Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

सोमवार, 5 अप्रैल 2021

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण से असमंजस में राज्य सरकारें

सरकार द्वारा उल्टे-सीधे निर्णय लेने से जनता में उपज रहा है,असंतोष...!!!

कोरोना वायरस संक्रमण से देश में बचाव के लिए अपनाई जा रही है,दोहरी नीति... 

कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार से सरकारें फिर अनाप सनाप तुगलकी निर्णय जनता पर थोप रही हैं। शाम 8 बजे से सुबह 7 बजे कोरोना वायरस पुलिस की जगह वही गश्त करेगा। सो राज्य सरकारों द्वारा नाईट कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया जा रहा है। सुबह 7 बजे से शाम 8 बजे तक कोरोना वायरस खाकर पीकर आराम करेगा।

इस निर्णय से तो यही समझ में आता है। चूँकि दिन में सबकुछ ओपेन। हर जगह भीड़ ही भीड़। चुनावी जनसभाएं में तो कोरोना वायरस से राजनीतिक दलों ने समझौता तक कर रखा है। वहाँ कोरोना वायरस जाएगा ही नहीं। सो वहाँ चाहे जितनी भीड़ राजनीतिक दल करें कोई फर्क नहीं पड़ने वाला।

गजब का तमाशा कोरोना संक्रमण काल में देखने को मिल रहा है। ऐसा तमाशा तो किसी ड्रामा में भी देखने को नहीं मिलता। दिक्कत तो सिर्फ बच्चों के स्कूलों के संचालन से है। पंजाबी मार्केट, सब्जी मंडी, गल्ला मंडी, बड़े-बड़े मॉल में जो भीड़ हो रही है,उसमें कोरोना वायरस का प्रवेश वर्जित है। ऐसा इसलिये कहना और सोचना पड़ रहा है कि वहाँ का नियम अलग और स्कूल और कॉलेज में पठन पाठन के लिए अलग नियम लागू किये जा रहे हैं

उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव के नामांकन की प्रक्रिया चल रही है। नामांकन प्रपत्र लेने और उसकी प्रक्रिया को पूरा करने के लिए बैंक से लेकर NOC लेने में जितनी मशक्कत करनी पड़ रही है वह तो वही जाने जो कर रहा है। परन्तु सारी ब्यवस्था ध्वस्त नजर आ रही है। इतनी लंबी लाइन देखते ही बन रहा है। न दो गज की दूरी का पालन किया जा रहा है और न ही मास्क कोई मास्क लगा रहा है। सेनेटाइजर की बात करना ही ब्यर्थ है

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें