Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

रविवार, 28 मार्च 2021

भाई ने ही कराई थी भाई की हत्या

सदर विधायक के चाचा राजमिस्त्री रामपाल पाल के ब्लाइंड मर्डर केस का प्रतापगढ़ पुलिस ने किया सफल अनावरण...

कोतवाली नगर के ग्राम पूरे ईश्वर नाथ में हुए राजमिस्त्री रामपाल की हत्या में चार अभियुक्त गिरफ्तार, आलाकत्ल पिस्टल व घटना में प्रयुक्त मोटर साइकिल भी हुई बरामद... 

हत्या और बलात्कार सरीखे अपराध कभी खत्म नहीं होंगे ऐसा हम नहीं कहते बल्कि ऐसा कानून के रखवाले और कानून बनाने वाले माननीय कहते हैं  विशेषरूप से वो माननीय जो सत्ताधारी होते हैं एक भाई अपने सगे भाई की हत्या महज इसलिए कर देने की प्रतिज्ञा कर लेता है कि वह झाड़ -फूंक करके उसके नवजवान बेटे की जान ले ली ऐसा उसे यकीन कराया गया !साथ ही यह भी भरोसा दिलाया गया कि यदि वह अपने भाई का रास्ते से नहीं हटाता तो वह दिन दूर नहीं जब उसका दूसरा बेटा और वह स्वयं भी मर जाएगा ऐसा उसका भाई रामपाल पाल झाड़-फूंक करके कर सकता है बस यही पाप एक भाई, अपने सगे भाई को मारने के लिए शार्प शूटरों को सुपारी देकर उसे मरवा देता है और बड़ी चालाकी से समाज में वादी मुकदमा बन जाता है और न्याय की माँग करने लगता है 

प्रेस कॉन्फ्रेंस में नवागन्तुक SPआकाश तोमर ने बताया कि भाई ने भाई की कराई हत्या...

सदर विधायक राजकुमार पाल को मौका मिला और वह मुख्यमंत्री तक से जा मिले और अपनी भी सुरक्षा के लिए चिंता जताई विधायक सदर इसी बहाने अपनी सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम करना चाहते थे साथ ही शस्त्र लाइसेंस भी बनवाने के लिए सारी योजना बना लिए थे,परन्तु जब पता चला कि उनके एक चाचा की हत्या उनके दूसरे चाचा के द्वारा हुई तो उनकी सारी योजना फेल हो गई फिलहाल पुलिस को चाहिए कि जिस ब्यक्ति ने रामपाल पाल की हत्या के लिए उसके सगे भाई को उकसाया कि वह झाड़-फूंक कर उसके लड़के को मारा है और अब तुम्हारा नंबर है ! ऐसे ब्यक्तियों को भी चिन्हित करने की आवश्यकता है ताकि दूसरी घटना ऐसी न हो सके...

 

पुलिस अधीक्षक प्रतापगढ़ के कुशल निर्देशन में अपराध एवं सक्रिय अपराधियों के विरूद्ध चलाये जा रहे अभियान के क्रम में थाना कोतवाली नगर पुलिस व स्वाट टीम प्रतापगढ़ को थानाक्षेत्र कोतवाली नगर के ग्राम पूरे ईश्वर नाथ में दिनांक 21.03.2021 को एक व्यक्ति रामपाल का हुए ब्लाइंड मर्डर केस का सफल अनावरण कर चार अभियुक्तों को गिरफ्तार करने तथा घटना प्रयुक्त वाहन एवं अवैध पिस्टल बरामद करने में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई है। पुलिस को यह सफलता बहुत पहले मिल गई होती,परन्तु इस केस का तार माननीय विधायकों से जुड़ा रहा सो पुलिस भी बिना कोई गलती किये पूरे साक्ष्य और सबूतों के एकत्र करने के बाद ही हत्या में शामिल आरोपियों पर हाथ डाला और जब चारों एक साथ पुलिस के सामने आये तो सत्य से पर्दा स्वयं उठाकर हकीकत बयां कर मामले का पटाक्षेप कर दिया 


घटना का संक्षिप्त विवरण-


रविवार दिनांक 21.03.2021 को शाम थानाक्षेत्र कोतवाली नगर के ग्राम पूरे ईश्वरनाथ में एक व्यक्ति रामपाल पुत्र बुद्धिराम पाल नि0 पूरे ईश्वरनाथ थाना कोतवाली नगर जनपद प्रतापगढ़ को 02 अज्ञात व्यक्तियों द्वारा गोली मार कर हत्या कर दी गयी थी। इस सम्बन्ध में मृतक रामपाल के छोटे भाई ईश्वरदीन पाल उर्फ नन्हें पाल के तहरीर पर मु0अ0सं0- 254/21 धारा 302 भादवि का अभियोग पंजीकृत किया गया था। उक्त प्रकरण सदर विधायक   राजकुमार पाल के परिवार से जुड़ा होने के कारण अत्यधिक चर्चित रहा है। उक्त घटना के अनावरण हेतु जनपद की विभिन्न टीमें लगाई गई थीं। क्षेत्राधिकारी नगर, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नगर तथा स्वाट एवं सर्विलांस प्रभारी की टीमों द्वारा निरन्तर सुरागरसी पतारसी, पुलिस सूत्रों से पूछताछ एवं इलेक्ट्रानिक साक्ष्यों की समीक्षा एवं विश्लेषण से उक्त ब्लाइण्ड मर्डर केस का अल्प समय में सफल अनावरण करने में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई है। 


शूटरों के माध्यम से वारदात को दिया गया था,अंजाम...

गिरफ्तार अभियुक्तों का विवरण-


01. ईश्वरदीन पाल उर्फ नन्हें पाल उर्फ पप्पू (वादी मुकदमा) पुत्र बुद्धिराम पाल नि0 पूरे ईश्वरनाथ थाना कोतवाली नगर जनपद प्रतापगढ़़।

02. नन्दलाल यादव उर्फ बेदी यादव पुत्र योगेन्द्र यादव नि0 पूरे अन्ती थाना अन्तू जनपद प्रतापगढ़।

03. अफसर पुत्र अनीस नि0 मुर्गी फार्म, काशीराम कालोनी, मीराभवन थाना कोतवाली नगर जनपद प्रतापगढ़।

04. हरिश्चन्द्र यादव पुत्र योगेन्द्र यादव नि0 पूरे अन्ती थाना अन्तू जनपद प्रतापगढ़। 


बरामदगी-


01. घटना में प्रयुक्त एक अदद पिस्टल .32 बोर। 

02. घटना में प्रयुक्त एक अदद हीरो करिज्मा मोटर साइकिल नं0- यूपी 72 डब्लू 2701।

03. एक अदद हीरा स्प्लेण्डर प्लस मोटर साइकिल नं0- यूपी 73 एच 2284।

पुलिस अधीक्षक प्रतापगढ़ द्वारा मुकदमा उपरोक्त से सम्बन्धित अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु दिये गये कड़े निर्देश के क्रम में अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी श्री सुरेन्द्र प्रसाद द्विवेदी व क्षेत्राधिकारी नगर श्री अभय कुमार पाण्डेय के निकट पर्यवेक्षण में पुलिस की कई टीमें गठित कर अभियोग के अनावरण व अभियुक्तों की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा था। इसी क्रम में दिनांक 28.03.2021 को थाना कोतवाली नगर के प्रभारी निरीक्षक रवीन्द्र नाथ राय मय हमराह व प्रभारी स्वाट टीम उ0नि0 प्रमोद कुमार सिंह मय स्वाट टीम द्वारा मुखबिर खास की सूचना पर चेकिंग के दौरान उक्त अभियोग से सम्बन्धित 04 अभियुक्त ईश्वरदीन उर्फ नन्हे उर्फ पप्पू, नन्दलाल यादव, हरिश्चन्द्र यादव व अफसर उपरोक्त को थानाक्षेत्र कोतवाली नगर के छत्ता का पुरवा के पास से गिरफ्तार किया गया।


पूछतांछ का विवरण-


पुलिस द्वारा की गई सघन जांच से यह तथ्य प्रकाश में आया कि ईश्वरदीन उर्फ नन्हें उर्फ पप्पू पाल (वादी मुकदमा) द्वारा ही उक्त घटना को शूटरों के माध्यम से अंजाम दिलाया गया है। ईश्वरदीन ने पूछताछ में बताया कि उसका बड़ा भाई रामपाल (मृतक) ने उसका जीना दूभर कर दिया था। झाड़-फूंक कराकर 02 वर्ष पहले उसने मेरे 18 वर्षीय बड़े लड़के को मरवा दिया था। मेरे लड़के की मौत के बाद उसने अपने घर में मुर्गा दारू की पार्टी भी दिया था। मेरा छोटा लड़का भी उसके तन्त्र-मन्त्र के कारण बीमार रहता है। मुझे ज्ञात हुआ था कि मेरा बड़ा भाई मुझे व मेरे लड़के को भी मारना चाहता है।


इसी कारण मैनें अपनी परेशानी नन्दलाल यादव उर्फ बेदी यादव को बताई थी। नन्दलाल यादव उर्फ बेदी यादव कचहरी में एक रिटायर्ड लेखपाल के पास मुंशी का काम करता है, कचहरी आते-जाते मेरा उससे परिचय हुआ था। नन्दलाल यादव उर्फ बेदी यादव ने रामपाल को रास्ते से हटाने के लिए 1,50,000/- रू0 में शूटर से काम कराने की बात कही थी। इस योजना को नन्दलाल यादव उर्फ बेदी यादव ने अपने भाई हरिश्चन्द्र यादव को अवगत कराते हुए उससे अवैध पिस्टल ली थी और भाड़े के 02 शूटरों (अफसर व उसका एक साथी) को 50-50 हजार रु0 देने के एवज हत्या करने की बात कही थी। इसमें से 35,000/- रू0 मैनं घटना के 04 दिन पहले नन्दलाल उर्फ बेदी यादव को दिया था तथा घटना के बाद कल दिनांक 27.03.2021 को पुनः 10,000/- रू0 कचहरी प्रतापगढ़ में दिया था, शेष रूपया बाद मे देने को कहा था। 


गिरफ्तार अभियुक्त नन्दलाल यादव उर्फ बेदी यादव पुत्र योगेन्द्र यादव नि0 ग्राम पूरे अन्ती थाना अन्तू जनपद प्रतापगढ़ ने पूछताछ में बताया कि ईश्वरदीन पाल अक्सर कचहरी आते जाते थे जहां से मेरा इनका परिचय हुआ था। उसके बड़े लड़के की मृत्यु हो जाने व छोटे लड़के के बीमार होने की बात बताया था और वह अपने भाई रामपाल को रास्ते से हटाना चाहता था। मैंने उसे बताया कि शूटरों से काम कराने में डेढ़ लाख रू0 खर्च होंगे और वह तैयार हो गया था। मैंने अफसर व उसका एक अन्य साथी को काम सौंपा था। शूटरों ने घटना को अंजाम दिया था, घटना में प्रयुक्त पिस्टल मैने दिया था। घटना में प्रयुक्त मोटर साइकिल अफसर की थी। घटना के लगभग 04 दिन पहले अफसर को 35,000/- रू0 दिया था, काम होने के बाद शनिवार दिनांक 27.03.2021 को ईश्वरदीन ने पुनः 10,000/- रू0 दिया था और कहा था बाकी रूपया जल्द ही दे दूंगा।


गिरफ्तार अभियुक्त अफसर पुत्र मो0 अनीस उम्र 21 वर्ष नि0 मकान नं0- 104, मुर्गी फार्म काशीराम कालोनी मीरा भवन के पास थाना को0नगर जनपद प्रतापगढ़ ने पूछने पर बताया कि रामपाल को मारने के लिए घटना से 04 दिन पहले नन्दलाल यादव उर्फ बेदी यादव पुत्र योगेन्द्र यादव नि0 पूरे अन्ती थाना अन्तू जनपद प्रतापगढ़ ने  1,50,000/-रु0 की सुपारी दिया था। घटना के दिन दिनांक 21.03.21021 को बस अड्डे के पास देशी शराब के ठेके पर रामपाल के आने की जानकारी थी। ठेके के पास चाय की दुकान पर सायं 07ः00 बजे से ही बैठ कर उसका इन्तजार हमलोग कर रहे थे। रामपाल जब मोटर साइकिल से एक आदमी (संत लाल विश्वकर्मा) के साथ अपने घर पूरे ईश्वरनाथ की तरफ जा रहा था तब मैंने उसका पीछा कर लिया। मेरे साथ मेरा एक अन्य साथी था। हमलोग हीरो कम्पनी की काली-लाल करिश्मा मोटर साइकिल पर सवार थे। जैसे ही रामपाल अपने गांव के पास पहुंचा, तब चकरोड के पास उसने मोटर साइकिल रोक दिया था हमलोग आगे पहुंच गये। मैंने पिस्टल निकालकर रामपाल के सिर में गोली मार दिया था। उसी रास्ते से मै अपने साथी के साथ वापस चला आया था। घटना करने के लिए नन्दलाल यादव उर्फ बेदी यादव ने पिस्टल तथा 04 राउण्ड गोली दिया था। 


पुलिस टीम- 


प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नगर श्री रवीन्द्र नाथ राय, उ0नि0 कमलेश कुमार पाण्डेय, उ0नि0 विवेक मिश्रा, उ0नि0 मिथिलेश चौरसिया, आरक्षी अमित यादव, आरक्षी पंकज यादव व आरक्षी सोनबीर थाना कोतवाली नगर जनपद प्रतापगढ़।

स्वाट टीम प्रभारी उ0नि0 प्रमोद कुमार सिंह, मु0आ0 तहसीलदार तिवारी, मु0आ0 जाहिद खान, मु0आ0 पंकज दुबे, आरक्षी प्रवीण कुमार, आरक्षी अरविन्द दूबे, आरक्षी जागिर सिंह, आरक्षी राजेन्द्र कुमार व आरक्षी सत्यम यादव स्वाट टीम प्रतापगढ़।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें