Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

बुधवार, 5 मई 2021

सीएमओ प्रतापगढ़ डॉ अरविन्द कुमार श्रीवास्तव के भ्रष्टाचार की खुली पोल

कितना नीच, निकम्मा, निर्लज्ज, वेशर्म, अधर्मी, वाहियात, वेवकूफ, वेगैरत इंसान है, प्रतापगढ़ का सीएमओ...???

सरकारी बजट पर डकैती डालने वाले सीएमओ प्रतापगढ़ डॉ अरविन्द कुमार श्रीवस्तव की डकैती और लूट खसोट की एक झलक आप सब भी देखिये...!!!

सत्ता के नशे में मदमस्त भाजपाइयों को नहीं दिखता सीएमओ प्रतापगढ़ डॉ ए के श्रीवास्तव का भ्रष्टाचार। विधायक,सांसद और मंत्री सहित भाजपा जिलाध्यक्ष को नहीं रहता सीएमओ की लूट खसोट से मतलब...!!!

CMO कार्यालय द्वारा मीडिया को जारी हुई प्रेस रिलीज...

आज हम बताते हैं कि स्वास्थ्य महकमा किस तरह जनता के टैक्स के धन को लूटता है और आपदा को अवसर में बदल रहा है कोरोना संक्रमण के प्रथम चरण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वयं यह बात देश की जनता के समक्ष लाइव होकर बोले थे कि आपदा को अवसर में बदलना सीखिए और आत्म निर्भर बनिए। सरकारें आयेगी और जायेगी,परन्तु आपका भला तभी होगा जब आप लोग आत्म निर्भर बनेंगे। देश की जनता भले ही आत्म निर्भर और आपदा को अवसर में बदलने का गुरुमन्त्र स्वास्थ्य महकमें के भ्रष्ट अफसरों ने बढ़िया ढंग से सीख लिया। जिन्हें मेरी बातों पर भरोसा न हो वह कोरोना संक्रमण काल में स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रतिदिन जारी होने वाले आंकड़े पर एक नजर डाल लेना चाहिए, तभी उन्हें ऐतबार होगा स्वास्थ्य विभाग के फरेब को इसलिये भी समझना जरूरी है कि बिना समझे किसी पर आरोप लगाना अनैतिक होगा। इसलिए आरोप की पुष्टि हेतु स्वास्थ्य विभाग के किये जा रहे घपले और घोटाले की छानबीन कर लेनी चाहिए तभी बात बनेगी अन्यथा आरोप लगाने की बात कहकर आरोपी अपना पल्ला झाड़ लेता है। आज हम सीएमओ प्रतापगढ़ के कार्यालय से जारी होने वाली प्रेस विज्ञप्ति का ही पोस्टमार्टम करना चाहते हैं। आईये शुरू करते हैं प्रेस विज्ञप्ति का पोस्टमार्टम
प्रतापगढ़ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी, प्रतापगढ़ के कार्यालय से प्रतिदिन प्रेस विज्ञप्ति जारी की जाती है। उस प्रेस विज्ञप्ति में जो आकड़ें दर्शाये जाते हैं,वह एकदम फेंक होते हैं। रिपोर्ट के पहले आकड़ें को देखिये जो दिनांक 4 मई, 2021 को शाम 4बजे तक का विवरण है,जिसमें कोरोना मरीजों के कुल लिए गए सैम्पल की संख्या-1927 है। आज प्राप्त रिपोर्ट की संख्या-1295 है। कुल कोरोना पॉजिटिव केस-12679 है। रिकवर्ड की संख्या-9019 है। एक्टिव केस 3553 है कोविड एल-2 में भर्ती मरीजों की संख्या-28 है। अन्य चिकित्सालय व अवैटेड फैसीलिटी-185 हैजिले में होम आइसोलेशन की संख्या-3340 है। जबकि कांटेक्ट ट्रेसिंग की संख्या-958 है। यही नहीं जनपद में हॉट स्पॉट की संख्या-1475 है। आज प्राप्त कोरोना रिपोर्ट की स्थिति 1295 में 873 निगेटिव हैं। 422 RT-PCR पॉजिटिव और 11 Truenat और 144 एंटीजन है। कुल मिलाकर 577 पॉजिटिव कोरोना केस 4 अप्रेल, 2021 को जनपद प्रतापगढ़ में पाए गए। बड़ा सवाल है कि प्रतापगढ़ के CMO डॉ अरविन्द कुमार श्रीवास्तव प्रतापगढ़ की अंधी और मतलबी जनता को यह दिखाने की हिम्मत करेंगे कि 1475 हॉट स्पॉट एरिया कहाँ-कहाँ बनाये गए हैं ? उसका खेल कागज पर किया जा रहा और कागज पर ही भुगतान भी हो जाएगा

जनपद प्रतापगढ़ में कुल होम आइसोलेसन की संख्या सीएमओ के आकड़ें के मुताविक 3340 है। निश्चित रूप से यह आंकड़ा पूरी तरह फेंक है। क्योंकि मैं जब CMO ऑफिस में शहरी क्षेत्र का आंकड़ा माँगा और बताया कि जो शहर में यानि नगरपालिका क्षेत्र में होम आइसोलेशन में हों, उनका हमें आंकड़ा दिया जाए ! ताकि उनके यहाँ हम सम्पर्क करके उनका कुशल क्षेम जान सके और उन्हें कोई आवश्यकता हो तो उसकी पूर्ति कर सके। साथ ही यह भी जान सके कि उनके यहाँ स्वास्थ्य विभाग से कोई चिकित्सक आता है या नहीं। उन्हें स्वास्थ्य विभाग से कोई सेवा मिली या नहीं। क्योंकि योगी सरकार बार-बार यह कह रही है कि होम आइसोलेशन के मरीजों को दवा का किट और जरूरतों के हिसाब से दवाएं देने का आदेश जारी किया गया। जबकि हकीकत यह है कि सीएमओ के यहाँ से जारी होने वाले आकड़ें बिल्कुल फेंक है। सिर्फ कागज पर तैयार किया गया यह आकड़ा सरकारी बजट में गोलमाल करके इसी आकड़ों को आधार बनाकर भुगतान कर लिया जाएगा। यह खेल विगत 13 माह से अनवरत चालू है यही स्वास्थ्य महकमें की असलियत है। भ्रष्टाचार के महारथियों को भ्रष्टाचार करते समय याद नहीं रह जाता कि इस धरती पर वही बुद्धिमान नहीं है जो सिर्फ भ्रष्टाचार करने का महारथ हासिल किया हो ! बल्कि वह भी बुद्धिमान होते हैं जो उनके भ्रष्टाचार को पकड़ कर उसकी जड़ में मट्ठा डालने का कार्य करते हैं

4 टिप्‍पणियां:

  1. ऐसे अधिकारी को तुरंत निलंबित कर दिया जाना चाहिए।

    जवाब देंहटाएं
  2. उत्तर
    1. शशि श्रीवास्तव ! अब वो रिटायर्ड हो चुकी है ! ये इतना कमीना और नीच है कि अपनी जन्म तिथि में भी जमकर हेरफेर किया ! सोचिये पत्नी सरकारी सर्विस में होते हुए रिटायर्ड हो जाये और पति सर्विस में बना रहे ! अभी तो लगभग 3 साल सर्विस बची हुई है ! यानि पत्नी से CMO प्रतापगढ़ कई साल बड़े हैं ! जबकि हकीकत में ऐसा नही होगा ! ये सिर्फ नौकरी अधिक दिन करने के लिए खेल खेला गया !

      हटाएं
  3. सबसे हरामजादा CMO आज तक यही बना है।

    जवाब देंहटाएं

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें