Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

बुधवार, 12 अगस्त 2020

हिन्दू यह सब देख रहा है...

साम्प्रदायिक आधार पर दंगाई हत्यारों के खुले समर्थन संरक्षण के इस राजनीतिक दोगलेपन को याद रखा जाएगा... सब याद रखा जाएगा...

 बंगलौर में दंगाई मुसलमानों की भीड़ ने दो पुलिस थानों के गेट पर ताला जड़कर उन थानों को आग लगा दी...

बंगलौर में दंगाई मुसलमानों की भीड़ ने दो पुलिस थानों के गेट पर ताला जड़कर उन थानों को आग लगा दी।बिल्कुल गोधरा कांड की तरह जिंदा जला देने का षड्यंत्र था। दंगाइयों ने सैकड़ों गाड़ियों को जलाकर राख कर दिया। एक विधायक की हत्या के उद्देश्य से उसके घर पर हमला कर के उसके घर को तहस नहस कर दिया है।अखंड श्रीनिवासमूर्ति नाम के जिस विधायक की हत्या करने के लिए उसके घर पर हमला कर के उसके घर को पूरी तरह तहस नहस किया गया है वो दलित है और कांग्रेस पार्टी का विधायक है। दंगाइयों से अपनी जान बचाकर वो जैसे तैसे वहां से भागने में सफल हुआ है।

लेकिन आप यह जानकर आश्चर्यचकित हो जाएंगे कि अपनी ही पार्टी के दलित विधायक के घर पर जानलेवा हमला करने वाले मुसलमान दंगाइयों के खिलाफ़ कांग्रेस चुप्पी साधे है। उसका नेता राहुल गांधी ट्विटर पर देश की सरकार और देश के प्रधानमंत्री को कोसने गरियाने में जुटा हुआ है, लेकिन बंगलौर में अपनी ही पार्टी के एक दलित विधायक के घर पर मुसलमान दंगाइयों के जानलेवा राक्षसी हमले और उन मुसलमान दंगाईयों के खिलाफ उसने एक ट्वीट नहीं किया है। उनके खिलाफ एक शब्द नहीं बोला है।

कांग्रेस की दूसरी बड़ी नेता, रॉबर्ट वाड्रा की बीबी प्रियंका वाड्रा भी ट्वीटर पर देश के प्रधानमंत्री और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को जमकर कोसने में जुटी हुई है। लेकिन बंगलौर में अपनी ही पार्टी के एक दलित विधायक के घर पर मुसलमान दंगाइयों के जानलेवा राक्षसी हमले और उन मुसलमान दंगाईयों के खिलाफ़ उसने एक ट्वीट नहीं किया है। उनके खिलाफ एक शब्द नहीं बोला है। यहां तक कि कांग्रेस पार्टी तक ने इस घटना पर श्मशानी चुप्पी साध ली है। हद तो यह है कि जिस कर्नाटक में यह घटना हुई है। उस कर्नाटक तक में प्रदेश कांग्रेस ने घटना को चिंताजनक बता कर लोगों से शांति बनाए रखने की अपील कर के चुप्पी साध ली है। अपनी ही पार्टी के एक दलित विधायक के घर पर मुसलमान दंगाइयों के जानलेवा राक्षसी हमले और उन मुसलमान दंगाईयों के खिलाफ़ उसने एक ट्वीट नहीं किया है। उनके खिलाफ एक शब्द नहीं बोला है।

ध्यान रहे कि इसी कांग्रेस का राहुल गांधी हैदराबाद में दलित होने का जाली सर्टिफिकेट बनाकर दलितों के हक पर डकैती डालने वाले जालसाज डकैत रोहित वेमुला की आत्महत्या के गम में मातम करने के लिए हाय दलित... हाय दलित चिल्लाते हुए... देश की सरकार और देश के प्रधानमंत्री को गरियाते कोसते हए हैदराबाद पहुंच गया था।हिन्दू यह सब देख रहा है... साम्प्रदायिक आधार पर दंगाई हत्यारों के खुले समर्थन संरक्षण के इस राजनीतिक दोगलेपन को याद रखा जाएगा... सब याद रखा जाएगा...
प्रस्तुति :- सतीश मिश्र...

1 टिप्पणी:

  1. Bahut hi bura bartaw Muslim samuday ne Kiya yaad rakha jayega........
    Jis desh ka khate hai usi ka nuksan kr rahe hai es trh Kam deshdroh hi......

    जवाब देंहटाएं

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें