Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

शुक्रवार, 19 फ़रवरी 2021

गल्ला व्यवसाई अमरजीत चौरसिया से हुई लूट का पुलिस ने किया खुलासा

राइस मिल व्यापारी के साथ दिनांक 13जनवरी को हुए 15लाख,90हजार रूपये के लूटकाण्ड का पुलिस ने किया अनावरण, लुटेरे गैंग का पर्दाफाश, 06अभियुक्त गिरफ्तार...

गल्ला व्यवसाई अमरजीत चौरसिया ने पुलिस अधीक्षक प्रतापगढ़ शिव हरी मीणा एवं उनकी पूरी टीम को लूट के सफल अनावरण किये जाने पर धन्यवाद ज्ञापित करते हुए उनका आभार प्रकट किया...

SPप्रतापगढ़ द्वारा गल्ला व्यवसाई अमरजीत चौरसिया से हुई लूट का किया गया खुलासा...

लूट के लगभग 06 लाख, 78 हजार, 400 रु0, (678400/-रु0) 01 अदद पिस्टल, 02 जिन्दा कारतूस .32 बोर, एक अदद तमंचा .303 बोर व 02 अदद जिन्दा कारतूस .303 बोर, घटना में प्रयुक्त 02 अदद मोटर साइकिल, 01 अदद मारुती अर्टिगा कार बरामद कर जनता में कोतवाली नगर के श्याम बिहारी गली की डकैती की घटना का अनावरण के बाद इस खुलासे से पुलिस के प्रति खोये हुए विश्वास को फिर से स्थापित करने के प्रति दृढ़ता दिखने का प्रयास किया है...

 

नवागंतुक पुलिस अधीक्षक शिव हरी मीणा के सुल्तानपुर से प्रतापगढ़ की कमान संभालते ही अपराधियों ने उन्हें चुनौती पर चुनौती देने लगे। पहले गोली दागकर आते ही सलामी दिए और लूट की घटना को अंजाम दिए फिर कोतवाली नगर के श्याम बिहारी गली में 7जनवरी को सुबह-सुबह 90लाख की डकैती की घटना ने पुलिस अधीक्षक की बोलती बंद कर दी थी। अभी 90लाख की डकैती के लिए अपरधियों पर शिकंजा कसने की रणनीति तैयार हो रही थी कि पट्टी में आभूषण कारोबारी दो भाईयों को दूकान बंद कर घर जाते समय 10लाख रूपये की लूट और एक भाई की गोली मारकर हत्या हो जाने से पुलिस विभाग के होश उड़ गए। उनके पास जनता को समझाने के लिए शब्द नहीं बचे

अपर पुलिस महानिदेशक प्रयागराज जोन प्रेम प्रकाश और पुलिस महानिरीक्षक कवीन्द्र प्रताप सिंह को प्रतापगढ़ आकर कैम्प तक करने पड़े। परन्तु पुलिस अधीक्षक प्रतापगढ़ शिव हरी मीणा ने प्रतापगढ़ की जनता को भरोसा दिलाया था कि अपराधियों को वो किसी भी दशा में छोड़ने वाले नहीं हैं। वादे के मुताविक दो बड़ी घटनाओं का खुलासा करके पुलिस अधीक्षक प्रतापगढ़ जनता में अपना विश्वास बनाने में सफल रहे। अब तीसरी बड़ी घटना पट्टी वाली का अनावरण होना शेष है। सबसे संतोषजनक बात यह रही कि जो खुलासा पुलिस अधीक्षक प्रतापगढ़ शिव हरी मीणा ने किया उस पर जिनके यहाँ घटना घटित हुई थी वो भी संतुष्ट नजर आये और प्रतापगढ़ की जनता भी खुलासा से सहमत रही

मकरसंक्रांति से एक दिन पहले यानि तेरह जनवरी को सुबह लगभग 09ः00 बजे थानाक्षेत्र कंधई के मंगरौरा बाजार में गल्ला व्यवसायी अमरजीत चौरसिया पुत्र हरिराम चौरसिया निवासी शिवजीपुरम कटरा रोड़, थाना कोतवाली नगर, जनपद प्रतापगढ़ की मंगरौरा बाजार में स्थित आफिस से प्रेवश करते समय 02 मोटर साइकिल सवार अज्ञात अभियुक्तों द्वारा लूट को अंजाम दिया गया था। जिस सम्बन्ध में थाना कंधई में मु0अ0सं0- 18/21 धारा 392, 286 भादवि का अभियोग पंजीकृत किया गया था। मजेदार बात यह रही कि कोतवाली नगर के श्याम बिहारी गली की घटना और कंधई थाना के मंगरौरा बाजार में गल्ला व्यवसायी अमरजीत चौरसिया के साथ घटित घटना का समय अपरधियों ने सुबह का ही चुना था

गल्ला व्यवसाई अमरजीत चौरसिया...

प्रतापगढ़ पुलिस अधीक्षक शिव हरी मीणा के कुशल निर्देशन में अपराध एवं अपराधियों के विरुद्ध जनपद में चलाये जा रहे अभियान के क्रम में जनपद की स्वाट टीम व थाना कंधई पुलिस को चर्चित गल्ला व्यवसायी लूट काण्ड के 06 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लूट के लगभग 06 लाख, 78 हजार, 400 रु0, (678400/-रु0) 01 अदद पिस्टल, 02 जिन्दा कारतूस .32 बोर, एक अदद तमंचा .303 बोर व 02 अदद जिन्दा कारतूस .303 बोर, घटना में प्रयुक्त 02 अदद मोटर साइकिल, 01 अदद मारुती अर्टिगा कार बरामद करने में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई।

गिरफ्तार अभियुक्तों का विवरण-

01. मोनू चौरसिया (उम्र लगभग 24 वर्ष) पुत्र कमलेश चौरसिया नि0 रेड़ीगारापुर थाना पट्टी जनपद प्रतापगढ़।
02. कुलदीप चौरसिया (उम्र लगभग 22 वर्ष) पुत्र कमलेश चौरसिया नि0 रेड़ीगारापुर थाना पट्टी जनपद प्रतापगढ़।
03. शेखर चौरसिया (उम्र लगभग 23 वर्ष) पुत्र रामकेवल चौरसिया नि0 मंगरौरा थाना कंधई जनपद प्रतापगढ़।
04. राजेश उर्फ जज्जे तिवारी (उम्र लगभग 28 वर्ष) पुत्र सुरेश तिवारी नि0 अकारीपुर तिवरान थाना आसपुर देवसरा जनपद प्रतापगढ़।
05. सोनू चौरसिया पुत्र कमलेश चौरसिया नि0 रेड़ीगारापुर थाना पट्टी जनपद प्रतापगढ़।
06. कमलेश चौरसिया पुत्र रामहरि चौरसिया नि0 रेड़ीगारापुर थाना पट्टी जनपद प्रतापगढ़।

बरामदगी-

01. लूट के लगभग 06 लाख 78 हजार 400 रु0, (678400/-रु0)
02. 01 अदद पिस्टल, 02 जिन्दा कारतूस .32 बोर,
03. एक अदद तमंचा .303 बोर व 02 अदद जिन्दा कारतूस .303 बोर,
04. घटना में प्रयुक्त 02 अदद मोटर साइकिल,
05. 01 अदद मारुती अर्टिगा कार नं0 यूपी 16 ए यस 2316 बरामद

पुलिस अधीक्षक प्रतापगढ़ शिवहरी मीणा द्वारा उक्त घटना के अनावरण हेतु पुलिस टीमें गठित कर लगातार साक्ष्य संकलन/सम्भावित स्थानों पर दबिश/चेकिंग कराई जा रही थी। आज सुबह लगभग समय 07ः00 बजे थाना कंधई एवं स्वाट टीम के द्वारा मुखबिर की सूचना के आधार पर संयुक्त रुप से चेकिंग की जा रही थी। दौराने चेकिंग थानाक्षे कंधई के ताला मोड़ पर एक अर्टिगा कार में सवार 04 अभियुक्त गिरफ्तार हुए। अभियुक्तों के कब्जे से लूट के लगभग 06 लाख 78 हजार 400 रु0, (678400/-रु0) 01 अदद पिस्टल, 02 जिन्दा कारतूस .32 बोर, एक अदद तमंचा .303 बोर व 02 अदद जिन्दा कारतूस .303 बोर भी बरामद हुआ।
पूछताछ के आधार पर लूट में प्रयुक्त 02मोटर साइकिलें (01पल्सर व 01प्लेटिना मोटर साइकिल) की गई बरामद...

उक्त अभियुक्तों से पूछताछ में यह तथ्य प्रकाश में आया कि अभियुक्त मोनू चौरसिया तथा उसका भाई कुलदीप चौरसिया ग्राम रेड़ीगारापुर, थाना- पट्टी, जनपद प्रतापगढ़ के निवासी हैं। इनके मौसी का घर कस्बा मंगरौरा में स्थित है। मोनू चौरसिया तथा कुलदीप चौरसिया का अपने मौसा रामकेवल चौरसिया निवासी मंगरौरा के यहां आना-जाना है। दिसम्बर, 2020 में रामकेवल चौरसिया के लड़के की शादी में मोनू चौरसिया तथा कुलदीप चौरसिया ने अपने मौसी के लड़के शेखर चौरसिया के साथ यह पता कर लिया था कि अमरजीत चौरसिया के पास काफी पैसा है तथा प्रतिदिन वह प्रतापगढ़ से अपने मंगरौरा आफिस में काफी रुपया लेकर आते हैं।

मोनू चौरसिया, कुलदीप चौरसिया तथा शेखर चौरसियाया ने अमरजीत चौरसिया को लूटने की योजना बनायी। अपनी इस योजना में अपने एक अन्य साथी को शामिल किया तथा राजेश उर्फ जज्जे तिवारी को अपनी योजना के बारे में बताते हुए असलहा भी उपलब्ध कराने को कहा। राजेश उर्फ जज्जे तिवारी ने पिस्टल उपलब्ध कराया। मोनू चौरसिया, कुलदीप चौरसिया, शेखर चौरसिया तथा एक अन्य साथी कई दिनों से लूट की घटना करने की फिराक में थे, परन्तु किन्हीं कारणों से सफल नहीं हो पा रहे थे।

अन्ततः दिनांक 13.01.2021 को मोनू चौरसिया तथा शेखर चौरसिया प्लेटिना पर सवार होकर रास्ते में रैकी की जा रही थी। ज्यों ही अमरजीत चौरसिया की गाड़ी मदाफरपुर क्रास किया, त्यो ही इन लोगों ने मंगरौरा में पल्सर मोटर साइकिल पर सवार पहले से मौजूद कुलदीप चौरसिया व एक अन्य साथी को सूचना दिया। अमरजीत चौरसिया के अपने आफिस पर पहुंचने पर अमरजीत चौरसिया लघुशंका करने गाड़ी से बाहर निकल गये तथा उनका ड्राइवर रुपयों का बैग लेकर आफिस की ओर सीढ़ियों पर चढ़ने लगा उसी समय वहां पहले से मौजूद कुलदीप चौरसिया तथा उसका एक अन्य साथी ने रुपयों से भरा बैग छीन लिया तथा फायरिंग करते हुए मौके से भाग गये थे।

अभियुक्तों से पूछताछ के आधार पर घटना में प्रयुक्त दोनों मोटर साइकिलों को मोनू चौरसिया के घर से बरामद कर लिया गया। लूट की घटना में बैग व कागजों को अभियुक्तों द्वारा जला दिया गया था। उस स्थान की मिट्टी नमूने में ली गयी है। उक्त घटना की योजना में शामिल, अभियुक्तों को शरण देने, लूट का माल छुपाने में तथा साक्ष्य मिटाने में निम्नलिखित अभियुक्त शामिल थे।

01-राजेश उर्फ जज्जे तिवारी (उम्र लगभग 28 वर्ष) पुत्र सुरेश तिवारी निवासी- अकारीपुर तिवरान, थाना-आसपुर देवसरा, जनपद प्रतापगढ़।
02- सोनू चौरसिया पुत्र कमलेश चौरसिया निवासी- रेड़ीगारापुर, थाना- पट्टी, जनपद प्रतापगढ़।
03- कमलेश चौरसिया पुत्र रामहरि चौरसिया निवासी- रेड़ीगारापुर, थाना पट्टी, जनपद प्रतापगढ़।

पुलिस टीम-

01. प्रभारी निरीक्षक नीरज बालिया थाना कंधई, प्रतापगढ़।
02. उ0नि0 महेन्द्र सिंह थाना कंधई, प्रतापगढ़।
03. उ0नि0 शैलेन्द्र कुमार तिवारी थाना कंधई, प्रतापगढ़।
04. आरक्षी अरुण कुमार थाना कंधई, प्रतापगढ़।
05. आरक्षी जय प्रकाश थाना कंधई, प्रतापगढ़।
06. आरक्षी द्रवेश कुमार थाना कंधई, प्रतापगढ़।
07. आरक्षी जितेन्द्र सिंह थाना कंधई, प्रतापगढ़।
08. का0 सनोज
09. का0 जागीर सिंह
10. का0 अरविन्द कुमार दूबे
11. का0 दिग्विजय सिंह
12. का0 अजय प्रकाश स्वाट टीम, प्रतापगढ़।
स्वाट टीम-

1- निरीक्षक मृत्युंजय कुमार मिश्रा प्रभारी।
2- निरीक्षक श्री संजय कुमार यादव।
3- उ0नि0 प्रमोद कुमार सिंह स्वाट टीम।
4- मु0आ0 सुरेश सिंह।
5- मु0आ0 जाहिद खान।
6- मु0आ0 महेन्द्र प्रताप।
7- मु0आ0 तहसीलदार तिवारी।
9- मु0आ0 पंकज दूबे।
10-मु0आ0 बिपिन बिहारी वर्मा।
11-का0 प्रवीण नैन।
12- का0 रवीन्द्र सिंह
13-का0 राजेन्द्र कुमार।
14- का0 सत्यम।
15- का0 चन्द्रगुप्त।

1 टिप्पणी:

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें