांसद संगम लाल गुप्ता अपना आई टी सेल और मीडिया सहित सोशल मीडिया का कार्य देखने की जिम्मेवारी दे दिए ? सूत्रों के मुताविक सांसद संगम लाल गुप्ता के यहाँ कुछ रोहिग्यां किस्म के शरणार्थी शरण पा लिए हैं। सांसद संगम लाल गुप्ता के राजनैतिक जीवन का जब तक सत्यानाश नहीं कर देंगे तब तक रोहिग्यां किस्म के शरणार्थी वहाँ डटे रहेंगे 

सोशल मीडिया का संचालन करने वाले लोग सांसद संगम लाल गुप्ता की रोज कटवा रहे हैं,नाक...!!!

सांसद के विधिक सलाहकार और स्क्रिप्ट राइटर जो सांसद को परछाई की भाँति पकड़े रहते हैं। आखिर सांसद को अपनी ही सरकार में जारी होने वाली कोविड-19 की गाइड लाइन और प्रोटोकॉल के निर्वहन के विषय में क्यों सलाह व सुझाव नहीं देते ? सांसद संगम लाल गुप्ता जी। आप अपने लिए न सही। परन्तु प्रतापगढ़ की उस जनता के लिए जिसे आप कभी-कभी मंच से देवतुल्य मानकर उनका सम्मान यूं ही करते हैं। उनके लिए ही सही,परन्तु पश्चिम बंगाल के चुनाव खत्म हो गया। वहाँ परिणाम भी आ गए और ममता दीदी की सरकार भी बन गई। परन्तु आप द्वारा पश्चिम बंगाल की भांति अपने संसदीय क्षेत्र में जिस तरह मछली मंडी लगाकर कोरोना संक्रमण के अनुपालन हेतु बनाई गाइड लाइन की धज्जियां उड़ाई जा रही है, वह चिंतनीय ही नहीं बल्कि अचंभित करने वाला है। पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर सांसद संगम लाल गुप्ता के खिलाफ एक शादी समोरोह में कोविड-19 हेतु बनाई गई गाइड लाइन एवं प्रोटोकॉल के उल्लंघन की शिकायत की थी,परन्तु प्रतापगढ़ की पुलिस को सांसद संगम लाल गुप्ता द्वारा कानून तोड़ने के अपराध को दिखाई नहीं देता। जबकि प्रतापगढ़ पुलिस चाहती तो सांसद संगम लाल गुप्ता के सोशल मीडिया के सभी अधिकृत एकाउंट्स पर उनके द्वारा प्रतिदिन कानून तोड़ने के प्रमाण मिल जाएगा

1 टिप्पणी:

  1. देश मे जब इसतरह के लोग आएंगे तो देश का और छेत्र का विकास होगा 🤔 हम सब की यही सजा है बिना सोचे समझे वोट देंगे तो हाल यही होगा

    जवाब देंहटाएं

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें