Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

सोमवार, 5 अप्रैल 2021

उत्तर प्रदेश एसटीएफ की पकड़ में आया प्रतापगढ़ जिले का सुपारी किलर

➤हरिप्रताप सिंह की हत्या करने की भी कोशिश कर चुका था,शातिर शोएब
➤वर्ष 2015में हरिप्रताप सिंह समझकर अमेठी के चिकित्सक डॉ. पी के सिंह की कर दी थी,हत्या
➤गजेहड़ा जंगल में रोडवेज बस रुकवाकर चुनमुन पाण्डेय की हत्या समेत कई मामलों में शामिल रहा,शोएब
➤भंगवा की चुंगी पुलिस चौकी के पास सिपाहियों को कुचलने का भी कर चुका था,प्रयास
➤मार्बल व्यवसायी राजेश सिंह की हत्या में भी पुलिस शोएब की भूमिका की कर रही,जांच

पुलिस की गिरफ्त में सुपारी किलर शोएब... 
एसटीएफ लखनउ के इंस्पेक्टर हेमंत भूषण सिंह का कहना है कि राजेश सिंह की हत्या में शोएब की भूमिका की जांच की जा रही है। शोएब एक शातिर बदमाश है जो रंगदारी और सुपारी के लिए चिकित्सक पी के सिंह और इलाहाबाद के डॉ. एके बंसल की हत्या में शामिल रहा है। प्रतापगढ़ पुलिस से एसटीएफ ने इसकी क्राइम हिस्ट्री मांगी है। हलांकि महामाया मार्बल के स्वामी राजेश सिंह की हत्या में सुपारी देने वाले को पुलिस ने बड़ी चालाकी से बाहर कर दिया जबकि मुंबई से सेटिंग करके अपनी गिरफ्तारी देने वाला अतीक जब पुलिस गिरफ्त में आया तो प्रतापगढ़ पुलिस उसे यहाँ ले आई और कोतवाली नगर में तत्कालीन इंस्पेक्टर रवींद्र श्रीवास्तव ने मृतक राजेश सिंह के बड़े भाई अजीत सिंह को बुलाकर उनके सामने अतीक का बयान लिया था और अतीक ने माना था कि राजस्थान मार्बल के मालिक हरि गौरव ने राजेश सिंह की सुपारी दी थी,फिर भी पुलिस ने विवेचना में सुपारी देने वाले हरि गौरव का नाम निकाल दिया...

 

प्रतापगढ़ का सुपारी किलर शोएब...

लखनऊ। उत्तर प्रदेश एसटीएफ की पकड़ में आया यूपी के प्रतापगढ़ जिले सुपारी किलर बेहद शातिर है। शोएब पर हत्या के कई मामले (Criminal History of Shoaib) दर्ज हैं। 5 अप्रैल 2021 को उसे एसटीएफ ने प्रयागराज के जीवन ज्योति अस्पताल के संचालक डॉ. अश्वनी कुमार बंसल हत्याकांड में गिरफ्तार किया है। पूछताछ में पता चला कि वह प्रतापगढ़ जिले के एक इंटर कॉलेज से पढ़ाई के बाद राजस्थान के कोटा शहर में नीट की तैयारी के लिए गया था। लेकिन मन नहीं लगा तो जल्द ही वापस प्रतापगढ़ लौट आया। यहां यासिर, जावेद उर्फ जब्बा और मकसूद उर्फ जैद के साथ अपना गैंग बना लिया। इस गैंग का नाम दिया फ्रैक्चर गैंग। इसी गैंग के रंगदारी मांगते थे।

सुपारी किलर शोएब पर चिकित्सक सहित तीन लोगों की हत्या और पुलिस कर्मियों को कुचलने के प्रयास का मुकदमा दर्ज है। वह पुलिसकर्मियों को कुचलने के मामले में दो साल से फरार चल रहा था। उस पर 50 हजार का इनाम घोषित था। प्रतापगढ़ शहर के नगर कोतवाली क्षेत्र के आजाद नगर मोहल्ले का रहने वाला शोएब पुत्र मुकीम का घर एसपी आवास के पीछे है सुपारी किलर शोएब का सम्बन्ध प्रतापगढ़ के शातिर बदमाशों से रहा जनपद के शातिर बदमाशों में नामचीन यासिर, तौकीर और जावेद उर्फ जब्बा का साथी है,शोएब। शोएब ने वर्चस्व को लेकर यासिर के साथ वर्ष-2015 में मानधाता थाना क्षेत्र के गंजेहड़ा के पास बस को रुकवाकर चुनमुन पांडेय को गोलियों से भून दिया था। वर्ष-2015 में ही चिलबिला बाईपास रेलवे क्रासिंग के पास अमेठी के चिकित्सक डॉ. पी के सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी थी। उनकी हत्या हरिप्रताप सिंह समझकर की थी।

पैसे के बंटवारे को लेकर वर्ष-2017 में नगर कोतवाली के बिहारगंज के पास अपने साथी यासिर की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस बीच 28 अगस्त, 2018 को चेकिंग के दौरान भगवा चुंगी चौराहे पर रोकने पर शोएब और उसके साथी जावेद जब्बा, सीबू और मुअज्जम के साथ चार पहिया वाहन से सिपाहियों को कुचलने का प्रयास किया था। इस घटना में पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। उस 50 हजार का इनाम घोषित हुआ था। वर्ष-2018 में 23 जनवरी को सदर बाजार मोहल्ले में मार्बल व्यवसायी राजेश सिंह की हत्या में भी पुलिस उसकी भूमिका की जांच कर रही है। राजेश की हत्या में पकड़े गए अंसार और अतीक के बयान पर पुलिस ने दावा किया था कि राजेश सिंह की हत्या की सुपारी पांच लाख रुपये में तौकीर ने ली थी और यह सुपारी शोएब के माध्यम से ली गई थी। हालांकि पुलिस ने अभी तक राजेश की हत्या में शोएब का नाम सामने नहीं लाया था।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें