Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

बुधवार, 17 मार्च 2021

भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष जवाहर लाल श्रीवास्तव का कारनामा

नियंत्रक प्राधिकारी, विनियमित क्षेत्र, प्रतापगढ़ से अधिवक्ता राजकुमार पाण्डेय और अरविंद पाण्डेय ने दर्ज कराई शिकायत...!!!

नगर क्षेत्र में भाजपा नेता कम कीमत की अपनी जमीन से सरकार की करोड़ों रुपये नवीन परती की जमीन को करा लिया विनमय...!!!

भूमाफियाओं के चंगुल में प्रतापगढ़ में रहते हैं,राजस्व अधिकारी एवं कर्मचारी l राजस्व विभाग के उच्चाधिकारियों से शिकायत करने पर भी नहीं बनती कोई बात l नीचे से ऊपर फैला है,भ्रष्टाचार...!!!

भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष जवाहर लाल श्रीवास्तव जी द्वारा निर्माणाधीन मैरिज हाल....

चिलबिला में भी ग्राम सभा अधिवक्ता और निवर्तमान ग्राम प्रधान और भूमाफियाओं ने करोड़ों रूपये की भूमि का दो वर्ष पहले तत्कालीन एसडीएम सदर विनीत उपाध्याय द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग की करोड़ों रुपये की जमीन का कराया गया नियम विरुद्ध तरीके से विनमय l

राजस्व अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा प्रतापगढ़ में जिला मुख्यालय पर सरकार को लगाया जा रहा करोड़ों रूपये का चूना l नियम विरुद्ध तरीका अपनाकर प्रतापगढ़ में राजस्व अधिकारियों द्वारा अपनी ही वेशकीमती जमीन से कम कीमत की जमीन का कर दिया है,अदला बदली l

नगरपालिका परिषद् बेला प्रतापगढ़ क्षेत्र अंतर्गत मोहल्ला अचलपुर, राजस्व अभिलेखों कादीपुर परगना व तहसील सदर के जेलरोड़ से कादीपुर रोड़ पर बिना मानचित्र स्वीकृत कराए ही भाजपा नेता द्वारा मैरिज हाल का कराया जा रहा है,निर्माण l

प्रतापगढ़ l कोतवाली नगर के जेलरोड़ तिराहा से कादीपुर रोड़ पर पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष जवाहर लाल श्रीवास्तव एक मैरिज हाल का निर्माण बिना मानचित्र स्वीकृत कराए ही करा रहे हैं, जबकि जिस भूमि में मैरिज हाल का निर्माण कार्य कराया जा रहा है, वह जमीन राजस्व अभिलेख के आकार पत्र 41 एवं आकार पत्र 45 में नवीन परती गाटा संख्या-564 आज भी दर्ज है l

तत्कालीन उप जिला धिकारी सदर प्रतापगढ़ द्वारा अचलपुर के निवासी जवाहर लाल श्रीवास्तव अपने उस जमीन का विनमय नवीन परती भूमि गाटा संख्या-564 का करा लिया, जो उससे कई गुना वेशकीमती रही l जवाहर लाल श्रीवास्तव बहुत ही चालाकी के साथ तत्कालीन एसडीएम सदर सत्य नारायण श्रीवास्तव से अपनी भूमि गाटा संख्या- 295 जो बस्ती के अन्दर स्थित है और मेनरोड़ से दूर है, का विनमय कराने में सफल रहे l जबकि गाटा संख्या- 295 में आज की तिथि में राजस्व अभिलेख में जवाहर लाल श्रीवास्तव का नाम दर्ज है और उस भूमि पर उनका कब्जा भी बरकरार है l

इस तरह से सरकार की करोड़ों रुपये की वेशकीमती जमीन का विनमय तत्कालीन एसडीएम सदर सत्य नारायण श्रीवास्तव ने बिना सोचे समझे कर दिया l शिकायत कर्ताओं का आरोप है कि उनकी भूमि भी वहीं बगल स्थित है, जिसकी गाटा संख्या-560 और रकबा 1 विस्वा 19 धूर है l शिकायत कर्ताओं के दावे के अनुसार वर्ष-1993 में उन लोंगो ने बैनामा लिया और उस पर आज भी काबिज दखील हैं l शिकायत कर्ताओं द्वारा उक्त विनमय का वाजदयरा देते हुए उसमें आपत्ति की गई, जिसे तत्कालीन एसडीएम सदर ज्वाला प्रसाद तिवारी खारिज कर दिए l वर्तमान में माननीय मंडलायुक्त महोदय प्रयागराज की कोर्ट में वाद संख्या- 52/2000 निगरानी के तहत प्रचलित है और अगली सुनवाई में 30 मार्च, 2021 को नियत है l

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें